ENGLISH HINDI Tuesday, January 16, 2018
Follow us on
पंजाब

जीरकपुर: आग, पंगु प्रशासन, बेबस लोग, नेता मौन , सब कुछ रब आसरे . गोदाम में लगी आग से 32 घंटे बाद भी निकल रहा धु्ंआ

December 25, 2017 08:52 PM

जीरकपुर,  कलेर, मेजर अली 

भबात रोड के बगल में रविवार को गोदाम क्षेत्र में पारले जी कंपनी के गोदाम को लगी आग 32 घंटे बीतने बाद में भी पूरी तरह बुझी नहीं है और यहाँ गोदाम में से सोमावर को भी देर रात तक धुंआ उठता दिखाई दिया  शाम 6 बजे तक दमकल विभाग की एक गाडी भी देखी गई , जो धुंआ खत्म करने का प्रयास करती रही; उल्लेखनिय है कि आग के कारण गोदाम में जमा लाखों रुपए का माल जल कर राख हो गया है। इस के अलावा गोदाम के पास के कई गोदामें और निरंकारी भवन समेत लोगों के घरों को नुक्सान पहुँचा है। आग के कारण पुलिस ने अहतियात के तौर पर सभी घरों व गोदामों से लोगों को खाली करा लिया गया था, जिस कारण घर में रहते लोगों को मजबूरी में दूसरे स्थानों पर रात बितानी पड़ी थी। 

फायर ब्रिगेड कर्मियों ने बतायाकि आग पर काबू पाने के लिए अभी तक लगभग 85 फायर टैंडर इस्तेमाल हो चुके हैं। 32 घंटे बीत जाने के बाद में भी यहाँ जले हुए माल में से धुआँ निकल रहा है। आग के कारण नज़दीकी इमारतों की दीवारों में दरारें आ गई हैं। आग पर काबू पाने के लिए राजपुरा, मोहाली, पंचकुला, हाईग्राउंड और सिवल डिफेंस से भी फायर टैंडर बुलाऐ गए थे। एयर फोर्स से भी वाहन मंगवाए गए थे। दूसरे तरफ़ आग के कारण फैल रहा धुआँ ज़ीरकपुर के सनी इंकलेव, सिटी इंकलेव, जरनैल इंकलेव आदी क्षेत्र तक पहुँचना शुरू हो गया है। धुंए की एक मोटी चादर आज सारा दिन ज़ीरकपुर में देखी गई। यह गोदाम रिहायशी क्षेत्र में स्थित होने के कारण आसमान में धुओं के अंबार उठ रहा है जिस कारण आस पास के क्षेत्र में सांस लेना कठीन हो गया। फायर अफ़सर मनजीत सिंह ने कहा की लोहे की टीनों के नीचे आग अभी भी सुलग रही है जिस को काबू पाने के लिए प्रयास जारी है। तेज़ हवाएँ चलने कारण हर तरफ़ धुआँ ही धुआँ फैल गया है। जिसकी वजह से फायर कर्मियों को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। 

आग के आगे निढाल हो जाती दमकल 

आग की चुनौती के सामने दमकल विभाग डेराबास्सी की ताकत का खुलासा करने के लिए तथ्य बताने की जरूरत नहीं है। हाल में हुए भीषण अग्निकांड खुद फायर फाइटिंग सिस्टम की कमजोरी की दास्तां बयां करते हैं कभी लेट तो कभी पानी नहीं। सिटी इन्क्लेव में पारले जी के गोदाम में आग ने रौद्र रूप धारण किया तो दमकल जैसे खुद भयभीत हो गई। इससे पहले पभात के मन्नत इन्क्लेव में डाइपर गोदाम में भी भयानक आग के सामने दमकल बेबस नजर आई। विधानसभा क्षेत्र डेराबस्सी में एक मात्र फायर ब्रिगेड कार्यालय के पास मात्र 4 गाड़ियां हैं, उनमें से भी कोई न कोई अक्सर खराब रहती है।

क्विदंती

ग्रामीण क्षेत्रों में कहावत है कि चैत्र में आग अपने मायके आ जाती है और सावन में वापस ससुराल जाती है। इस दौरान वह मायके आई युवती के समान चंचल आचरण करती है। ग्रामीण इस कहावत से वाकिफ हैं, लेकिन दमकल विभाग इस तथ्य से अनभिज्ञ नजर आता है, क्योंकि अत्यधिक संवदेनशील वक्त में भी इसकी तैयारियां सिफर ही रहती हैं। न आग से जूझने के अतिरिक्त संसाधन जुटाए जाते हैं, न ही घटनास्थल पर जल्दी पहुंचने की तैयारी का इंतजाम किया जाता है। यही वजह है कि रविवार को गोदाम में आग लगने के तीन घंटे बाद तक दमकल नहीं पहुंच सकी। 

जीरकपुर फायर यूनिट, बिल्ली के गले घंट बांधे कौन 

विधानसभा की भौगोलिक स्थिति पर नजर डालें तो डेराबसी से जीरकपुर की दूरी करीब 9 किलोमीटर और जिला मोहाली 20 किलोमीटर दूर है। पूर्व से पश्चिम 42 किमी और उत्तर से दक्षिण 50 किमी से अधिक क्षेत्र में फैले पूरे डेराबस्सी विधानसभा के लिए केवल एकमात्र ही दमकल यूनिट का इंतजाम है। जीरकपुर के लोग 17 वर्षो से यहां यूनिट बनाए जाने की मांग कर रहे हैं। यहां तक कि सूबे में 2007 अकाली भाजपा सरकार के दौरान दिवंगत विधायक कैप्टन कंवलजीत सिंह इसी मांग को लेकर मुख्यमंत्री से मिले भी थे, लोग भी उच्चाधिकारियों और प्रदेश सरकार के बड़े ओहदेदारों से मिलकर अपनी मांग दोहरा चुके हैं। इसके बावजूद अभी तक जिरकपूर में फायर ब्रिगेड की ओर से कोई इंतजाम नहीं किया गया है और सबकुछ रब आसरे छोड दिया गया है;

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
बरनाला में एक करोड़ की गांजा भरी 35 बोरी समेत पांच तस्कर काबू. 19 जनवरी तक का पुलिस रिमांड दादा की मौत को बर्दाश्त नहीं करते कांग्रेस के युवा विंग नेता ने दादी व खुद को मारी गोली जगह-जगह पर लगे छोले-पूरी के लंगर सोढ़ी बठिंडा शहरी का जिला अध्यक्ष घोषित सिख चिन्हों को प्रदर्शित करता टेबल कैलंडर जारी जुलाई से होगी इमारती नक्शों की ऑनलाइन मंज़ूरी: सिद्धू सांझी रसोई का लाभ लेने से वंचित है जिले के जरूरतमंद लोग चोरी की मंशा से आया युवक रिटायर्ड फौजी का कत्ल कर फरार जीरकपुर में एक क्लिक पर घर बैठे करें ऑनलाइन रजिस्ट्री भूतपूर्व प्रधानमंत्री गुलजारी लाल नंदा के ब्रह्मचारी मित्र रोशन लाल कपिल का निधन