ENGLISH HINDI Friday, December 14, 2018
Follow us on
पंजाब

पूर्व चीफ़ जस्टिस मेला राम शर्मा की याद में हाई कोर्ट में शोकसभा

March 13, 2018 05:46 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के पूर्व जस्टिस मेला राम शर्मा जिनका बीते दिन देहांत हो गया था, की याद में आज पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट में शोक सभा (फूल कोर्ट रैफ़ेरैंस) की गई जिसमें चीफ़ जस्टिस सहित हाई कोर्ट के समूह जजों ने हिस्सा लिया।
शोक सभा में पूर्व जस्टिस मेला राम शर्मा को याद करते हाई कोर्ट के चीफ़ जस्टिस एस. जे. वजीफदार ने चीफ़ जस्टिस शर्मा की कानून क्षेत्र में निभाईं शानदार सेवाओं को याद किया। चीफ़ जस्टिस मेला राम शर्मा के आकस्मिक निधन को कानूनी भाईचारो के लिए बड़ी कमी करार देते उन्होंने कहा श्री शर्मा हर क्षेत्र में विलक्षण योग्यता रखने साथ-साथ मानवीय भावना की कद्र करने वाले मनुष्य थे। पूर्व जस्टिस शर्मा के परिवार के साथ दुख सांझा करते हुये उन्होंने जस्टिस शर्मा द्वारा कानून के क्षेत्र के लिए निभाईं सेवाओं पर प्रकाश डाला।
इससे पहले सत्यपाल जैन सहायक सोलिस्टर जनरल भारत सरकार, श्री अतुल नन्दा, एडवोकेट जनरल पंजाब, श्री बलदेव राज महाजन एडोवोकेट जनरल हरियाणा, श्री विजिन्दर अहलावत, चेयरमैन बार कौंसिल पंजाब, और रवीन्द्र सिंह रंधावा माननीय सचिव, हाई कोर्ट बार कौंसिल ने भी पूर्व जस्टिस मेला राम शर्मा को श्रद्धा के फूल भेंट किये।
शोक सभा में पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के पूर्व जज के अलावा जस्टिस शर्मा के पारिवारिक सदस्यों और बार कौंसिल के मैंबर भी उपस्थित थे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
बैंक शाखाओं में नहीं सुरक्षाकर्मी स्थापना दिवस का मुख्य मकसद पार्टी की बेहतरी के लिए अरदास करना: एन.के.शर्मा शीस मार्ग यात्रा का ज़ीरकपुर पहुँचने पर स्वागत मोहाली जिले में मकान मालिकों को किरायेदार, नौकर, पेइंग गेस्ट का पूरा विवरण थानों में देने के आदेश कंप्यूटर विषय सबंधित क्विज मुकाबले करवाए रात 10 से सुबह 6 बजे तक लाऊंड स्पीकर चलाने पर पाबंदी अज्ञात व्यक्ति का सायबर केफे प्रयोग करने पर पाबंदी के आदेश महिलाओंं को 33 प्रतिशत आरक्षण की माँग प्रस्ताव विधानसभा में पास समारोहों स्थलों में हथियार लेकर आने पर पाबंदी के आदेश, अज्ञात व्यक्ति नहीं कर सकता साइबर कैफे का प्रयोग एयरफोर्स स्टेशन से एक हज़ार मीटर एरिया के आसपास मीट की दुकाने चलाने पर पूर्ण तौर पर पाबंदी