ENGLISH HINDI Friday, November 24, 2017
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
हाथी को छोड़ हाथ का साथ, निगम चुनाव से पहले बहुजन समाज पार्टी को झटका, युवा नेता और अन्य पंजाब कांग्रेस में शामिलहरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से 42 पुलिस उप-अधीक्षकों (डीएसपी) के स्थानांतरण एवं नियुक्ति आदेश जारी कियेमोरनी में मिले तीन बच्चों के शव, पिता ही निकला हत्यारा, पंचकुला पुलिस ने किया अरेस्टपद्मावती , मीडिया संपर्क प्रमुख को कारण बताओ नोटिसरूपाणी के चुनाव प्रचार जिम्मेदारी संभालेंगे भाजपा प्रदेश मीडिया प्रमुखमैं तो मेवात का हमसफर हूं : राव इंद्रजीत "पढ़ेगी महिला तो बढ़ेगी महिला, महिला पतंजलि योग समिति ने किया महिला सशक्तिकरण दिवस का आयोजन भगवान श्री सत्य साईं बाबा के 92 वें जन्मदिन समारोह के अवसर पर बहुधर्मी एवं वेद समारोह आयोजन 20 से 21 नवंबर तक होगा
धर्म

डेराबस्सी में तीन दिवसीय गुरमत समागम आयोजित

May 05, 2017 12:05 PM

डेराबस्सी(मेजर अली)
डेराबस्सी के निकटवर्ती गांव पंडवाला में गुरू मान्यो ग्रंथ सेवक जत्थे की ओर से पंथ के प्रसिद्घ प्रचारक संत रणजीत सिंह ढ़डरियां वालों के तीन दिवसीय समागम करवाए गए। एक मई से शुरू हो कर तीन मई को समाप्त हुए समागम में हज़ारों की संख्या में संगतों ने गुरू की गुरबानी का आनन्द प्राप्त किया। संत रणजीत सिंह ने उपस्थित संगतों को गुरू ग्रंथ साहिब जी के अस्ली ज्ञान से रूबरू करवाया। संत ढडरियां वालों ने कहा कि गुरू ग्रंथ साहिब खुद बोलते हैं। इस लिए प्रत्येक इंसान गुरू ग्रंथ साहिब को खुद पढ़े ताकि सच्चाई को पहचाना जा सके। उन्होंने कहा कि दशम पिता द्वारा बताई गई वाणी को जीवन का हिस्सा बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिंदगी चालाकियों से नहीं चलती। इंसान को जीवन का असली उद्देश्य पहचानना चाहिए। तीन दिनों में 50 हज़ार संगतों ने हाजरी भरी। इस दौरान गुरू का लंगर भी अटूट चला।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें