ENGLISH HINDI Saturday, September 23, 2017
Follow us on
पंजाब

शहरों की सफाई से कोई समझौता नही: सिद्धू

May 19, 2017 08:17 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाब के समस्त शहरों एवं कस्बों को स्वच्छ छवि देने और शहरों की ठोस वेस्टेज़ के प्रबंधों को सुचारू ढंग से चलाने के उद्धेश्य से स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने आज विभाग के उच्च अधिकारियों को साथ लेकर राज्य की 10 नगर निगमों के आयुक्तों से एक समीक्षा बैठक की। स्थानीय निकाय भवन में हुई इस बैठक में श्री सिद्धू ने कलस्टर अनुसार सभी स्थानीय निकाय इकाईयों में चल रहे ठोस वेस्टेज़ और सफाई के लिये किये जा रहे इंतजामों का हर पक्ष से जांच करते हुये समीक्षा की। बैठक में विभाग के सलाहकार डॉ. अमर सिंह, अतिरिक्त मुख्यसचिव सतीश चंद्रा, निदेशक के के यादव और मुख्य अभियंता ए एस धालीवाल भी उपस्थित थे।
सिद्धू ने कहा कि शहरों में बहुत जगह सीवरेंज ब्लॉक हुये पड़ें है जिस कारण बरसातों के दौरान इन शहरों में पानी रूकने की समस्या आयेगी। उन्होंने समस्त अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि बरसातों के मौसम से पहले इस समस्या को पहल के आधार पर हल किया जाये जिसके लिये उन्होंने अति आधुनिक प्रौद्योगिकी से लैस सुपर सक्शन मशीनों को इस्तेमाल में लाने के लिये कहा। इस संबंधी उन्होंने इन मशीनों के प्रयोग संबंधी पॉवर प्वाइंट प्रस्तुति भी देखी। उन्होंने कहा कि पंजाब के 5 बड़े श्हारों लुधियाना, अमृतसर, जालंधर, पटियाला और बठिंडा जिनमें राज्य की 40 प्रतिशत से अधिक आबादी रहती है, में पहल के आधार पर इन बड़ी मशीनों द्वारा सीवरेज़ की समस्या को दूर किया जायेगा ताकि आने वाले बरसातों के मौसम को ध्यान में रखते हुये इन बड़ेे शहरों के निवासियों को पानी की समस्या से ना जूझना पड़े।
स्थानीय निकाय मंत्री ने विभाग के समस्त अधिकारियों को यह निर्देश दिये कि शहरों की साफ सफाई से कोई समझौता नही किया जायेगा। बैठक में विभिन्न कलस्टरों में चल रहे प्रौजेक्टों को चला रही कंपनियों के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुये सिद्धू ने कहा कि गुणवत्ता से कोई समझौता नही किया जायेगा और चाहतें है कि इस क्षेत्र में प्रतियोगिता हो और शहर वासियों को बेहतर सेवांए मिलें। उन्होंने कहा कि पहले कार्य का मूल्यांकन होगा और जो बेहतर कार्य करेगा उसको ही आगे कार्य दिया जायेगा। किसी भी शहर से भेदभाव बर्दाश्त नही किया जायेगा और सफाई प्रबंधों में ढील करने वालों को छोड़ा नही जायेगा। इसके साथ ही उन्होंने विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि स्वच्छ भारत मिशन तहत मिलने वाली राशि का एक एक पैसा केवल सफाई पर ही खर्च किया जाये।
सिद्धू ने बैठक के दौरान प्रत्येक कलस्टर के प्रौजेक्ट का पूरा जायजा लेते हुये सफल प्रौजेक्टों को जारी रखने संबंधी कहा और जिन प्रौजेक्टों में कोई कठिनाई आ रही है उन समस्याओं को हल करने के लिये संबंधित आयुक्त तथा विभाग के अधिकारियों की डियूटी लगाई। इस दौरान इन प्रौजेक्टों को चलाने में कोई लापरवाही की गई है या प्रोजेक्ट आरंभ नही हुये उनकी कंपनियों से समझौता रद्द करने की हिदायत की गई। स्थानीय निकाय मंत्री ने विभाग के अधिकारियों को सभी प्रौजेक्टों को सफलतापूर्वक चलाने के लिये कलस्टर अनुसार विभिन्न तारीखें करते हुये इसकी संपूर्ण रिपोर्ट देने के लिये कहा ताकि सफाई की समस्या से जूझ रहे शहरवासियों को शीघ्र अति शीघ्र राहत दी जा सके।
सिद्धू ने बैठक के दौरान दिल्ली सहित देश के अन्य बड़े शहरों में चल रहे सफल प्रोजेक्टों का जिक्र करते हुये कहा कि इनको पंजाब में लागू किया जाये। कूड़ा-कर्कट एकत्र करने से लेकर प्लांट में प्रौसेसिंग करने तक होती प्रक्रिया विस्तार में जायजा लेते हुये स्थानीय निकाय मंत्री ने कंपनियों के प्रतिनिधियों को कहा कि यदि कहीं भी कोई कठिनाई आती है तो वह विभाग के ध्यान में लायें परंतु वह इस प्रौजेक्ट में लापरवाही को बर्दाश्त नही करेंगे। उन्होंने कहा कि शहरों की सफाई सबसे अह्म है और इस मामले में लापरवाही करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
50,000 रुपए रिश्वत लेता सीनियर सहायक काबू पहले अगवा किया, फिर लूट-पाट कर फरार हुआ स्नैचर गुरदासपुर उपचुनाव: 5 उम्मीदवारों ने अब तक किए नामांकन दाखिल 40,000 रुपए की रिश्वत लेता पटवारी काबू, तीन अन्य भी चढे हत्थे सिविल सर्जनों की कारगुज़ारी की समीक्षा, स्वास्थय विभाग द्वारा जारी निर्देशों तहत दादागिरी: कानून को नहीं मानते दुकानदार संगरूर में हुए पटाख़ों के धमाकों की जांच के आदेश पंजाब भूमि सुधार एक्ट में संशोधन को स्वीकृति गुरदासपुर उपचुनाव: आप प्रत्याशी के सिक्योरिटी गार्ड ने पड़ोसियों पर की फायरिंग पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट द्वारा किसान यूनियनों को धरने के लिये आज्ञा लेने के आदेश