राष्ट्रीय

कृषि के क्षेत्र में ‘एवरग्रीन रिवोल्यूशन’ की जरूरत: मोदी

May 19, 2017 08:53 PM

नयी दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि देश में किसानों की आय बढ़ाने और खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एवरग्रीन रिवोल्यूशन की जरूरत है ।
श्री मोदी ने यहां प्रधानमंत्री आवास पर प्रख्यात कृषि वैज्ञानिक एम एस स्वामीनाथन की पुस्तक‘ 50 ईयर्स ऑफ ग्रीन रिवोल्यूशन‘ तथा डॉ़ स्वामीनाथन पर लिखी पी सी केशवन की एक पुस्तक का विमोचन करने के बाद अपने सम्बोधन में कहा कि देश के पूर्वी क्षेत्र में‘ एवरग्रीन रिवोल्यूशन‘ की क्षमता है । वहां सिंचाई के लिए पानी की सुविधा उपलब्ध है और लोग मेहनती हैं। जरूरत सिर्फ इस बात की है कि उन्हें तकनीकी और वैज्ञानिक मदद उपलब्ध करायी जाये।
उन्होंने कहा कि किसानों की आय 2022 तक दोगुनी हो सकती है । इसके लिए जरूरी है कि कृषि लागत को कम किया जाये, उत्पादकता में वृद्धि हो तथा किसानों के उत्पादों का मूल्य संवद्र्धन हो। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिकों ने वर्षों के परिश्रम के बाद प्रयोगशालाओं में जो आविष्कार किये हैं, उन्हें खेतों तक पहुंचाया जाना चाहिये। इसे और स्पष्ट करते हुए उन्होंने कहा कि खेतों तक प्रौद्योगिकी को पहुंचाने का अर्थ किसानों के दिमाग तक नयी चीजों को पहुंचाना है क्योंकि वे जल्दी जोखिम नहीं उठाना चाहते हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें