ENGLISH HINDI Saturday, September 22, 2018
Follow us on
पंजाब

ज़ीरकपुर में दो महीने से चल रही थी नकली शराब बनाने वाली फैक्ट्री

December 26, 2017 09:28 PM

ज़ीरकपुर (मेजर अली)

यहां के भबात क्षेत्र में एक गोदाम में चल रही नकली शराब बनाने की फैक्ट्री के मामले में कई अहम खुलासे हुए हैं। इस अवैध धंधे का मास्टर माइंड 55 साल का अजय कुमार है, जो पोंटा साहब में पहले शराब की फैक्ट्री चलाता था, जब वहां फैक्ट्री बंद तो जीरकपुर में अवैध शराब बनाने लगा। उसे बुधवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा, जीरकपुर पुलिस उसे पुलिस हिरासत में पूछताछ के लिए रिमांड मांगेंगी तो होंगे कई अन्य अहम खुलासे। डीएसपी डेराबस्सी पुरुषोतम सिंह बल्ल, थाना प्रमुख पवन कुमार शर्मा ने मीडिया से बातचीत में खुलासा किया कि अजय कुमार पहले हिमाचल नंबर 1 के नाम तले शराब की फैक्ट्री चलाता था। यहाँ किसी कारण उस की तरफ से कुछ महीने पहले फैक्ट्री बंद कर दी थी और पकड़े गए तीन हिस्सेदारों के साथ गोदाम किराये पर ले कर यहाँ शराब की फैक्ट्री खोल ली। बंद हुई फैक्ट्री में से पुरानी मशीन अजय यहाँ ले आया था जिसकी मदद के साथ वह शराब पुरानी बोतलों में भरते थे। गिरोह के सरगना अजय कुमार को ही शराब बनाने के बारे में पूरी जानकारी थी और अन्य को तो उसने अपने साथ वेतन पर रखा था।                                                              डीएसपी ने बताया कि मुलजिम कबाड़ियों के पास से पुरानी पेटियाँ खरीद कर उन में नकली शराब भर कर हिमाचल में बेचते थे। उन्होंने कहा कि अब तक की जांच में सामने आया कि दो बार नकली शराब की खेप ट्रकों के जरिए हिमाचल भेजी गई थी। जांच की जा रही है कि उन की तरफ से अब तक कितनी पेटियाँ शराब हिमाचल में किस जगह पर किस की मदद के साथ कहाँ भेजी गई हैं। पुलिस को मौके से शराब की पुरानी बोतलों और बड़ी संख्या में रैपर भी मिले हैं जिन पर हिमाचल में बेचने की चेतावनी लिखी हुई है। इसके अलावा पुलिस को मौके से एक सैंट्रो कार भी मिली है, जिसका इस्तेमाल शराब ढोने के लिए किया जाता था।
गोदाम का विभाजन
आरोपियों ने गोदाम को दो हिस्सो में इसलिए बांटा था कि किसी को संदेह न हो. इसीलिए गोदाम का अगला हिस्सा खाली रखा हुआ था ताकि किसी भी आने वाले को इस अवैध धंधे की भनक न लगे। पुलिस गोदाम के मालिक की भी जांच है कि कहीं वह भी इस में शामिल है या नहीं।
नकली रॉयल स्टैग, रेडनाइट, और हरकुलिस रम
डीएसपी ने बताया कि पुलिस ने मौके से 226 पेटी हरकुलिस रम, 185 पेटी रेडनाइट और 91 पेटी रॉयल स्टैग शराब की मिलीं हैं। पुलिस ने मौके से हज़ारों लीटर नकली शराब, सैंकड़े लीटर स्प्रिट, व्हिस्की और रम बनाने के लिए फ्लेवर समेत बरामद किया है। मौके से काबू किए गए आरोपियों की पहचान अजय ग्रोवर और मनीष कुमार निवासी मनीमाजरा, हरदेव सिंह और मनदीप सिंह निवासी खरड़, गुरप्रीत सिंह उर्फ हैपी निवासी ज़ीरकपुर के रूप में हुई है। पुलिस ने मुलजिमों के ख़िलाफ़ आबकारी एक्ट, धोखाधड़ी, जाली दस्तावेज़ तैयार करने समेत दूसरी धारायें के अंतर्गत केस दर्ज किया था।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
'आप' ने यूथ विंग का बड़े स्तर पर विस्तार, पदाधिकारियों का ऐलान बठिंडा में एम्ज़ के लिए ज़मीन तबदील करने की मंजूरी सर्किट हाऊस बुकिंग करने वाला पोर्टल रहेगा 6 दिन बंद आठ जि़लों में 53 बूथों पर फिर पोलिंग के आदेश नहरों में 22 सितंबर से पानी छोडऩे के विवरण जारी नैना देवी रोपवे प्रोजैक्ट को हरी झंडी, पर्यटन को मिलेगा प्रोत्साहन जीरकपुर के लोहगढ़ क्षेत्र में ब्यूटी पार्लर रहस्यमयी हालत में लापता संद्धिग्ध परिस्थितियों में युवती का शव मिला, चल रहे थे कीडे जिंम में एक्सरसाइज करने आए युवक का मोटरसाईकल चोरी सड़क किनारे रेहड़ी -फड़ी वालों के अवैध कब्ज़े जारी, नगर कौंसिल की कार्रवाई बेअसर