चंडीगढ़

मजदूर सेना द्वारा कालोनियों में इकाईयों का गठन शुरू

July 12, 2018 07:15 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
स्व. जय राम जोशी द्वारा वर्ष 1994 में स्थापित ‘मजदूर सेना’ द्वारा चंडीगढ़ की सभी कालोनियों में अपने पदाधिकारियों का गठन किया जा रहा है। इसी तरह मौली जागरां में हुई बैठक में युवा एवं महिला इकाई का गठन किया गया, जिसमें मौलीजागरा कालोनी के रहने वाले सुमेर को युवा इकाई का अध्यक्ष व परमिला चौहान को महिला इकाई का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है।
युवा इकाई के नवनिवयुक्त अध्यक्ष सुमेर द्वारा मौलीजागरा कालोनी के ही गौरव को महासचिव, जितेन्द्र को कोषाध्क्ष व आजाद को उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। मौलीजागरां कालोनी की महिला इकाई की नवनियुक्त अध्यक्ष परमिला चौहान द्वारा शांति देवी उपाध्यक्ष, बबीता महासचिव, उॢमला देवी संयुक्त सचिव व सरीता चौहान को कोषाध्यक्ष नियुक्त किया गया है।
इसी तरह कालोनी नंबर 4 में इकाई का गठन किया गया, जिसमें अध्यक्ष रमेश भारती, उपाध्यक्ष उपेन्द्र ओझा, महासचिव बलवान सिंह, कोषाध्यक्ष महेन्द्र सिंह विष्ठ तथा दो संयुक्त सचिव उदय मंडल व राजेश कुमार शामिल हैं।
इस अवसर पर मजदूर सेना के अध्यक्ष मेघराज वर्मा ने सभी नवनियुक्त पदाधिकारियों को बधाई दी तथा आगामी 15 जुलाई रविवार को कालोनी नंबर 4 में पुलिस बीट बाक्स के सामने मैदान में शाम 5 बजे आयोजित किए जाने वाले स्थापना दिवस को सफल बनाने के लिए मेहनत करने को कहा।
अंत में मजदूर सेना के चेयरमैन सौरभ जोशी ने सभी नवनियुक्त पदाधिकारियों व मौजूद कालोनीवासियों को एकजुट होकर कालोनियों में नशा विरोधी मुहिम चलाने के लिए प्रेरित किया।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
विश्व जनसंख्या दिवस पर पौधारोपण व नुक्कड़ नाटक का आयोजन फ्री मेडिकल चेकअप कैंप का आयोजन चंडीगढ़ को नशा मुक्त करना मजदूर सेना का अगला लक्ष्य लोगों के और करीब आई आधार सेवाएं “सांख्यिकी दिवस” का आयोजन हिमाचल महासभा: ठन्डे मीठे पानी की छबील का आयोजन आयुष डॉग बाइट डेथ केस: अज्ञात के बजाये आवारा कुत्तों की हितैषी मेनका गाँधी के खिलाफ मामला दर्ज हो : राज नागपाल निर्जला एकादशी पर सेक्टर 19 के सदर बाजार में लगाई छबील बदनौर ने जादूगर ओ. पी. शर्मा के 75वा डायमंड जुबली शो पूरा करने पर स्वर्ण मुकुट से सम्मानित किया चंडीगढ़ में बच्चे को कुत्ते का नोचने का मामला: छठे दिन भी नसीब नहीं हुई डेढ साल के आयुष को डेढ गज जमीन