ENGLISH HINDI Friday, May 26, 2017
Follow us on
हरियाणा

मेडीकल कालेज में नर्सों की भूख-हड़ताल जारी, स्वास्थ्य मंत्री विज के आने पर धरने से उठने की शर्त

May 19, 2017 07:42 PM

नूंह (धनेश विद्यार्थी) शुक्रवार को मेवात के सरकारी मेडीकल कालेज में तीसरे दिन भी पैरा मेडीकल स्टाफ, जिनमें सैंकड़ों नर्सें हैं, हड़ताल पर रहे। इस वजह से मरीजों का पलायन जारी रहा। धरने पर बैठे कर्मचारियों ने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को मौके पर बुलाने तथा उनको अपना दुख-दर्द सुनाने की मांग उठाई है।
उधर नूंह से इनेलो विधायक जाकिर हुसैन ने दिवंगत स्टाफ नर्स प्रमिला के चित्र पर फूल चढ़ाने के बाद इस धरने को इंसाफ की लड़ाई बताते हुए इसे अपना समर्थन देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की बेटी बचाओ-बेटी पढाओ मुहिम चला रही है मगर मेवात में एक बहन का तीन दिन से अंतिम संस्कार नहीं हो पाया है। उसकी बेटी आईसीयू में दाखिल है। उसका सैनिक पति अपनी पत्नी के लिए इंसाफ की लड़ाई लड़ रहा है। इनेलो इस मामले को दिल्ली और राज्य विधानसभा में पूरी ताकत से उठाएगी।   

 
नूंह के उपायुक्त मनीराम की ओर से नर्सों को धमकाने का जिक्र करते हुए विधायक जाकिर हुसैन ने कहा कि उपायुक्त जो कह रहे हैं, वह भारतीय संविधान की भावना के विपरीत है। उन्होंने कहा कि अब अंग्रेजों का राज नहीं। देश के किसी भी व्यक्ति को राष्ट्रपति के विरुद्ध भी जांच की मांग उठाने का अधिकार है। कोई भी व्यक्ति शांतिपूर्ण ढंग से अपना विरोध दर्ज करा सकता है।
नूंह विधायक ने नर्सों से कहा कि आप लोग यहां सैंकड़ों किलोमीटर दूर से आकर मेवात के लोगों की सेवा कर रहे हैं और बहन प्रमिला को इंसाफ दिलाने के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं, जोकि जायज है। हम खुद और इनेलो पार्टी आपके साथ है। अगर आपके खिलाफ प्रशासन कोई गलत कार्यवाही करता है तो इनेलो उसका विरोध करेगा। उन्होंने दिवंगत प्रमिला की बेटी को अठारह साल तक सरकार की ओर से गोद लेने तथा उसके बाद में उसके लिए नौकरी की व्यवस्था करने की मांग उठाई। इस मामले की निष्पक्ष जांच के बाद दोषी चिकित्सकों के विरुद्ध कार्यवाही की मांग भी उन्होंने इस मंच से उठाई।
बाद में नूंह विधायक नल्हड़ कालेज के मुख्य द्वार पर ठेकेदार के माध्यम से सफाई का काम करने वाले कर्मचारियों के धरने में शामिल हुए तथा उनको लंबित वेतन दिलाने तथा लंबित मांगों को पूरा कराने के लिए उनका समर्थन देने की बात कही। उन्होंने कहा कि बड़ी-बड़ी तनख्वाह लेने वाले अधिकारियों के खाते में सरकार हर माह पैसे डाल देती है मगर काम करके छोटी मोटी पगार पाने वाले कर्मचारियों को तीन माह तक वेतन नहीं दिया जाता।
उधर आज चौथे दिन भी नल्हड़ कालेज में सफाई नहीं होने की वजह से गंदगी का आलम रहा और कालेज प्रबंधन और ठेकेदार के बीच बातचीत का दौर जारी रहा। दोनों धरना स्थलों पर आज भी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की गई। इस मौके पर भूख हड़ताल में शामिल स्टाफ नर्स सुमन, सुमन देवी, ओमबीर, सफाई कर्मचारी आशा राम और आशा देवी ने नूंह विधायक के सामने अपनी बात रखी। उधर नर्सों की हड़ताल को खत्म कराने के लिए नूंह प्रशासन, गुप्तचर विभाग, पुलिस महकमा और प्रशासन के अधिकारी अब सक्रिय नजर आ रहे हैं।   

नर्सों के धरने की प्रत्येक गतिविधि को गुप्तचर विभाग के स्थानीय अधिकारी अपने उच्चाधिकारियों तक पहुंचा रहे हैं। पता चला है कि नर्सों के शिष्टमंडल में शामिल करीब पन्द्रह सदस्यों पर आधारित एक शिष्टमंडल की शुक्रवार को कालेज परिसर में अगली रणनीति के लिए एक गोपनीय बैठक हुई। उधर आज देर शाम तक भूख हड़ताल जारी है और मृतका प्रमिला के शव को फ्रीज कराया हुआ है और उसका अंतिम संस्कार नहीं हुआ है। उधर प्रमिला के मायका और ससुराल जिला महेन्द्रगढ़ के गांव लावण में भी मातम का माहौल रहा।

विज तो थोथा चना: जाकिर
सफाई कर्मचारियों के बीच स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को लेकर नूंह विधायक जाकिर हुसैन ने उनको थोथा चना-बाजे घना तक कह डाला। उधर पत्रकारों के सवालों के जवाब में इनेलो विधायक ने नल्हड़ मेडीकल कालेज के भविष्य पर चिंता जताई। उन्होंने कहा कि लगातार तीन साल से वह हरियाणा विधानसभा में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से इस कालेज में निरीक्षण पर आने की मांग उठा रहे हैं मगर विज के पास धूम-धमाके वाले कार्यक्रमों में शामिल होने का तो समय है मगर मेवात के इस कालेज में आने का वक्त नहीं।
सफाई कर्मियों का वेतन बकाया:
मेडीकल कालेज में छोछी को-आप्रेटिव सोसायटी झज्जर ने सफाई के काम का ठेका लिया हुआ है। इसके माध्यम से एक सौ चालीस कर्मचारियों सफाई का काम करते हैं, जिनका तीन माह का वेतन बकाया है। राधा कृष्णा फर्म भी इनका पीएफ का हिसाब आज तक नहीं दे पाई। यही हाल अब छोछी सोसायटी का है। इनको लोगों को डीसी रेट अनुसार भी वेतन नहीं मिल रहा। सफाई कर्मचारी संघ के प्रधान आशा राम ने कहा कि उन्हें केवल 8840 रुपए माहवार मिलते हैं। कई माह से वे भी नहीं मिल रहे। तीन साल काम करते हुए हो गए मगर पीएफ नंबर आज तक नहीं मिला। कालेज प्रशासन अथवा ठेकेदार इनकी सेवाएं नियमित करने की बात तक नहीं सुन रहे।
सिक्युरिटी गार्ड भी परेशान:
नल्हड़ मेडीकल कालेज की सुरक्षा में तैनात सिक्युरिटी गार्ड भी कालेज प्रबंधन और अपने ठेकेदार की ढीली कारगुजारी की चक्की में पिस रहे हैं। इनको भी नियमित तौर पर वेतन नहीं मिल रहा। इनको तीन माह का वेतन बकाया बताया गया है।
चार दिनों से नहीं हो रही सफाई :
मेडीकल कालेज में सफाई कर्मचारियों के काम बंद करने की वजह से चार दिन से कालेज में सफाई नहीं हो पा रही। हर जगह गंदगी का आलम नजर आ रहा है। कालेज के निदेशक ने इस संबंध में नूंह नगर पालिका की चेयरपरसन सीमा सिंगला से भी सफाई के मामले में मदद मांगी है।
मेडीकल कालेज में विवादों की असली जड़:
मेवात जिले में स्वास्थ्य विभाग चिकित्सकों को दस हजार रुपए अतिरिक्त माहवार देता है मगर उसके बावजूद यहां से डॉक्टर नौकरी बीच में छोडक़र चले जाते हैं। डाक्टरों की कमी की वजह से मेडीकल कालेज का पैरा मेडीकल और अन्य स्टाफ भी मनमानी करता है।
उपायुक्त मनीराम शर्मा, कालेज निदेशक डॉ. संसारचंद शर्मा और चिकित्सक खुद इस बात को जानते हैं मगर कोई भी एक-दूसरे को कुछ नहीं कहता। कभी सिक्युरिटी गार्ड, कभी पुलिस और डाक्टरों, कभी सफाई कर्मचारियों तो कभी किसी वारदात की वजह से मेडीकल कालेज अखबार की सुर्खियों में छा जाता है। करीब पांच साल से मेडीकल कालेज में निदेशक पद डॉ. संसार चंद शर्मा संभाल रहे हैं मगर कई कर्मचारी डीसी रेट का पत्र नहीं मिलने पर विरोध करते हैं तो कभी समय पर वेतन नहीं मिलने की वजह से कर्मचारी हड़ताल पर चले जाते हैं।
यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगी कि कालेज प्रबंधन और ठेकेदारों के माध्यम से काम करने वाले कर्मचारियों के बीच तालमेल की कमी इस मेडीकल कालेज को सुचारू रूप से चलाने में परेशानियां पैदा कर रही है। सवाल यह है कि आखिर मेडीकल कालेज के निदेशक डॉ. शर्मा इन परिस्थितियों से कब तक जूझते रहेंगे। उनके इस्तीफे की मांग के अलावा अब उनकी संपत्ति की जांच भी मांग भी उठने लगी है। कालेज में निविदाओं को छोडऩे के मामले में भी मेडीकल कालेज के कर्मचारी प्रबंधन पर गोलमाल करने के गंभीर आरोप लगाते रहे हैं। सवाल यह है कि आखिर मेडीकल कालेज नल्हड़ की सारी व्यवस्थाओं की निष्पक्ष जांच मनोहर लाल सरकार क्यों नहीं कराती।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें