ENGLISH HINDI Thursday, July 19, 2018
Follow us on
राष्ट्रीय

मुंबई के विक्टोरियन गोथिक एवं आर्ट डेको इंसेबल्स विश्व धरोहर संपदा घोषित

July 01, 2018 03:19 PM

मुंबई, फेस2न्यूज:
एक अन्य ऐतिहासिक उपलब्धि के रूप में भारत के ‘मुंबई के विक्टोरियन गोथिक एवं आर्ट डेको इंसेबल्स‘ को यूनेस्को की विश्व धरोहर संपदा की सूची में अंकित किया गया। यह निर्णय बहरीन के मनामा में यूनेस्को की विश्व धरोहर समिति के 42वें सत्र में लिया गया। जैसीकि विश्व धरोहर समिति ने अनुशंसा की, भारत ने इंसेबल का नया नाम ‘मुंबई के विक्टोरियन गोथिक एवं आर्ट डेको इंसेबल्स‘ स्वीकार कर लिया।
भारत मानदंड (2) एवं (4) के तहत, जैसाकि यूनेस्को के संचालनगत दिशानिर्देशों में निर्धारित किया गया है, ‘मुंबई के विक्टोरियन गोथिक एवं आर्ट डेको इंसेबल‘ को विश्व धरोहर संपदा की सूची में अंकित करवाने में सफल रहा है।
इससे मुंबई सिटी अहमदाबाद के बाद भारत में ऐसा दूसरा शहर बन गया है जो यूनेस्को की विश्व धरोहर संपदा की सूची में अंकित है।
यह इंसेम्बल दो वास्तुशिल्पीय शैलियों, 19वीं सदी की विक्टोरियन संरचनाओं के संग्रह एवं समुद्र तट के साथ 20वीं सदी के आर्ट डेको भवनों से निर्मित्त है।
यह इंसेम्बल मुख्य रूप से 19वीं सदी के विक्टोरियन गोथिक पुनर्जागरण के भवनों एवं 20वीं सदी के आरंभ की आर्ट डेको शैली के वास्तुशिल्प से निर्मित्त है जिसके मध्य में ओवल मैदान है।
इसके अतिरिक्त, देश के 42 स्थल विश्व धरोहर की प्रायोगिक सूची में हैं और संस्कृति मंत्रालय प्रत्येक वर्ष यूनेस्को को नामांकन के लिए एक संपत्ति की अनुशंसा करता है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
महिला आयोग की लोक अदालत में 35 मामलों का निपटारा नाबार्ड ने 37वां स्थापना दिवस मनाया वो भाई ही होता है... अफगानिस्तान में बसे सिख-हिन्दुओं को सहायता देगी भारत सरकार: सांपला मेडिकल कॉलेज शिक्षा की गुणवत्ता भारत के स्वस्थ भविष्य का जीवन आधार: उपराष्ट्रपति राष्ट्रपति 7 और 8 जुलाई को गोवा यात्रा पर सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, दिल्ली के असली बॉस मुख्यमंत्री है, उपराज्यपाल नहीं कोसली-दिल्ली वाया रेवाड़ी रेल-सेवा शुरू होने का सैनिकों को बेसब्री से इंतजार दिल्ली में निजी स्वामित्व भूमि के नियोजित विकास के लिए अधिसूचना जारी इसरो ने अंतरिक्ष यात्री बचाव प्रणाली का सफलतापूर्वक किया परीक्षण