हरियाणा

राष्ट्रमंडल खेल-2018 : हरियाणा ने जीते 22 पदक, मनोहर लाल और अनिल विज ने दी बधाई

April 15, 2018 08:54 PM

चंडीगढ़,सोनीपत, फेस2न्यूज                                                                                               हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल व खेल एवं युवा मामले मंत्री श्री अनिल विज ने आस्ट्रेलिया के गोल्ड कॉस्ट में आयोजित किए गए राष्ट्रमंडल खेल-2018 में हरियाणा के विजेता खिलाडियों को बधाई व शुभकामनाएं दी है।
मुख्यमंत्री ने राष्ट्रमंडल खेल-2018 में भाग लेने वाले सभी खिलाडियों को अपनी शुभकामनाएं दी और कहा कि हमें राष्ट्रमंडल खेल-2018 की सभी प्रतियोगिताओं में खिलाडियों के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन पर गर्व है। खेल एवं युवा मामले मंत्री श्री अनिल विज ने घोषणा की कि हरियाणा सरकार की ओर से स्वर्ण पदक विजेता खिलाड़ी को 1.5 करोड़ रुपए, रजत पदक विजेता खिलाड़ी को 75 लाख रुपए तथा कांस्य पदक विजेता खिलाड़ी को 50 लाख रुपए की राशि से पुरस्कृत किया जाएगा।
श्री विज ने टवीट करते हुए बताया कि स्वर्ण पदक विजेता खिलाडी को हरियाणा सरकार की श्रेणी-ए, रजत पदक विजेता खिलाडी को श्रेणी-बी तथा कॉस्य पदक विजेता खिलाडी को श्रेणी-सी की नौकरी का हक होगा।
उल्लेखनीय है कि आस्ट्रेलिया के गोल्ड कॉस्ट में आयोजित किए गए राष्ट्रमंडल खेल-2018 में हरियाणा के 38 खिलाडियों ने भाग लिया था और इन खिलाडियों ने 22 पदकों को जीता, जिनमें से 9 स्वर्ण पदक, 6 रजत पदक और 7 कांस्य पदक शामिल है। दूसरी ओर मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार श्री राजीव जैन ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा खिलाडियों के भविष्य को संरक्षण देने की दिशा में बेहतरीन प्रयास किए जा रहे हैं। पूर्व में खिलाडियों के मान-सम्मान में बढोतरी के निर्णय ले चुकी प्रदेश सरकार भविष्य में खिलाडियों को एचसीएस/एसपीएस मानद पद और सुविधाएं प्रदान करते हुए खेल क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने का अवसर प्रदान करेगी।
आज सोनीपत के भठगांव में राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक जीतकर लौटे निशानेबाज खिलाड़ी अंकुर मित्तल को उनके पैतृक गांव में किए गए भव्य स्वागत के अवसर पर मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार श्री राजीव जैन ने बधाई दी और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।
इस अवसर पर श्री राजीव जैन ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा राष्ट्रमंडल खेलों में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाडियों को स्वर्ण पदक जीतने पर 1.5 करोड रूपए, रजत पदक जीतने पर 75 लाख रूपए तथा कांस्य पदक जीतने वाले खिलाडी को 50 लाख रूपए का नकद पुरस्कार दिया जाएगा, वहीं स्वर्ण विजेता खिलाडी को श्रेणी प्रथम, रजत विजेता खिलाडी को श्रेणी द्वितीय तथा कांस्य विजेता खिलाडी को श्रेणी तृतीय की नौकरी दी जाएगी।
उन्होंने कहा कि हाल ही में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में हुई मंत्रीमंडल की बैठक में ओलंपिक, एशियाड तथा राष्ट्रमंडल खेलों में बेहतर प्रदर्शन कर देश का नाम रोशन करने वाले खिलाडियों के लिए ऐसी नीति बनाई गई है, जिसमें न केवल उनका मान-सम्मान बढाते हुए भविष्य को संरक्षण प्रदान किया जाएगा, बल्कि लगातार खिलाडी खेल के मैदान में अपनी प्रतिभा और क्षमता को मजबूत कर सकें, ऐसे अवसर भी प्रदान किए जाएंगे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें