ENGLISH HINDI Monday, December 11, 2017
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
फोर्टिस मामला: डेंगू से बच्ची की मौत और 16 लाख के बिलों पर अन्य आपराधिक धाराएं पर्चे में जोड़ी जाएंगी: अनिल विजप्रेस क्लब के सचिव जलेश ठठई की माता का देहांत ,हेमकुंट पब्लिक स्कूल मोहाली मेें करवाए बच्चों के कविता उच्चारण मुकाबलेआम लोगों की ओर से अकाली दल की ड्रामेबाजी का विरोध शुभ संकेत -भगवंत मानडीजीपी वी.के भावड़ा ने की शबरी प्रसाद की किताब ‘बॉर्डरलाईन’ रिलीज, कहा डाक्टरी विज्ञान साहित्य के लिए होगी लाभदायकविदेश में खेलने का सपना होगा पूरा, सूरज को कृषि मंत्री श्री ओम प्रकाश धनखड़ ने दी 71 हजार की मदद रोपड़ ज़िले के काठगढ़ में बनेगी फिल्म सिटी : रैंच7 दिसंबर , गुरुवार को पड़ रहा है विशेष संयोग गुरु-पुष्य योग
हिमाचल प्रदेश

गुड़िया हत्याकांड मामले में सीबीआई पुख्ता सबूत जुटाने में जुटी, आरोपियों का ब्रेन टेस्ट

September 30, 2017 12:00 PM

शिमला, फेस2न्यूज:
गुड़िया हत्याकांड मामले में ज़िला शिमला के कोटखाई में गिरफ्तार पांच आरोपियों ने ब्रेन मैपिंग के दौरान कई राज उगले हैं। इसका खुलासा सीबीआई सूत्रों ने किया है। गुजरात के गांधीनगर में आरोपियों के टेस्ट की प्रक्रिया 18 सितंबर चल रही है
आधिकारिक तौर पर 30 सितंबर तक आरोपी वहां पर रहेंगे लेकिन टेस्ट करवाने की अवधि बढ़ाई जा सकती है। इससे पूर्व शिमला की एक अदालत से टेस्ट करवाने की इजाजत मांगी गई। पांच में से चार आरोपियों ने इसके लिए सहमति दे दी, लेकिन शराल निवासी आशीष चौहान ने इनकार किया था। उसके वकीलों ने अदालत में भी इसका विरोध किया था। अदालत के निर्देश के बाद इसे अन्य आरोपियों के साथ टेस्ट करवाने गांधीनगर ले जाया गया। सीबीआई संकेत दे चुकी है कि उसे इस केस में बड़ी सफलता हाथ लगी है। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या पुलिस के हाथों पकड़े गए युवा असली नहीं है! सीबीआई जल्द ही वायरल तस्वीरों का सच भी सामने लाने में जुटी है। सीबीआई ने कोटखाई व महासू में डेरा डाल रखा है। क्षेत्रीय लोगों अनुसार वीरवार को टीम फिर से "सीन ऑफ क्राइम" पर पहुंची थी। कई लोगों से पूछताछ की गई। जिन व्यक्तियों से पूछताछ हुई है, उनमें वह युवक भी शामिल बताया गया जिनके फोटो वायरल हुए। सूत्रों के अनुसार सीबीआई ने कोटखाई व महासू में कई जगहों पर दस्तक दी। समझा जाता है कि आरोपियों के ब्रेन मैपिंग के दौरान मिले संकेतों के आधार पर यह कार्रवाई की गई है। सीबीआई ने स्कूल में छात्रा के साथ पढ़ने वाली लड़कियों और अध्यापकों से भी पूछताछ करके अहम पहलू जुटाए। मामले में सीबीआई ने अभी तक नई गिरफ्तारी नहीं की है। उसका जोर वैज्ञानिक आधार पर पुख्ता सबूत जुटाने पर ही रहा है। इसी कारण स्थानीय लोगों से लेकर चिरानियों, नेपालियों के ब्लड सैंपल एकत्र किए गए। बताया जा रहा है कि करीब 200 लोगों से पूछताछ हो चुकी है। दूसरी ओर उच्च न्यायालय में इस केस की सुनवाई 11 अक्तूबर को होनी है। उसी दिन कोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट सौंपी जाएगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
हिमाचल प्रदेश व गुजरात में कांग्रेस की जीत अटल -कैप्टन अमरिंदर सिंह कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री की कांग्रेस के विरूद्ध ‘दीमक’ की टिप्पणी को बीजेपी विरूद्ध उभर रही लहर की निराशा बताया रघुवीर सिंह सयाल ने टिकट की दावेदारी जता कर बढाई धवाला की बेचैनी हिमाचल: बिजली घंटों गायब, जेई का जवाब- बिजली नहीं तो इन्वर्टर लगा लो नकाबपोश बदमाशों द्वारा एटीम को लूटने का प्रयास, एक मारा गया, दूसरा घायल व तीसरा फरार नवरात्र मेला के दौरान रहेगी चाक चौबंद सुरक्षा प्रधानमंत्री मुद्रा योजना बनी बेरोजगारों के लिए बरदान - सयाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ कदम मिलाकर हिमाचल होगा विकसित: धनखड़ हिमाचल के बद्दी में दीवार ढ़हने से आठ मरे, सात घायल लाखों की रिश्वत लेते उद्योग विभाग बद्दी के संयुक्त निदेशक तिलकराज शर्मा रंगे हाथों काबू