ENGLISH HINDI Tuesday, August 21, 2018
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
अनिल शर्मा बने फोटोग्राफर एसोसिएशन डेराबसी के प्रधानजीरकपुर खबरनामा: अलग अलग स्थानों से घरों के बाहर खड़ी दो कारे चोरी,बुज़ुर्ग महिला की चेन झपटने की कोशिशपूर्वांचल सांस्कृतिक संघ चण्डीगढ़ की ओर से अखंड अष्टयाम पूजा सम्पन उत्तरी राज्यों के मुख्यमंत्रियों द्वारा नशों संबंधी डाटा सांझा करने, पंचकुला में केंद्रीय सचिवालय स्थापित करने का फैसलामंत्रिमण्डल ने श्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक प्रस्ताव पारित कियामुख्यमंत्री का मादक पदार्थों रोकथाम हेतु संयुक्त रणनीति बनाने पर बल11वीं जुनियर पंजाब स्टेट नेटबॉल चेंपियनशिप धूमधाम के साथ संपन्नकर्तव्य पथ पर प्राण न्योछावर करने वाले राजेश कुमार को मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
राष्ट्रीय

राम रहीम को दोषी ठहराने के बाद अनुुयाइयों द्वारा उत्पात, कई शहरों में कफ्र्यू

August 25, 2017 08:10 PM

पंचकूला, फेस2न्यूज:
साध्वी यौन शोषण मामले में गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी करार देने के बाद हरियाणा और पंजाब के कई जिलों में डेरा अनुयाइयों ने जमकर हिंसा व उत्पात मचाया। पंचकूला की केन्द्रीय जांच ब्यूरो अदालत के न्यायाधीश जगदीप सिंह ने 15 वर्ष पुराने इस मामले में आज राम रहीम को दोषी ठहराया। इस मामले में सजा का एलान 28 अगस्त को किया जाएगा।
राम रहीम को दोषी ठहराने की खबर जैसे ही अदालत के कमरे से बाहर आयी पंचकूला में एकत्रित बाबा के हजारों अनुयाइयों ने उपद्रव और तोडफ़ोड़ शुरू कर दी। हिंसा में अब तक 26 लोगों की मौत हो चुकी और कम से कम सैंकड़ों लोग घायल हैं। उपद्रव की आशंका को देखते हुए पंजाब और हरियाणा में सुरक्षा के अभूतपूर्व प्रबंध किये गए थे। बावजूद इसके पंजाब में कई स्टेशनों में आग लगा दी गयी। इसके बाद बठिंडा, फिरोजपुर और मानसा में कफ्र्यू लगा दिया गया। पंचकूला में भी कफ्र्यू लगाया गया है।
बाबा के अनुयाइयों ने सरकारी गाडिय़ों में जमकर तोडफ़ोड़ की और मीडिया के वाहनों को भी नहीं बख्शा गया। भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले और हवा में गोलियां भी दागनी पड़ी। पुलिस ने अनुयाइयों के खदडऩे के लिए लाठीचार्ज भी किया।
पंजाब के बठिंडा में चार सुविधा केंद्रों, रामामंडी पांवर हाउस और टेलीफोन एक्सचेंज तथा बलुआना में पॉवर ग्रिड और रेलवे स्टेशन को उपद्रवियों ने फूंक दिया। मोगा में डगरू रेलवे स्टेशन में भी आग लगाने का प्रयास किया।
हालात बिगड़ते देख प्रशासन ने मुख्यमंत्री के गृह शहर पटियाला में भी कफ्र्यू लगा दिया है। राज्य के जालंधर और बरनाला शहरों में भी उधर हरियाणा के सिरसा शहर में सेना बुला ली गई है। यहां भी हिंसक भीड़ ने एक इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की टीम पर डेरा समर्थकों ने तेज धारदार हथियार से जानलेवा हमला किया। प्रशासन ने सिरसा में कल रात से ही कफ्र्यू लागू कर दिया है। सेना के आने की आहट होते ही शहर से उपद्रवी फरार हो गये। पूरे शहर में सन्नाटा पसरा है।
गौरतलब है कि सिरसा में ही राम रहीम का डेरा सच्चा सौदा का मुख्यालय है। वहां हालात तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में बताई जा रही है। पंचकूला में सुरक्षा बलों और उपद्रवियों के बीच हुई हिंसक घटनाओं में जो लोग मरे हैं और घायल हुए हैं उनमें सुरक्षाकर्मी भी शामिल हैं। हालांकि सरकार की ओर से अभी तक मृतकों को लेकर कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है। शहर में सायरन बजाती अनेकों एम्बूलैंस घायलों को सरकारी अस्पताल में लाने में जुटी हुई हैं।
उपद्रवियों ने पंचकूला के रिहायशी इलाकों की ओर भी रूख किया है। उन्होंने सडक़ों और घरों के सामने खड़ी कारों, मोटरसाईकलों और अन्य वाहनों को आग लगा दी। आशंका है कि वे घरों में लूटपाट की घटनाओं को भी अंजाम दे सकते हैं।
हरियाणा के पंचकूला और सिरसा तथा पंजाब के पटियाला, बठिंडा, मानसा, मलोट और फिरोजपुर शहरों में हिंसा भडक़ने के बाद कफ्र्यू लगा दिया गया। हरियाणा से सटे दिल्ली और गाजियाबाद में भी बाबा समर्थकों ने उत्पात मचाया। आंनद विहार रेलवे स्टेशन पर रीवा एक्सप्रेस के दो खाली कोचों को आग के हवाले कर दिया। कई बसों को भी आग लगाने के समाचार हैं।
इस बीच पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने कानून-व्यवस्था की समीक्षा करते हुये कहा कि दोनों राज्यों में हिंसा के कारण हुये नुकसान की भरपाई डेरा और उसकी सम्पत्तियों को कुर्क करके की जाएगी और यह कार्यवाही अगले दो-तीन दिन में शुरू हो सकती है। न्यायाधीश एस.एस. सरों, सूर्यकांत और अवनीश झिंगन की खंडपीठ ने डेरा की सम्पत्तियों को जब्त करने के भी आदेश दिये हैं। डेरा सच्चा सौदा के प्रवक्ता ने समर्थकों से शांति बनाये रखने की अपील करते हुए कहा कि उनके साथ अन्याय हुआ है। वह ऊपरी अदालत में अपील करेंगे।
पंजाब और हरियाणा में बड़े पैमाने पर हिंसा और आगजनी की घटनाएं तथा सुरक्षा बलों और उपद्रवियों के बीच झड़पें होने के समाचार हैं। दंगाइयों को खदेडऩे के लिये सुरक्षा बलों ने आंसू गैस, वॉटर कैनन तथा कहीं-कहीं बल का भी प्रयोग किया गया लेकिन इनका कोई खास असर नहीं हुआ।
पंचकूला में हालात बेहद खराब हैं वहां जगह-जगह सडक़ों पर जले वाहन उपद्रवियों की करतूत बयां कर रहे हैं। इनमें इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की ओबी वैन, अग्नि शमन दलों के वाहन, कारें और मोटरसाइकिलें शामिल हैं। अनेक वाहनों में तोडफ़ोड़ भी की गयी हैं। शहर में जगह-जगह से घने काले धुएं के गुब्बार उठते दिखाई दे रहे हैं।
पंजाब और हरियाणा के मुख्यमंत्रियों ने लोगों विशेषकर डेरा समर्थकों से शांति और सदभाव बनाये रखने की अपील करने के साथ ही सुरक्षा बलों को कानून-व्यवस्था बनाये रखने के लिये दंगाइयों से कड़ाई निपटने के निर्देश दिये हैं। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि दंगाइयों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस बीच डेरा सच्चा सौदा के कई समर्थकों को भी गिरफ्तार किया है।
हरियाणा के गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राम निवास ने यहां कहा कि दंगों में जिनका भी नुकसान हुआ है उसकी राज्य सरकार भरपाई करेगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
उत्तरी राज्यों के मुख्यमंत्रियों द्वारा नशों संबंधी डाटा सांझा करने, पंचकुला में केंद्रीय सचिवालय स्थापित करने का फैसला बीआईएस ने बोतलबंद पेयजल उत्‍पादन इकाई पर छापा मारा प्रखर कवि, दूरदर्शी नेता देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने की संसारिक यात्री पूरी अपनी ही बनाई बेड़ियों से जकड़ा आज़ाद भारत डीएसी ने छह एनजीओपीवी के अधिग्रहण को दी मंजूरी लोकसभा सियासी रंगमंच पर कितना नाचेगा वोटर? नकली उत्‍पादों की बिक्री, उपभोक्‍ताओं को मुआवजा के अधिकार राष्‍ट्रपति ने त्रिशूर के सेंट थॉमस कॉलेज के शताब्‍दी समारोह का उद्धाटन किया निरंकारी मत के माता सविंदर हरदेव जी ब्रह्यलीन बिगड़ता पर्यावरण समस्या और समाधान