ENGLISH HINDI Thursday, December 14, 2017
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
फोर्टिस मामला: डेंगू से बच्ची की मौत और 16 लाख के बिलों पर अन्य आपराधिक धाराएं पर्चे में जोड़ी जाएंगी: अनिल विजप्रेस क्लब के सचिव जलेश ठठई की माता का देहांत ,हेमकुंट पब्लिक स्कूल मोहाली मेें करवाए बच्चों के कविता उच्चारण मुकाबलेआम लोगों की ओर से अकाली दल की ड्रामेबाजी का विरोध शुभ संकेत -भगवंत मानडीजीपी वी.के भावड़ा ने की शबरी प्रसाद की किताब ‘बॉर्डरलाईन’ रिलीज, कहा डाक्टरी विज्ञान साहित्य के लिए होगी लाभदायकविदेश में खेलने का सपना होगा पूरा, सूरज को कृषि मंत्री श्री ओम प्रकाश धनखड़ ने दी 71 हजार की मदद रोपड़ ज़िले के काठगढ़ में बनेगी फिल्म सिटी : रैंच7 दिसंबर , गुरुवार को पड़ रहा है विशेष संयोग गुरु-पुष्य योग
खेल

हरियाणा के सबसे बड़े खेल महाकुंभ-2017 के लिए 5.5 लाख खिलाडिय़ों ने करवाया पंजीकरण

September 27, 2017 12:02 PM
चंडीगढ़, हरियाणा के इतिहास में होने जा रहे अब तक के सबसे बड़े खेल महाकुंभ-2017 के लिए 5.5 लाख खिलाडिय़ों ने स्वयं का पंजीकरण करवाया है। प्रदेश के स्वर्ण जयंती समारोहों के भाग के रूप में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल 27 सितम्बर, 2017 को सायं 4.00 बजे कर्ण स्टेडियम, करनाल में इस खेल महाकुंभ का उदघाटन करेंगे। 
खेल एवं युवा मामले विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ० के.के. खण्डेलवाल ने यहां खेल महाकुंभ के सम्बंध में आयोजित एक प्रैस सम्मेलन को सम्बोंधित करते हुए यह जानकारी दी। 
उन्होंने कहा कि उदघाटन समारोह में लगभग 10,000 खिलाड़ी मार्च पास्ट में भाग लेंगे। इस समारोह की अध्यक्षता खेल एवं युवा मामले मंत्री, श्री अनिल विज द्वारा की जाएगी। उदघाटन समारोह के बाद सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि खेल महाकुंभ समारोह का समापन 31 अक्तूबर, 2017 को महावीर स्टेडियम, हिसार में होगा और यह स्वर्ण जयंती समारोहों का अंतिम समारोह भी होगा। 
डॉ० खण्डेलवाल ने कहा कि खेल महाकुंभ को जिला स्तरीय और राज्य स्तरीय दो चरणों में बांटा गया है। प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के खिलाडिय़ों के हितों को ध्यान में रखते हुए जिला और राज्य स्तरीय दोनों चरणों में सर्कल कब्ड्डी और टग ऑफ वॉर को भी शामिल किया गया है। खेल प्रतिस्पर्धाओं में साईक्लिंग को भी शामिल किया गया है। 
जिला स्तरीय चरण 27 सितम्बर से आरम्भ होकर 3 अक्तूबर, 2017 तक चलेगा, जिसमें 23 खेलों को आयोजन किया जाएगा। इसी प्रकार, राज्य स्तरीय चरण पांच अक्तूबर से 22 अक्तूबर, 2017 के बीच आयोजित किया जाएगा, जिसमें 25 खेलों का आयोजन किया किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अंडर 14, अंडर-17, ओपन कैटेगरी, 40 से ऊपर और 60 से ऊपर सहित पांच श्रेणियों में खेल प्रतिस्पर्धाओं का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य स्तरीय चरण में शुटिंग और ताइक्वांडों का भी आयोजन किया जाएगा। मूक एवं बधिर, नेत्रहीनों के लिए पहली बार खेल प्रतिस्पर्धाओं और पैराओलम्पिक खेलों का आयोजन किया जाएगा। 
उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय खेल प्रतिस्पर्धाओं में भाग लेने वाले खिलाडिय़ों को 100 रुपये प्रतिदिन की डाइट दी जाएगी। जिला स्तर पर व्यक्गित प्रतिस्पर्धा में पहला, दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले खिलाडिय़ों को 2000 रुपये, 1500 रुपये और 1000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। इसी प्रकार, तीन प्रतिस्पर्धाओं में पहला, दूसरा और तीसरा स्थान हासिल करने वालों को क्रमश: 1500 रुपये, 1000 रुपये और 750 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा।
अतिरिक्त मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य स्तरीय खेल प्रतिस्पर्धाओं में भाग लेने वाले खिलाडिय़ों को 300 रुपये प्रतिदिन की डाइट दी जाएगी। मार्च पास्ट में भाग लेने वाले खिलाडिय़ों को टै्रकसुट दिए जाएंगे। राज्य स्तर पर व्यक्गित प्रतिस्पर्धाओं  में पहला, दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले खिलाडिय़ों को क्रमश: 5000 रुपये, 3000 रुपये और 2000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। इसी प्रकार, राज्य स्तर पर टीम  प्रतिस्पर्धाओं में पहला, दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्त करने वालों को क्रमश: 3000 रुपये, 2000 रुपये और 1000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि नकद पुरस्कारों को आधार से जोड़ा जाएगा और यह खिलाडिय़ों को आरटीजीएस पद्धति के माध्यम से दिया जाएगा। 
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने हॉकी कप्तान सरदार सिंह को 7.5 लाख रुपये की एक समान राशि, जैसा कि राजीव गांधी खेल रतन अवार्ड के रूप में केन्द्र सरकार द्वारा दी जाती है, देकर सम्मानित करने का निर्णय लिया है। 
डॉ० खण्डेलवाल ने कहा कि स्वर्ण जयंती खेल नर्सरी योजना के तहत राज्य सरकार ने प्रत्येक जिले में लडक़े और लड़कियों के लिए 25 खेल नर्सरियां स्थापित करने का निर्णय लिया यानि प्रत्येक जिले में 25 खेल नर्सरियां लडक़ों और 25 खेल नर्सरियां लड़कियों के लिए हैं। इस योजना का पहला चरण पहले ही पूरा हो चुका है और प्रत्येक जिलें में लडक़ों और लड़कियों के लिए 10 खेलों की खेल नर्सरियां स्थापित की जा चुकी हैं।
उन्होंने कहा कि तीन वर्षों के दौरान राज्य सरकार ने 7037 खिलाडिय़ों को लगभग 168 करोड़ रुपये के नकद पुरस्कार दिए हैं। इस वर्ष भी सरकार लगगभ 40 करोड़ रुपये के नकद पुरस्कारों से लगभग 2500 खिलाडिय़ों को सम्मानित करेगी। 
डोपिंग के दुष्प्रभाव के बारे में खिलाडिय़ों में जागरूकता उत्पन्न करने सम्बंधी एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि नेशनल एंटी डोपिंग एजेन्सी (नाडा) के सहयोग से एक कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। आयोजित किये जाने वाले खेल महाकुंभ की खेल प्रतिस्पर्धाओं में भी एंटी डोपिंग उपायों को भी अपनाया जाएगा। 
इस अवसर पर निदेशक, खेल एवं युवा मामले विभाग श्री जगदीप सिंह, संयोजक, हरियणा स्वर्ण जयंती समारोह समिति श्री राजीव शर्मा और मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार श्री अमित आर्या भी उपस्थित थे।
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और खेल ख़बरें
डेराबस्सी प्रेस क्लब व जेबीपी में क्रिकेट मुकाबला जेबीपी ने चार रन से जीता फ्रेंडली क्रिकेट कप अंडर 14 लीग टूर्नामेंट, इंडस वैली क्रिकेट अकेडमी डेराबसी ने मोहित क्रिकेट अकेडमी पंचकूला को 100 रनों से हराया महिला पहलवानों ने किया निराश, विनेश फोगाट जीती हुई बाजी हार गई पंजाब पुलिस की अवनीत और अशीष ने देश का नाम रोशन किया पूर्व कैग महानिदेशक नंदलाल ने एयर पिस्टल शूटिंग प्रतियोगिता में जीता स्वर्ण पदक वेस्टइंडीज ने पाकिस्तान को चार विकेट से पीटा कबड्डी के रोमांचक मुकाबलों का आयोजन, 1 से 3 अप्रैल तक नेशनल सर्कल कबड्डी चैम्पियनशिप में भिड़ेंगी टीमें अभ्यास मैच में हारी भारतीय महिला टीम आईपीएल नीलामी फरवरी के अंत तक संभावित पूर्व आस्ट्रेलियाई अंपायर रोवन का निधन