ENGLISH HINDI Sunday, December 17, 2017
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
तीन दिवसीय चिंतन शिविर , पानी की हर बूंद का सदुपयोग , सीमित स्रोतफटे होठों में तेल मालिश स्कून देगीफोर्टिस मामला: डेंगू से बच्ची की मौत और 16 लाख के बिलों पर अन्य आपराधिक धाराएं पर्चे में जोड़ी जाएंगी: अनिल विजप्रेस क्लब के सचिव जलेश ठठई की माता का देहांत ,हेमकुंट पब्लिक स्कूल मोहाली मेें करवाए बच्चों के कविता उच्चारण मुकाबलेआम लोगों की ओर से अकाली दल की ड्रामेबाजी का विरोध शुभ संकेत -भगवंत मानडीजीपी वी.के भावड़ा ने की शबरी प्रसाद की किताब ‘बॉर्डरलाईन’ रिलीज, कहा डाक्टरी विज्ञान साहित्य के लिए होगी लाभदायकविदेश में खेलने का सपना होगा पूरा, सूरज को कृषि मंत्री श्री ओम प्रकाश धनखड़ ने दी 71 हजार की मदद
धर्म

ममता एन्कलेव ढ़कोली में मसीही सत्संग एवं संस्कृतिक कार्यक्रम।

July 01, 2017 12:56 PM

जीरकपुर / चंडीगढ़, : मिरेकल चर्च इण्डिया द्वारा ममता एन्कलेव में दो दिवसीय मसीही सत्संग एवं सास्कृतिक कार्यक्रम की शुरूआत विधिवत रूप से हो गई। मसीही सत्संग के उद्घाटन समारोह में कांग्रेस पार्टी के महासचिव दीपेन्दर सिंह ढिल्लो ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। सत्संग की शुरूआत स्तुति अराधना के साथ हुई। चर्च के बच्चों ने प्रभु यीशु मसीह के गीतों पर मनमोहक प्रस्तुति दी। इस कार्यक्रम में भारी संख्या में लोगो ने भाग लिया। दीपेन्दर सिंह ढिल्लों ने मिरेकल चर्च द्वारा आयोजित मसीही सत्संग की प्रंशसा की। उन्होने जनता को सम्बोधित करते हुए कहा कि दश की उन्नति के लिए आपसी सौहार्द और भाईचारे का होना अति आवश्यक हैं।

 
 
सत्संग मनुश्य को ईश्वरीय स्वभाव में ढलने में सहायक होते हैं। मिरेकल चर्च के फादर पास्टर पॉल विक्की वेद ने अपने संदेश में कहा कि यीशु मसीह सारी मानव जाति के पापों के लिए मारे गए, गाडे गए और तीन दिन बाद मुर्दो में से जिन्दा हो गए और आज भी जिन्दा हैं। प्रभु यीशु मसीह ने दुनिया को प्रेम,स्नेह और भाईचारे का संदेश दिया हैं। मसीही सत्संग का उदेश्य लोगों को प्रभु यीशु की शिक्षाओं से परिचित करवाना हैं। उन्होने कहा कि 1 जुलाई तक चलने वाले मसीही सत्संग में 1 जुलाई को प्रातः 09 बजे से दोपहर 2 बजे तक बाईबल कक्षा का विशेष रूप से आयोजन किया जा रहा हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें