ENGLISH HINDI Wednesday, April 25, 2018
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
आपराधिक क्षेत्र बताकर चंडीगढ़ कार डीलर्स ने राम दरबार में कार बाजार न लगाने का लिया फैसलामंगल को हुआ अमंगल— बस की टक्कर से बाइक पर सवार महिला की दर्दनाक मौतबिना शौचालय वाले स्कूलों की प्रशासन ने मांगी रिपोर्टवाहनो पर लगाएं रिफ्लैक्टर, 30 अप्रैल तक मनाया जाएगा रोड सेफ्टी सप्ताहपंजाब में भू-जल स्तर जा रहा है 2.5 फुट प्रति वर्ष नीचेहरियाणा ने 23 आईपीएस और छह एचपीएस अधिकारियों के स्थानांतरण एवं नियुक्ति आदेश जारी किये29वें सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारंभ, यातायात नियमों की दी जानकारीपीरमुछल्ला इम्पीरियल गार्डन सोसाइटी बिल्डिंग गिरने का मामला: जांच ठंडे बस्ते में, सभी आरोपी शहर में , काबू एक भी नहीं
राष्ट्रीय

सेवाओं के लिए चार स्लैब तय, स्वास्थ्य, शिक्षा जीएसटी से बाहर

May 19, 2017 08:35 PM

श्रीनगर: वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद ने सेवाओं के लिए कर के चार स्लैब तय करते हुये शिक्षा और स्वास्थ्य को इससे बाहर रखा है।
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने परिषद की दो दिवसीय बैठक के समापन के बाद यहां संवाददाताओं को बताया कि जीएसटी के तहत सेवा कर के लिए चार दरें तय की गयी हैं जो क्रमश: पांच, 12, 18 और 28 प्रतिशत हैं। उन्होंने कहा कि सोने पर जीएसटी कर दर तय नहीं हो पायी है और परिषद की 03 जून को दिल्ली में होने वाली बैठक में इस पर विचार किया जायेगा।
उन्होंने बताया कि शिक्षा और स्वास्थ्य समेत लगभग उन सभी क्षेत्रों को जीएसटी से बाहर रखा गया है जिन पर अभी सेवा कर नहीं लगता है। परिवहन सेवाओं पर पाँच प्रतिशत जीएसटी लगेगा। बीमा, होटल और रेस्त्रां की सेवाओं पर भी सेवा कर लेगा। रेस्त्राओं पर सेवा कर की दर पाँच से 18 प्रतिशत तय की गयी है। टेलीकॉम और वित्तीय सेवाओं पर 18 प्रतिशत कर लेगा। ऐप आधारित टैक्सी एग्रिगेटर श्रेणी में ओला और उबर जैसे सेवा प्रदाताओं पर पांच प्रतिशत जीएसटी लगेगा।
उन्होंने कहा कि 50 लाख रुपये या इससे कम के कारोबार करने वाले रेस्त्रां पर पांच प्रतिशत जीएसटी लगेगा जबकि बिना एसी वाले रेस्त्रां के लिए यह 12 प्रतिशत होगा। एसी रेस्त्रां में यह 18 फीसदी लगेगा। विमान यात्रियों को इकोनॉमी क्लास में सफर के लिए पाँच प्रतिशत जीएसटी देना पड़ेगा जबकि बिजनेस क्लास के लिए यह 12 प्रतिशत होगा।
वित्त मंत्री ने कहा कि एक हजार रुपये किराये वाले होटलों को जीएसटी से बाहर रख गया है जबकि एक हजार से 2,500 रुपये किराये वाले होटलों पर कर की दर 12 फीसदी तथा ढाई हजार से पाँच हजार वाले होटलों के लिए यह 18 फीसदी होगी। पाँच सितारा होटलों के लिए यह दर 28 फीसदी होगी। रेस क्लब, जुआ और सिनेमा घरों के लिए 28 फीसदी जीएसटी तय किया गया है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
विश्वभर में मलेरिया दर भारत में: 2030 तक मलेरिया उन्मूलन का दावा चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ विपक्ष का महाभियोग प्रस्ताव खारिज केंद्र सरकार द्वारा सूचना आयुक्तों के वेतन भत्ते में कटौती की तैयारी नया भारत नामक प्रदर्शनी का आयोजन, स्वच्छता की ओर प्रेरित किया भारत के प्रधान न्यायाधीश के ख़िलाफ़ 71 सांसदों द्वारा महाभियोग चलाने का नोटिस यूईआई ग्लोबल एजुकेशन की नई शाखा का उदघाटन देश भर मे बनेंगे डेढ़ लाख वेलनेस सेंटर प्रधानमंत्री कल विज्ञान भवन में करेंगे उत्कृष्टता पुरस्कार प्रदान “कार्यक्रम संबंधी विषयवस्तु” में “विधायी भावना” का निरूपण समय की मांगः उपराष्ट्रपति 6 और राज्य 20 अप्रैल से राज्यों में ई-वे बिल लागू करेंगे