ENGLISH HINDI Thursday, January 18, 2018
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
सेना के वाहन से टकराया रिक्शा, एक परिवार के दो लोगों की मौतगुरप्रीत सिंह हैप्पी ने नवनियुक्त एसएचओ खान को कार्यभार के लिए शुभकामनाएँ दींमकर संक्रांति पर पतंग महोत्सव का किया आयोजन हरियाणा राजभवन कर्मचारी कल्याण संघ की वार्षिक बैठक, रामकुमार को सर्वसम्मति से एसोसिएशन का प्रधान चुना बरनाला में एक करोड़ की गांजा भरी 35 बोरी समेत पांच तस्कर काबू. 19 जनवरी तक का पुलिस रिमांड विविधताएं हमारी संस्कृति की चुनरी में सितारों की तरह हैं चमकती: प्रो.सोलंकीदादा की मौत को बर्दाश्त नहीं करते कांग्रेस के युवा विंग नेता ने दादी व खुद को मारी गोलीमाघ मकर संक्रान्ति 14 और 15 जनवरी को, खाएं व बाटें खिचड़ी
मनोरंजन

पापा की तमन्ना पूरी करने गायक सूरज लाया हिंदी सोलो ट्रैक ‘धोखा’

September 08, 2017 06:07 PM
(left to right)Dr. Niraj Sharma, Singer Suraj, Shamsher Pathiana and Aryaveer Rinku (Parveen)

अपने पिता भोला जी के मार्ग दर्शन और उत्साह बढ़ाने पर वह संगीत से जुड़ गया और निरंतर अभ्यास करने लगा। आज उसका सपना साकार हुआ है और प्रथम सोलो ट्रैक श्रोताओं के लिए हाजिर है। सूरज ने बताया कि इस गीत के रचयिता डॉ. नीरज शर्मा और संगीतकार नीटा लक्ष्मण-डॉ. नीरज हैं जबकि वीडियो निर्देशन व छायांकन आर्य वीर आर्य व मेलोन का है। सूरज ने कहा कि गायन के साथ उन्हें अभिनय का भी शौक है।

जीरकपुर (मेजर अली) 

उभरते गायक और एक्टर सूरज के हिन्दी सोलो ट्रैक ‘धोखा-द लाइफ मिस्ट्री’ का विमोचन आज चंडीगढ़ इंस्टीच्यूट ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन द्वारा जीरकपुर के एक होटल जायका में किया गया। इस अवसर पर गीतकार डॉ. नीरज शर्मा, कैमरामैन और वीडियो निर्देशक जोड़ी आर्य वीर आर्य व मेलोन (राम), संगीतकार नीटा लक्ष्मण और नीरज शर्मा (ओल्ड ब्वॉयज़) तथा सी.आई.एफ.टी के टरस्टी शमशेर पठानिया उपस्थित थे।

Singer Suraj (Photo Parveen)
 गायक सूरज ने बातचीत के दौरान बताया कि उसके पिता की तमन्ना थी कि वह संगीत की दुनिया में नाम कमाए, इसीलिए यह सोलो ट्रैक उसने पापा की तमन्ना पूरी करने के लिए तैयार किया है। सूरज वह चंडीगढ़ से ही ताल्लुक रखता है और यहीं पर उसकी शिक्षा-दीक्षा हुई। उसने बताया कि बचपन मेें डांस और अभिनय से उसका खासा लगाव था और स्कूल के सांस्कृतिक कार्यक्रमों में वह खुलकर भाग लेता था । उसकी ख्वाहिश थी कि बड़ा होकर इस क्षेत्र में वह नाम कमाये और अपनी प्रतिभा को साबित करे। सन् 2016 में लॉस वेगास (अमेरिका) में आयोजित हिपहाप इंटरनैशनल नृत्य प्रतियोगिता में उसे भारत की तरफ से भाग लेने का अवसर मिला। इस कंपीटीशन में कुल 72 देशों ने भाग लिया था, जिनमें से वह 27वीं पोजीशन पर रहा। संस्था ने उसे बैज और सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया। इसके बाद वह किस्मत आजमाने मायानगरी मुंबई चला गया और काफी अर्से तक वहां इधर से उधर सडक़ों की धूल फांकता रहा पर किसी ने उसकी प्रतिभा की कद्र नहीं की। 

इसी दौरान वह सी.आई.एफ.टी जीरकपुर के संपर्क में आया। उसने सुन रखा था कि यहां नये प्रतिभावान कलाकारों को अवश्य मौका मिलता है और उसकी भी जैसे लॉटरी लग गई। डॉ. नीरज शर्मा और आर्य वीर आर्य ने उसका ऑडिशन लिया और गायन के क्षेत्र में जाने के लिए कहा।
अपने पिता भोला जी के मार्ग दर्शन और उत्साह बढ़ाने पर वह संगीत से जुड़ गया और निरंतर अभ्यास करने लगा। आज उसका सपना साकार हुआ है और प्रथम सोलो ट्रैक श्रोताओं के लिए हाजिर है। सूरज ने बताया कि इस गीत के रचयिता डॉ. नीरज शर्मा और संगीतकार नीटा लक्ष्मण-डॉ. नीरज हैं जबकि वीडियो निर्देशन व छायांकन आर्य वीर आर्य व मेलोन का है। सूरज ने कहा कि गायन के साथ उन्हें अभिनय का भी शौक है। वह काफी समय तक थियेटर से भी जुड़े रहे हैं और भविष्य में बॉलीवुड में काम करना चाहते हैं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वह गायन के साथ साथ अभिनय में भी कुछ करके दिखाना चाहता है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और मनोरंजन ख़बरें
नए साल का तोहफा, ‘इनसेन’ मेरे दिल के बहुत ही करीब: सुखी पंजाबी में भी बनने जा रही गैंगस्टर लाइफ व् थ्रिलर फिल्म : "गुलाम" रोपड़ ज़िले के काठगढ़ में बनेगी फिल्म सिटी : रैंच होनहारों के लिए बेहतरीन मंच साबित होगी -उस्ताद जी रिकाड्र्स: जैजी बी दीपिका ने तिरुपति में पद्मावती मंदिर में किये दर्शन ! जन्म हरियाणा में, पढ़ाई राजस्थान से और लगाव पंजाबी से, पलक प्रीत का सोलो ट्रैक ‘गेड़ी रूट’ रिलीज "जे हर कम जान नाल ही होना हुँदा ना, तां घोड़ा तां जी अपने ते कदे वी काठी ना पैन दिंदा" : रंजीत बावा अगले वीकेंड रिलीज़ होने जा रही है बॉलीवुड फिल्म "नारायण", फिल्म की टीम प्रमोशन के लिए पहुंची सिटी ब्यूटीफुल में भंगड़े का तड़का - बुंदेलखंड खड़का, बुलंद किया पठानकोट का झंडा लड़कियां ज्यादती होने पर नहीं हटें पीछे, मैं भी अपने स्वाभिमान की रक्षा के लिए 14 वर्ष से कर रही हूं संघर्ष: अनारा गुप्ता