ENGLISH HINDI Saturday, April 20, 2019
Follow us on
हिमाचल प्रदेश

इलाहाबाद के बाद अब शिमला का भी बदलेगा नाम? हिमाचल के मंत्री का अहम बयान

October 19, 2018 08:19 AM
शिमला, जेएस कलेर
देश में एक बार फिर शहरों के नाम बदलने को लेकर सियासत शुरू हो गई है। इसका असर अब पहाड़ों की रानी शिमला में भी देखने को मिल रहा है। क्या शिमला का नाम बदलकर श्यामला कर देना चाहिए? इस सवाल पर हिमाचल प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने अहम बयान दिया है। 
दरअसल, शिमला में गुरुवार को एक कार्यक्रम के दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने मीडिया के सवाल पर कहा कि यह चर्चा का विषय है, लेकिन अगर श्यामला से शहर का नाम शिमला हो सकता है तो फिर शिमला से श्यामला क्यों नहीं? हालांकि, ये चर्चा का विषय है। इसके लिए कोई हार्ड एंड फास्ट रूल नहीं है। 
दरअसल, यूपी की योगी सरकार ने हाल ही में इलाहाबाद का नाम प्रयागराज कर दिया है। इसके बाद शहर का नाम बदलने को लेकर सियासत हो रही है। हिमाचल की भाजपा सरकार में स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार ने कहा कि देश में लोग ऐसे मुद्दों को लेकर आगे आ रहे हैं। 
बता दें कि शिमला का पुराना नाम श्यामला था। शिमला के कालीबाड़ी मंदिर को पहले श्यामला माता के नाम से जाना जाता था। इसी पर इस शहर का नाम श्यामला हुआ करता था। बाद में मंदिर का नाम कालीबाड़ी और शहर का नाम शिमला कर दिया गया। 
दरअसल,जब अंग्रेज पहाड़ों की रानी शिमला आए तो उन्होंने इसका नाम ‘सिमला’ कर दिया। जो बाद में शिमला हो गया। अंग्रेजों ने साल 1864 में इस शहर को बसाया था। इसे लेकर कांग्रेस कार्यकाल में विहिप ने सरकार को शिमला का नाम बदलने को लेकर एक मैमोरेंडम भी सौंपा था।
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
नए भारत की भूमिका को तय करेंग लोक सभा चुनावःमुख्यमंत्री कांग्रेस प्रत्याशी रामलाल ठाकुर ने भाजपा पर एक बार फिर से हमला बोला भाजपा अध्यक्ष जी जीभ काटने की सुपारी: लॉ एंड आर्डर की खुली चुनौती, शिकायत दी बिखरे विपक्ष में दुल्हा बनने के लिए घमासान : जयराम ठाकुर हिमाचल में शेयर दि लोड अभियान लांच राहुल गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा के विरोध में सडक़ों पर उतरे कांग्रेसी, चुनाव आयोग ने सत्ती को थमाया नोटिस हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां हिमाचल दिवस, मलखम्भ रहा राज्यस्तरीय समारोह का मुख्य आकर्षण चुनाव समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा चारों सीटें पहले से ज्यादा अंतर से जीतेंगे प्रदेश के इतिहास में एकमात्र परिवार जो अबतक पांच बार दल बदलता रहा: सत्ती कांग्रेस में भ्रष्टाचार की फेहरिस्त लंबी , मोदी सरकार में किसी भी मंत्री पर एक रूपये के दुरूपयोग का आरोप नहीं : जयराम ठाकुर