ENGLISH HINDI Sunday, December 17, 2017
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
तीन दिवसीय चिंतन शिविर , पानी की हर बूंद का सदुपयोग , सीमित स्रोतफटे होठों में तेल मालिश स्कून देगीफोर्टिस मामला: डेंगू से बच्ची की मौत और 16 लाख के बिलों पर अन्य आपराधिक धाराएं पर्चे में जोड़ी जाएंगी: अनिल विजप्रेस क्लब के सचिव जलेश ठठई की माता का देहांत ,हेमकुंट पब्लिक स्कूल मोहाली मेें करवाए बच्चों के कविता उच्चारण मुकाबलेआम लोगों की ओर से अकाली दल की ड्रामेबाजी का विरोध शुभ संकेत -भगवंत मानडीजीपी वी.के भावड़ा ने की शबरी प्रसाद की किताब ‘बॉर्डरलाईन’ रिलीज, कहा डाक्टरी विज्ञान साहित्य के लिए होगी लाभदायकविदेश में खेलने का सपना होगा पूरा, सूरज को कृषि मंत्री श्री ओम प्रकाश धनखड़ ने दी 71 हजार की मदद
हिमाचल प्रदेश

लाखों की रिश्वत लेते उद्योग विभाग बद्दी के संयुक्त निदेशक तिलकराज शर्मा रंगे हाथों काबू

May 30, 2017 08:16 PM

सोलन, फेस2न्यूज:
हिमाचल उद्योग विभाग बददी में तैनात संयुक्त निदेशक तिलकराज शर्मा को सीबीआई ने रिश्वत लेते रंगे हाथों चंडीगढ़ में गिरफ्तार किया है। प्राप्त जानकारी अनुसार उक्त संयुक्त निदेशक व बद्दी के एक उद्योगपति अशोक राणा दस लाख रुपये की रिश्वत की मांग में शामिल बताए जाते हैं। बद्दी स्थित उद्योग मेडिसेफ फार्मा के कंसलटेंट चंद्र शेखर की शिकायत में बताया गया कि वे मशीनरी पर मिलने वाली 15 फीसदी सब्सिडी राशि जो करीब 50 लाख रूपए बनती है, के लिए उनसे मिले, जिसकी एवज में उन्होंने 10 लाख रुपये की रिश्वत की मांग की। इसके बारे में सीबीआई जानकारी दी गई और सीबीआई ने जाल बिछाकर उन्हें रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।    

15 फीसदी सब्सिडी जारी के रूप में 50 लाख की राशी की एवज में मांगे थे 10 लाख


सीबीआई प्रवक्ता आरके गौड अनुसार तिलक राज शर्मा की गिरफ्तारी की जा चुकी है। बताया गया कि चंडीगढ़ के सेक्टर आठ स्थित एक हेयर सैलून में दोनों के बीच मिलना फिक्स हुआ तथा पैसों के लेनदेन की बात की गई। मंगलवार सुबह दस बजे पैसों की पहली किश्त देने गए तभी सीबीआई ने उद्योग विभाग के पदाधिकारी को रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ लिया है। गौरतलब है कि शिकायत के बाद सीबीआई ने शिकायतकर्ता को डिजिटल ऑडियो व वीडियो कैमरों से लैस कर दिया था ताकि सारे प्रकरण की रिकार्डिंग की जा सके। दोनों के बीच हुई सारी वारदात को रिकार्ड कर रिपोर्ट तैयार कर ली गई है। यह भी पता चला है कि संयुक्त निदेशक के चंडीगढ़ आवास पर भी छापेमारी की गई जहां से कुछ सोना प्राप्त हुआ है। गिरफ्तार संयुक्त निदेशक का उद्योग विभाग में काफी प्रभाव बताया जा रहा है। और वे कांग्रेस, भाजपा की सरकारों में अपनी नियुक्ति उद्योग से जुडे क्षेत्रों में ही करवाते रहे हैं। दोनों आरोपियों को सीबीआई की विशेष अदालत में पेश किया जाएगा। 

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
हिमाचल प्रदेश व गुजरात में कांग्रेस की जीत अटल -कैप्टन अमरिंदर सिंह कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री की कांग्रेस के विरूद्ध ‘दीमक’ की टिप्पणी को बीजेपी विरूद्ध उभर रही लहर की निराशा बताया गुड़िया हत्याकांड मामले में सीबीआई पुख्ता सबूत जुटाने में जुटी, आरोपियों का ब्रेन टेस्ट रघुवीर सिंह सयाल ने टिकट की दावेदारी जता कर बढाई धवाला की बेचैनी हिमाचल: बिजली घंटों गायब, जेई का जवाब- बिजली नहीं तो इन्वर्टर लगा लो नकाबपोश बदमाशों द्वारा एटीम को लूटने का प्रयास, एक मारा गया, दूसरा घायल व तीसरा फरार नवरात्र मेला के दौरान रहेगी चाक चौबंद सुरक्षा प्रधानमंत्री मुद्रा योजना बनी बेरोजगारों के लिए बरदान - सयाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ कदम मिलाकर हिमाचल होगा विकसित: धनखड़ हिमाचल के बद्दी में दीवार ढ़हने से आठ मरे, सात घायल