धर्म

डेराबस्सी में तीन दिवसीय गुरमत समागम आयोजित

May 05, 2017 12:05 PM

डेराबस्सी(मेजर अली)
डेराबस्सी के निकटवर्ती गांव पंडवाला में गुरू मान्यो ग्रंथ सेवक जत्थे की ओर से पंथ के प्रसिद्घ प्रचारक संत रणजीत सिंह ढ़डरियां वालों के तीन दिवसीय समागम करवाए गए। एक मई से शुरू हो कर तीन मई को समाप्त हुए समागम में हज़ारों की संख्या में संगतों ने गुरू की गुरबानी का आनन्द प्राप्त किया। संत रणजीत सिंह ने उपस्थित संगतों को गुरू ग्रंथ साहिब जी के अस्ली ज्ञान से रूबरू करवाया। संत ढडरियां वालों ने कहा कि गुरू ग्रंथ साहिब खुद बोलते हैं। इस लिए प्रत्येक इंसान गुरू ग्रंथ साहिब को खुद पढ़े ताकि सच्चाई को पहचाना जा सके। उन्होंने कहा कि दशम पिता द्वारा बताई गई वाणी को जीवन का हिस्सा बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिंदगी चालाकियों से नहीं चलती। इंसान को जीवन का असली उद्देश्य पहचानना चाहिए। तीन दिनों में 50 हज़ार संगतों ने हाजरी भरी। इस दौरान गुरू का लंगर भी अटूट चला।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और धर्म ख़बरें
जीवन की यात्रा एक अज्ञात यात्रा है और उस यात्रा पर हम सभी मुसाफिर.श्री 108 स्वामी अशोक पुरी जी महाराज श्री सनातन धर्म मंदिर सेक्टर 27 का 38वां वार्षिक महोत्सव शुरू 15 को भजन कीर्तन , भंडारा 16 फरवरी को बरनाला में पीरखाना ट्रस्ट की तरफ से तीसरा विशाल दीवान एवं भंडारा 28 को निरंकारी सेवादल ने मनाया क्षमायाचना दिवस मोहाली में प्रकाश पर्व पर निकाली प्रभात फेरी धर्म शांतिपूर्वक रहने की कला सिखाता है: सौरभ मुनि गहरे पानी पैठ से ही आनन्द की प्राप्ति: राज वासुदेव सिंह संकट मोचन बाला जी धाम का रखा गया नींव पत्थर ममता एन्कलेव ढ़कोली में मसीही सत्संग एवं संस्कृतिक कार्यक्रम। 31 हजार दीपको से होगी भगवान जगन्नाथ की महाआरती