ENGLISH HINDI Friday, June 22, 2018
Follow us on
हरियाणा

7 माह बाद वन विभाग ने नहीं दी मजदूरी, अधिकारी नहीं सुन रहे इन मजदूरों की फरियाद

January 12, 2018 05:49 PM

नूंह (धनेश विद्यार्थी) वन विभाग में मजदूरी करने के सात माह बाद भी मजदूरों को उनका मेहनताना नहीं मिल रहा है। पिछले सात माह से मजदूर निरंतर वन विभाग के अधिकारियों के चक्कर काट रहे हैं लेकिन न तो कोई इनकी फरियाद सुन रहा है और न ही इनको इनका मेहनताना नहीं मिल रहा है। जिसकी वजह से मजदूर पूरी तरह से परेशान हैं। वन विभाग में मजूदूरी करने वाली महिलाओं प्रेमवती, सोमोती, अंगूरी, वीना, संतो, तारा, अनीता ने बताया कि उन्होंने वन विभाग में काम किया था। लेकिन उनका जून एवं जुलाई माह का मेहनताना अभी तक वन विभाग के अधिकारियों ने नहीं दिया।
इन महिलाओं ने कहा कि पिछले सात माह से वे वन विभाग के अधिकारियों के चक्कर काट-काटकर परेशान हैं। लेकिन न तो उनको आज तक उनकी मजदूरी दी गई और न ही उनको बताया जा रहा है कि कब तक वे मजदूरी देंगें। इतना ही नहीं बल्कि वन विभाग में चौकीदार के पद पर कार्य कर रहे उनको भी मई 2017 से उनका वेतन नहीं मिला है।
लगभग 500 मजदूरों की मजदूरी रह रही है बकाया:
फिरोजपुर झिरका उपमंड़ल के कई ब्लाकों में वन विभाग में मजदूरी करने वाले लगभग 500 मजदूरों की मजदूरी पिछले सात महीनों से बकाया है। इस मजदूरी के लिए मजदूर निरंतर वन विभाग के अधिकारियों के चक्कर काट रहे हैं।
बिल बनाकर दे दिए हैं, अधिकारी पेमेंट नहीं कर रहे:
वन रक्षक हंसराज का कहना है कि सभी वन रक्षकों ने रजिक अधिकारी को बिल बनाकर दे दिए हैं। लेकिन उसके बावजूद भी मजदूरों की पेमेंट नहीं की जा रही है।
फोन पिक नहीं कर रहे वन रजिक अधिकारी:
वन रजिक अधिकारी नबाब सिंह को 11 जनवरी को कई घंटों तक फोन मिलाया लेकिन उन्होंने फोन पिक नहीं किया। जबकि 12 जनवरी को भी उनसे फोन पर संपर्क नहीं हो पाया।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें