ENGLISH HINDI Sunday, October 21, 2018
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
डिस्को क्लब बंद रात 12 बजे बंद: ढाबे अब भी रहते है सुबह तक खुलेपुलिस स्मृति दिवस शहीद पुलिसकर्मियों को दी श्रद्धांजलि रोईंग चैम्पियनशिप में सीमावर्ती गांव के खिलाड़ी ने जीता गोल्ड मैडलतिजारा कब होगा समस्याओं से मुक्त, लोगों को आरोप— दवा तक उपलब्ध नहीं रोडवेज कर्मचारियों ने किया राजस्थान लोक परिवहन सेवा का विरोधगृह विभाग द्वारा अमृतसर हादसे की मैजिस्ट्रेट जांच की नोटिफिकेशन जारीअमृतसर ट्रेन ट्रेजेडी: राष्ट्रीय हिन्दू शक्ति संगठन की चंडीगढ़ इकाई ने हादसे में मारे गए लोगों को दी भावभीनी श्रद्धांजलि अमृतसर हादसे से मिला सबक, अब पंजाब में धार्मिक आयोजनों के लिए बनेगी गाइडलाइन
चंडीगढ़

राधाष्टमी पर राधा रानी के चरण दर्शन से हुए हजारों कृष्ण भगत कृतार्थ

August 30, 2017 08:34 PM

वृषभानु की पुत्री श्रीमती राधा रानी जी का जन्म रावल ( मथुरा ) में हुआ गौर तलब है के वृषभानु जी को नदी में स्नान करने के दौरान बहते हुए कमल के फूल में प्राप्त हुई थी राधा रानी की कृपा होने से कृष्ण भगवान की कृपा शत प्रतिशत आज भी गारंटी पूर्वक है राधा रानी जी का पंचामृत से अभिषेक किया गया गुलाब के फूलों की उनके ऊपर वर्षा की गई विशेष डिजाइन किये हुए वस्त्र श्रीमती राधा रानी जी को भेंट किए गए राधा रानी जी को 56 तरह के व्यंजनों का भोग लगाया गया जिसमें शाही पनीर, मलाई कोफ्ता, मीठे चावल, कश्मीरी चावल, रसगुल्ले, आदि स्वादिष्ट वयंजन भक्तों द्वारा बनाकर राधा रानी जी को भोग लगाया,

चंडीगढ़, फेस2न्यूज

 श्री चैतन्य गोडिया मठ मंदिर सेक्टर 20 चंडीगढ़ में राधाष्टमी का उत्सव बड़ी धूम-धाम से मनाया गया l प्रात: काल मंगल आरती का आयोजन किया गया तथा कीर्तन का सैकड़ों भक्तों ने आनंद लिया, तत्पश्चात वृंदावन से पधारे हुए श्री विष्णु दयित महाराज जी ने भक्तों को संबोधित करते हुए बताया कि साल में यही एक ही दिन होता है जिस दिन सभी कृष्ण भक्त राधा रानी के चरणों के दर्शन कर पाते हैं.

 
 
 
 
 
 
 वृषभानु की पुत्री श्रीमती राधा रानी जी का जन्म रावल ( मथुरा ) में हुआ गौर तलब है के वृषभानु जी को नदी में स्नान करने के दौरान बहते हुए कमल के फूल में प्राप्त हुई थी राधा रानी की कृपा होने से कृष्ण भगवान की कृपा शत प्रतिशत आज भी गारंटी पूर्वक है राधा रानी जी का पंचामृत से अभिषेक किया गया गुलाब के फूलों की उनके ऊपर वर्षा की गई विशेष डिजाइन किये हुए वस्त्र श्रीमती राधा रानी जी को भेंट किए गए राधा रानी जी को 56 तरह के व्यंजनों का भोग लगाया गया जिसमें शाही पनीर, मलाई कोफ्ता, मीठे चावल, कश्मीरी चावल, रसगुल्ले, आदि स्वादिष्ट वयंजन भक्तों द्वारा बनाकर राधा रानी जी को भोग लगाया, हजारों भक्तों ने उसके पश्चात भंडारा प्रसाद का पान किया.

 
 
इस अवसर पर विशेष तौर पर बच्चों का ड्राइंग कंपटीशन का भी आयोजन किया गया जिसमें बच्चों ने राधा रानी के जीवन से संबंधित कई प्रकार के चित्र बनाए.

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
मंगलमुखी ट्रांसजेंडर वेलफेयर सोसाइटी ने माता शेरांवाली की प्रतिमा का विसर्जन किया क्रिमिनल जस्टिस इन इंडिया विषय पर अपने विचार रखे सुप्रीम कोर्ट के सीनियर एडवोकेट और राज्यसभा सांसद केटीएस तुलसी ने साईं बाबा का 100वां महासमाधि दिवस 15 अक्टूबर को : सतिंदर सरताज बाबा के भजनों से गुनगान करेंगे: बेनीवाल होंगें मुख्य अतिथि वूमेन एंड चाइल्ड वेलपफेयर सोसायटी ने किया फ्री मेडिकल चेक- अप कैम्प का आयोजन राष्ट्रीय हिंन्दू शक्ति संगठन चंडीगढ़ इकाई की औपचारिक घोषणा: हिंदुत्व और पर्यावरण संरक्षण संगठन का मुख्य एजेंड विवादों के घेरे में खालसा कॉलेज: आॅनलाइन भुगतान वसूली पर प्रिंसिपल को 29 नवंबर के लिए नोटिस लोकनायक जयप्रकाश नारायण की 116वीं जयंती पर उनको याद किया भारत विकास परिषद ने बच्चों को जूते बांटे एवांस डेंटल केयर ने सफलतापूर्वक 3डी आधारित डेंटल इम्पलांट प्लेसमेंट किया सोलर संयंत्र लगाने के लिए सरकार बांट रही सब्सिडी, मिलेगा दोहरा मुनाफा