ENGLISH HINDI Monday, January 21, 2019
Follow us on
काम की बातें

गुड़ खाने के फायदे

January 24, 2017 01:36 PM

1 > गुड़ खाने से नहीं होती गैस की दिक्कत.
2 > खाना खाने के बाद अक्सर मीठा खाने का मन करता हैं। इस के लिए सबसे बेहतर है कि आप गुड़ खाएं। गुड़ का सेवन करने से आप हेल्दी रह सकते हैं.
3 > पाचन क्रिया को सही रखना.
4 > गुड़ शरीर का रक्त साफ करता है और मेटाबॉल्जिम ठीक करता है। रोज एक गिलास पानी या दूध के साथ गुड़ का सेवन पेट को ठंडक देता है। इस से गैस की दिक्कत नहीं होती। जिन लोगों को गैस की परेशानी है, वो रोज़ लंच या डिनर के बाद थोड़ा गुड़ ज़रूर खाएं.
5 > गुड़ आयरन का मुख्य स्रोत है। इसलिए यह एनीमिया के मरीज़ों के लिए बहुत फायदेमंद है। खास तौर पर महिलाओं के लिए इस का सेवन बहुत अधिक ज़रूर है.
6 > त्वचा के लिए - गुड़ ब्लड से खराब टॉक्सिन दूर करता है, जिससे त्वचा दमकती है और मुहांसे की समस्या नहीं होती है.
7 > गुड़ की तासीर गर्म है, इसलिए इस का सेवन जुकाम और कफ से आराम दिलाता है। जुकाम के दौरान अगर आप कच्चा गुड़ नहीं खाना चाहते हैं तो चाय या लड्डू में भी इस का इस्तेमाल कर सकते हैं.
8 > एनर्जी के लिए - बुहत ज़्यादा थकान और कमजोरी महसूस करने पर गुड़ का सेवन करने से आप का एनर्जी लेवल बढ़ जाता है। गुड़ जल्दी पच जाता है, इस से शुगर का स्तर भी नहीं बढ़ता। दिन भर काम करने के बाद जब भी आप को थकान हो, तुरंत गुड़ खाएं. 9 > गुड़ शरीर के टेंपरेचर को नियंत्रित रखता है। इस में एंटी एलर्जिक तत्व हैं, इसलिए दमा के मरीज़ों के लिए इस का सेवन काफी फायदेमंद होता है.
10 > जोड़ों के दर्द में आराम - रोज़ गुड़ के एक टुकड़े के साथ अदरक का सेवन करें, इस से जोड़ों के दर्द की दिक्कत नहीं होगी.
11 > गुड़ के साथ पके चावल खाने से बैठा हुआ गला व आवाज खुल जाती है.
12 > गुड़ और काले तिल के लड्डू खाने से सर्दी में अस्थमा की परेशानी नहीं होती है.
13 > जुकाम जम गया हो, तो गुड़ पिघला कर उस की पपड़ी बना कर खिलाएं.
14 > गुड़ और घी मिलाकर खाने से कान का दर्द ठीक हो जाता है.
15 > भोजन के बाद गुड़ खा लेने से पेट में गैस नहीं बनती.
16 > पांच ग्राम सौंठ दस ग्राम गुड़ के साथ लेने से पीलिया रोग में लाभ होता है.
17 > गुड़ का हलवा खाने से स्मरण शक्ति बढती है.
18 > पांच ग्राम गुड़ को इतने ही सरसों के तेल में मिला कर खाने से श्वास रोग से छुटकारा मिलता है !

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें