ENGLISH HINDI Thursday, November 15, 2018
Follow us on
चंडीगढ़

भगवान शनिदेव के बारे बाबा रामदेव ने दिया आपत्तिजनक बयान: शनिभक्त भडक़े

January 04, 2018 08:21 PM

शंभू बैनर्जी ने दिया दस दिन का अल्टीमेटम, मांफी न मांगने की सूरत में देशभर में आंदोलन का रास्ता अख्तियार किया जाएगा

चण्डीगढ़। समाज अधिकार कल्याण पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शंभू बैनर्जी ने शनिदेव पर एक बाबा रामदेव के आपत्तिजनक बयान को लेकर मोर्चा खोल दिया है। रेवाड़ी में कुछ दिन पूर्व आयोजित हुए एक कार्यक्रम में बाबा रामदेव ने बयान दिया था कि शनि पर तेल चढ़़ाने से कुछ नहीं होता। इसके अलावा उन्होंने शनिदेव को महज एक काला पत्थर करार दिया था। 

 शंभू बैनर्जी ने इस बयान पर कड़ी आपत्ति दर्ज कराते हुए कहा कि ढोगी व पाखंडी बाबाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए जिसका वह भी समर्थन करते हैं। पर भगवान शनिदेव कोई बाबा नहीं हैं बल्कि सभी के पूज्य देव हैं। बाबा रामदेव जैसे स्तर के व्यक्तित्व को शनिदेव को महज काला पत्थर बताना शोभा नहीं देता है।

उन्होंने कहा कि भगवान शनिदेव की आरती में भी एक पंक्ति आती हैं कि- विश्वनाथ धरत ध्यान शरण है तिहारी, अर्थात स्वयं महादेव भी शनिदेव का ध्यान करते हैं। उन्होंने कहा कि बाबा रामदेव का उक्त बयान उनके अज्ञानता का प्रदर्शन करता है। उनके बयान से देशभर में करोड़ों शनिभक्तों की भावनाएं आहत हुई हैं।

उन्होंने अल्टीमेटम देते हुए कहा कि यदि आगामी शनिवार यानी 1३ जनवरी तक बाबा रामदेव ने अपने बयान को लेकर शनिभक्तों से माफी नहीं मांगी तो वह उनका पुतला फूंकेंगे व धरना प्रदर्शन भी करेंगे। इसके अलावा अदालत की शरण में भी जाएंगे। यह फैसला आज समाज अधिकार कल्याण पार्टी की आपात बैठक में लिया गया जिसमें पार्टी के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष अजय सिंगला, चंडीगढ़ के प्रधान दान बहादुर एडवोकेट, पंजाब के प्रधान समुंद्र सिंह, कानूनी सलाहकार विनोद चंदेल एवं सचिव अमरनाथ व बलराज श्रीमाली आदि भी मौजूद थे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें