ENGLISH HINDI Wednesday, September 19, 2018
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
श्राद्ध पक्ष. 24 सितंबर से 8 अक्टूबर 2018 तक क्यों करें श्राद्ध ?प्रत्येक नागरिक की प्रतिबद्धता से बनेगा चण्डीगढ़ स्वच्छता में नम्बर वन: महापौर'आप' ने कांग्रेस, अकाली-भाजपा पर पंचायती राज संस्थाओं को बर्बाद करने का लगाया आरोपअकालियों व कांग्रेसियों की तकरार में दो को गंभीर चोटेंअकाली वर्कर के साथियों द्वारा अस्पताल के सुरक्षाकर्मी से हाथापायी करने पर हंगामाश्री राधा अष्टमी का महोत्सव बड़े हर्षोल्लास के साथ मनायाएनीमिया मुक्त भारत और घर में बच्चे की देखभाल पर राष्ट्रीय प्रसार कार्यशाला का उद्घाटनदेवप्रीत सिंह ने पीआईबी उत्तरी क्षेत्र के अपर महानिदेशक का पदभार संभाला
हिमाचल प्रदेश

मुख्यमंत्री ठाकुर ने की करसोग में पॉलीटैक्नीक कॉलेज खोलने की घोषणा

July 06, 2018 08:52 PM

मंडी , ध्यान सिंह
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मण्डी ज़िला के करसोग विधानसभा क्षेत्र के करसोग में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि ततापानी को मुख्य धार्मिक व पर्यटन गंतव्य के रूप में विकसित किया जाएगा। उन्होंने करसोग में पॉलीटैक्नीक कॉलेज निर्माण की भी घोषणा की।

*करसोग अस्पताल को स्तरोन्नत कर किया जाएगा 150 बिस्तरों का अस्पताल
*ममेल में स्थापित होगा आयुर्वेदिक अस्पताल


मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार केन्द्र से पर्यटन क्षेत्र के लिए 1900 करोड़ रुपये, बागवानी के लिए 1680 करोड़ रुपये तथा सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य के लिए 800 करोड़ रुपये प्राप्त करने में सफल हुई है जो प्रदेश सरकार की राज्य के कल्याण के प्रति वचनबद्धता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार का चार वर्षों का कार्यकाल उपलब्धियों भरा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने देश के 12 करोड़ किसानों को लाभान्वित करने के लिए 14 मुख्य फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्यों में वृद्धि की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के किसानों की आय वर्ष 2022 तक दोगुना करने के लिए प्रतिबद्ध है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उदारता तथा प्रदेश के लोगों के प्यार और आशीर्वाद के कारण लोगों की सेवा करने का अवसर प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि हिमाचली टोपी, हिमाचल की संस्कृति का गौरव है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ लोग अपने संकुचित हितों के कारण लोगों को टोपी के रंग के आधार पर बांटने का प्रयास करते हैं। उन्होंने कहा कि वे राजनीतिक द्वेष व प्रतिशोध के विरूद्ध है। उन्होंने कहा कि प्रदेश का विकास व प्रगति सुनिश्चित करना राज्य सरकार का एकमात्र लक्ष्य है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा आरम्भ किया गया जनमंच कार्यक्रम लोगों की शिकायतों का उनके घर-द्वार के निकट निवारण सुनिश्चित करने के लिए आरम्भ किया गया है। उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेता यह दावा कर रहे हैं कि वर्तमान सरकार द्वारा आरम्भ किए जा रही सभी विकासात्मक परियोजनाएं उनके स्वप्न थे। उन्होंने विपक्ष के नेताओं से जानना चाहा कि इन योजनाओं को आरम्भ करने के लिए उन्हें किसने रोका था तथा कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार स्वप्नों पर नहीं बल्कि कार्य करने पर विश्वास रखती है। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने अपने छोटे से छः माह के कार्यकाल में समाज के सभी वर्गों का कल्याण सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न योजनाएं आरम्भ की हैं।
जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश के सभी परिवारों को गैस कनैक्शन सुनिश्चित बनाने के लिए राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना आरम्भ की है। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार ने प्रदेश के प्रमुख मंदिरों से एकत्रित चढ़ावे की धनराशि तक का दुरूपयोग किया, जबकि वर्तमान प्रदेश सरकार ने मंदिरों से चढ़ावे का 15 प्रतिशत गौसदनों के निर्माण व रख-रखाव पर खर्च करने का ऐतिहासिक निर्णय लिया है, जिस पर अब कुछ नेता बहुत हो-हल्ला कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अपने हेलीकॉप्टर को पर्यटकों की सुविधा के लिए सप्ताह के तीन दिन हेलीटैक्सी के रूप में उपयोग करने का निर्णय लिया है।
मुख्यमंत्री ने करसोग स्थित 100 बिस्तरों वाले अस्पताल को स्तरोन्नत कर 150 बिस्तरों वाले अस्पताल करने की घोषणा तथा ममेल में 10 बिस्तरों की क्षमता वाले आयुर्वेदिक अस्पताल को आरम्भ करने की घोषणा की। उन्होंने करसोग बस अड्डे के लिए एक करोड़ रुपये तथा करसोग में सड़कों के लिए 30 लाख रुपये की घोषणा की। उन्होंने सिचांई एवं जन स्वास्थ्य मंडल कोटलू, स्वास्थ्य उप केन्द्र काओ, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला माहूनाग में विज्ञान कक्षाएं आरम्भ करने, पांगना में वाणिज्य कक्षाएं आरम्भ करना, राजकीय उच्च पाठशाला लाला को वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करना तथा माध्यमिक पाठशाला कलाम को स्तरोन्नत कर उच्च पाठशाला करने की घोषणा की। उन्होंने ममेल तथा कामक्षा मंदिर को पांच-पांच लाख रुपये प्रदान करने की भी घोषणा की। उन्होंन प्रेस क्लब करसोग को पांच लाख रुपये देने की घोषणा की।
इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने करसोग में 134.09 लाख रुपये की लागत से निर्मित लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियन्ता के कार्यालय का लोकार्पण किया।
मुख्यमंत्री ने 40.72 लाख रुपये की लागत से राजकीय महाविद्यालय करसोग के अतिरिक्त भवन की आधाशिला रखी। उन्होंने 14.86 करोड़ रुपये की लागत से करसोग में निर्मित होन वाले मिनी सचिवालय की भी आधारशिला रखी। उन्होंने 1.38 करोड़ रुपये की लागत से इमला-बिमला तटीकरण योजना की भी आधारशिला रखी। उन्होंने करसोग में अग्निशमन चौकी को भी आरम्भ किया।
मुख्यमंत्री ने करसोग में अपना पुस्तकालय तथा 67.48 लाख रुपये की लागत से निर्मित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला चुराग की विज्ञान प्रयोगशाला का भी शुभारम्भ किया। उन्होंने शंकर देहरा-करसोग थुनाग-छतरी-जंजैहली बस सेवा को भी हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।
इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने करसोग स्थित ममलेश्वर मंदिर का दौरा कर पूजा-अचर्ना की।
सांसद राम स्वरूप शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि छोटी काशी मण्डी ने प्रदेश को मुख्यमंत्री के रूप में ईमानदार व परिश्रमी नेता दिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने राज्य के लोगों के कल्याण के लिए अनेक योजनाएं आरम्भ की है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा गत चार वर्षों के दौरान देश के आवासहीनों के लिए एक करोड़ आवासों का निर्माण किया है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार प्रदेश की विकासात्मक आवश्यकताओं के प्रति सजग है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की पूर्व सरकार केन्द्र सरकार द्वारा प्रदेश को प्रदान की गई धनराशि का उपयोग करने में असफल रही है और अब ये लोग बेकार में हो-हल्ला कर रहे हैं.

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें