ENGLISH HINDI Monday, December 11, 2017
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
फोर्टिस मामला: डेंगू से बच्ची की मौत और 16 लाख के बिलों पर अन्य आपराधिक धाराएं पर्चे में जोड़ी जाएंगी: अनिल विजप्रेस क्लब के सचिव जलेश ठठई की माता का देहांत ,हेमकुंट पब्लिक स्कूल मोहाली मेें करवाए बच्चों के कविता उच्चारण मुकाबलेआम लोगों की ओर से अकाली दल की ड्रामेबाजी का विरोध शुभ संकेत -भगवंत मानडीजीपी वी.के भावड़ा ने की शबरी प्रसाद की किताब ‘बॉर्डरलाईन’ रिलीज, कहा डाक्टरी विज्ञान साहित्य के लिए होगी लाभदायकविदेश में खेलने का सपना होगा पूरा, सूरज को कृषि मंत्री श्री ओम प्रकाश धनखड़ ने दी 71 हजार की मदद रोपड़ ज़िले के काठगढ़ में बनेगी फिल्म सिटी : रैंच7 दिसंबर , गुरुवार को पड़ रहा है विशेष संयोग गुरु-पुष्य योग
राष्ट्रीय

जीएसटी काउंसिल की बैठक मे उदयमियों को कई राहत के ऐलान

October 07, 2017 11:29 AM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज/संजय मिश्रा:
प्रधानमंत्री मोदी द्वारा व्यापारियों को दिये गए भरोसे के तहत शुक्रवार को दिल्ली में जीएसटी काउंसिल की बैठक हुई,जो कई घंटों तक चली इस बैठक में कई अहम फ़ैसले लिए गए. बैठक के बाद केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने जीएसटी के दायरे में छोटे व्यापारियों के लिए छूट का ऐलान किया गया है।
इस में 1 डेढ़ करोड़ रुपये तक के टर्नओवर वाले कारोबारियों को हर महीने जीएसटी रिटर्न भरने से छूट.अब तीन महीने में भर सकेंगे जीएसटी.रिटर्न लेकिन टैक्स की पेमेंट मंथली करनी होगी।
2 एक करोड़ तक की कमाई वाले रेस्तरां मालिकों को अब 5 फ़ीसदी टैक्स देना होगा.
3 रिवर्स चार्ज की व्यवस्था 31 मार्च 2018 तक स्थगित.
4 निर्यातकों का क्रेडिट काफ़ी ब्लॉक हुआ है जिस वजह से 10 अक्तूबर से निर्यातकों को जुलाई, अगस्त का रिफंड दिए जाने का फ़ैसला किया गया. हर निर्यातक के लिए ई वॉलेट बनेगा. अप्रैल 2018 से ई वॉलेट व्यवस्था पर काम शुरू करने की कोशिश होगी.
5 कम्पोज़िशन स्कीम की सीमा 75 लाख रुपए से बढ़ाकर 1 करोड़ रुपए की गई है. इस स्कीम में ट्रेडिंग ( एक करोड़ के टर्नओवर पर एक प्रतिशत, मैन्यूफ़ैक्चरिंग को 2 प्रतिशत और रेस्त्रां को पांच फ़ीसदी टैक्स देना पड़ेगा)
6 एक करोड़ रुपए से ज़्यादा के टर्न ओवर वाले रेस्त्रां पर लगने वाले कर ढांचे में बदलाव पर विचार किया जाएगा.
जीएसटी काउंसिल की बैठक में कई चीज़ों की टैक्स दरें घटाने का फ़ैसला किया गया है. 
खाखरा पर टैक्स दर 12 से 5% किया गया, बिना ब्रांड वाले नमकीन पर टैक्स 12 % से 5 %, बिना ब्रांड वाली आयुर्वेदिक दवाओं पर भी 12 से पांच % किया गया, बच्चों के फ़ुड पैकेट पर 18 से 5% कर दिया गया है. मार्बल और ग्रेनाइट को छोड़कर फर्श में इस्तेमाल होने वाले पत्थरों पर लगने वाले टैक्स 28 % से घटाकर 18% किया गया, कई स्टेशनरी उत्पादों पर टैक्स 28 से 18% किया गया, डीज़ल इंजन के पार्ट्स पर टैक्स की दर 28 फ़ीसदी से घटाकर 18% की गई है. इसके अलावा ज़री वाले काम एवं भवन निर्माण सामाग्री पर भी टैक्स कम किया गया है.

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
बिहार में प्रवासी हरियाणवियों के साथ सीधा संवाद, मनोहर बोले 500 करोड़ से ज्यादा निवेश पर आॅन डिमांड सुविधाएं भगवान श्री सत्य साईं बाबा के 92 वें जन्मदिन समारोह के अवसर पर बहुधर्मी एवं वेद समारोह आयोजन 20 से 21 नवंबर तक होगा 300 साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ पहले एपीसीईआरटी सम्‍मेलन में लेंगे भाग मधुमेह पर काबू पाने के लिए स्वस्थ जीवनशैली अपनाने का आह्वान राष्‍ट्रपति ने किया 37वें भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय व्‍यापार मेला का उद्घाटन राहुल गांधी के टवीट, कांग्रेस और देश की जनता ने जीएसटी में राहत दिलाई ,भाजपा ने खरी खरी सुनाई राहुल गांधी ने मोदी को टारगेट कर किया नया टवीट...न खाऊंगा, न खाने दूंगा की कहानी, शाह-जादा, शौर्य और अब विजय रूपाणी नवोदय विद्यालय में ऑनलाइन एडमिशन सिर्फ सीएससी के माध्यम से वीरभद्र सिंह के कार्यकाल में हुई अपराध में बढोतरी: टंडन मनजीत सिह राय ने नेशनल कमीशन फार माइनोरिटी में बतौर मैंबर संभाला चार्ज