हिमाचल प्रदेश

मौजूदा प्रदेश सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है : बिंदल

April 06, 2017 09:46 AM

शिमला, (विजयेन्दर शर्मा) प्रदेश भाजपा ने आज मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को आड़े हाथों लेते हुये कहा कि मौजूदा प्रदेश सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है अब सीएम को विधानसभा को भंग कर सरकार को नया जनादेश लेना चाहिए।
भाजपा प्रवक्ता राजीव बिंदल ने आज पत्रकारों को संबोधित करते हुये कहा कि अब प्रदेश में ऐसे हालात बन गए हैं कि विधानसभा के फिर से चुनाव करवाए जाएं। बीजेपी नेता राजीव बिंदल का कहना है कि आज कांग्रेस का राष्ट्रीय नेतृत्व इतना कमजोर और असहज हो गया है कि वह एक छोटे से राज्य के अपने दल के सीएम को लेकर कोई निर्णय नहीं ले पा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य की कांग्रेस सरकार वेंटीलेटर पर है और देश के नामी वकीलों के माध्यम से इस सरकार को ऑक्सीजन दी जा रही है।
बिंदल ने कहा कि सीएम वीरभद्र सिंह केवल मात्र अपनी गद्दी बचाने में लगे हैं और इस कार्य में पूरी सरकार झोंकी गई है। इससे प्रदेश की जनता का इस सरकार से विश्वास उठ गया है। सीएम वीरभद्र सिंह पर हमला बोलते हुए कहा कि वे केवल अपनी जिद पर अड़े हैं और इसके चलते राज्य में विकास ठप है और प्रदेश पर कर्ज का बोझ लगातार बढ़ता जा रहा है। उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह न हिमाचल के हित देख रहे हैं और न ही कांग्रेस के हित। वे केवल अपनी जिद पर अड़े हुए हैं और खुद को ही सही बता रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसी देश के किसी भी राज्य में नहीं हुआ कि चार्जशीट दाखिल होने के बाद उस राज्य का सीएम गद्दी पर रहा हो।
उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह की नजर में केवल वे ही सही हैं और बाकी सब, सीबीआई गलत, ईडी गलत है,आईटी विभाग गलत है और हाईकोर्ट भी गलत है। चौंकाने वाली बात यह है कि देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस, जिसने देश में 58 वर्ष राज किया है, वह आज दिवालिया हो गई है। उन्होंने कहा कि इस पार्टी का नेतृत्व असहज, अनिर्णायक, कमजोर हो गया है। उन्होंने जानना चाहा कि ऐसा क्या है कि कांग्रेस हाईकमान को कोई निर्णय लेने से रोक रहा है। उन्होंने कहा कि साढ़े चार वर्ष से राज्य की जनता इस सरकार को झेल रही है और यह सरकार वेंटीलेटर पर है। देश के नामी वकील करोड़ों रुपए फीस लेकर इस सरकार को ऑक्सीजन देने का प्रयास कर रहे हैं।
डॉ बिंदल ने कहा कि सीएम केवल अपनी कुर्सी बचाने में लगे हैं और सरकार के नीली बत्ती वाले निगम-बोर्डों के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष केवल बीजेपी के खिलाफ बोल रहे हैं। वहीं कांग्रेस का दूसरा गुट इस जुगाड़ में लगे हैं कि कब कुर्सी खाली हो और उन्हें मिले। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में आज हताशा इस कद्र है कि वे अब बीजेपी के घरों के बाहर धरना देने लगे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार साढ़े चार वर्ष में केवल बीजेपी नेताओं के खिलाफ एक के बाद एक केस किया और अब फिर वही कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि बदला-बदली और कीचड़ उछालने का यह कार्य अब ज्यादा दिन चलने वाला नहीं है और राज्य की जनता इन्हें करारा जवाब देगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
हिमाचल: बिजली घंटों गायब, जेई का जवाब- बिजली नहीं तो इन्वर्टर लगा लो नकाबपोश बदमाशों द्वारा एटीम को लूटने का प्रयास, एक मारा गया, दूसरा घायल व तीसरा फरार नवरात्र मेला के दौरान रहेगी चाक चौबंद सुरक्षा प्रधानमंत्री मुद्रा योजना बनी बेरोजगारों के लिए बरदान - सयाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ कदम मिलाकर हिमाचल होगा विकसित: धनखड़ हिमाचल के बद्दी में दीवार ढ़हने से आठ मरे, सात घायल लाखों की रिश्वत लेते उद्योग विभाग बद्दी के संयुक्त निदेशक तिलकराज शर्मा रंगे हाथों काबू वीरभद्र तथा उनकी पत्नी को जमानत हिमाचल में गहरी खाई में गिरी कार, छह की मौत डिजिटल भुगतान को देश में बढ़ावा देने के लिए कैट ने किया गोलमेज सम्मेलन