ENGLISH HINDI Friday, October 19, 2018
Follow us on
पंजाब

ट्रैफ़िक नियमों का उल्लंघन करते आटो -चालकों के विरुद्ध हो सख़्त कार्रवाई

June 13, 2018 08:05 PM

आटो चालक शहर की सड़को पर हुल्लड़बाजी मचाते हैं, पुलिस की तरफ से खुली छूट मिलने कारण किसी की भी परवाह नहीं करते। एक दूसरे से आगे अधिक से अधिक सवारी उठाने के चक्कर में आटो रिक्शा चालक ट्रैफ़िक नियमों का उल्लंघन कर आटो में बैठीं सवारियों के लिए भी ख़तरा पैदा करते हैं और शहर में चलते ऐसे थ्री वहीलर कई बार हादसों दौरान सवारियों को ज़ख़्मी भी कर चुके हैं।

जीरकपुर, जेएस कलेर
ज़ीरकपुर शहर की ट्रैफ़िक व्यवस्था की बदहाली से सभी ही जानकार हैं। शहरवासी जहाँ ट्रैफ़िक व्यवस्था की इस बदहाली से बुरी तरह त्रस्त दिखते हैं वहाँ वह ट्रैफ़िक व्यवस्था की इस बदहाली के लिए शहर में ट्रैफ़िक नियमों की खुल कर उल्लंघन कर चलते आटो रिक्शों के ख़िलाफ़ ट्रैफ़िक पुलिस की ओर से कोई कार्यवाही न किये जाने को भी ज़िम्मेदार ठहराते हैं। लोग तो यह भी शिकायत करते हैं कि यदि कोई अन्य वाहन चालक इन आटो चालकों की ओर से ट्रैफ़िक नियमों का उल्लंघन पर
 
उनको रोकता है तो आगे से आटो चालक उसके साथ लड़ाई करने को आते हैं।

शहर वासियों की यह आम शिकायत है कि ट्रैफ़िक पुलिस की ओर से इन आटो चालकों के ख़िलाफ़ कोई कार्यवाही नहीं की जाती जिस कारण यह आटो चालक पूरी तरह बेलगाम हो चुके हैं। ट्रैफ़िक पुलिस से लोगों को यह भी शिकायत है कि उसकी तरफ से शहर में अन्य वाहन चालकों की से किसी भी छोटे बड़े उल्लंघन के लिए तो उनका तुरंत चालान कर दिया जाता है परंतु जब बात इन आटो चालकों की आती है तो वही ट्रैफ़िक पुलिस आटो चालकों द्वारा ट्रैफ़िक नियमों के उल्लंघन को पूरी तरह नजरअंदाज कर देती है जबकि आटो चालकों में से ज़्यादातर के पास न तो लाईसंस होता है, न ही इनके वाहनों के कागज़ ही मुकम्मल होते है और न ही इनको ट्रैफ़िक नियमों की पूरी जानकारी ही होती है।
यह आटो चालक शहर की सड़को पर हुल्लड़बाजी मचाते हैं, पुलिस की तरफ से खुली छूट मिलने कारण किसी की भी परवाह नहीं करते। एक दूसरे से आगे अधिक से अधिक सवारी उठाने के चक्कर में आटो रिक्शा चालक ट्रैफ़िक नियमों का उल्लंघन कर आटो में बैठीं सवारियों के लिए भी ख़तरा पैदा करते हैं और शहर में चलते ऐसे थ्री वहीलर कई बार हादसों दौरान सवारियों को ज़ख़्मी भी कर चुके हैं।
यह आटो चालक अपने पीछे वाले किसी वाहन चालक की ओर से बार-बार हार्न देने के बावजूद उसको रास्ता देने के लिए तैयार नहीं होते और इस कारण आम लोगों को सड़क पर अपना वाहन चलाने में भारी परेशानी होती है। इस सब के बावजूद ट्रैफ़िक पुलिस की तरफ से इन आटो चालकों की शरारतों को पूरी तरह अनदेखा करना ट्रैफ़िक पुलिस की कारगुज़ारी पर भी प्रश्न चिन्ह खड़ा करती है। शहर निवासी यह भी इल्ज़ाम लगाते हैं कि ट्रैफिक पुलिस की ओर से शहर में चलते आटो चालकों से हर महीने एक फिक्स रकम ‘एंट्री’ वसूली जाती है और यह आटो चालक पुलिस कर्मचारियों को मुफ़्त सफ़र की सेवा भी देते हैं इसलिए ही पुलिस की ओर से इनके ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं की जाती।
ट्रैफ़िक नियमों का उल्लंघन करने वाले इन आटो रिक्शा चालकों को सख्ती के साथ कानून का पाठ पढ़ाया जाया जाना चाहिए।
इन आटो रिक्शा वालों की ओर से किए जाने वाले कानून के उल्लंघन को सख्ती के साथ रोका जाना चाहिए जिससे शहर निवासियों को सड़कों पर होती इस गुंडागर्दी से छुटकारा हासिल हो और दिन ब दिन बढ़ती इस समस्या पर काबू पाया जा सके।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
सरकारी लॉटरी की आड़ में चल रहा था लाटरी बाजार में सटटा, तीन को किया काबू, सात हजार की नकदी बरामद पीरखाना में आधी रात के समय लगी आग, हड़कंप, एक हिरासत में लोगों पर बोझ डालने की बजाए सरकार माफिया व भ्रष्टाचार पर करे काबू: चीमा इरादा कत्ल आरोपित तीन लोग केस से बरी बहु-करोड़ी क्राउन चिटफंड घोटालेबाजों के खिलाफ इश्तहार जारी वेतन न मिलने से परेशान कर्मियों ने प्रबंधकों के खिलाफ किया प्रदर्शन बिल्डर द्वारा तोड़ी सड़क को नगर काउंसिल करवा रही है ठीक ट्रैफिक पुलिस ने नियमों का उल्लंघन करने वाले 50 वाहनों के काटे चालान हत्या के प्रयास मामले में नामजद गैंगस्टर संपत नेहरा का साथी दीपक उर्फ दीपू बरी अवैध निर्माण ढहाने वाले धारा 195 के नोटिस रद्द