ENGLISH HINDI Friday, November 16, 2018
Follow us on
पंजाब

डेंगू का डंक : ब्रहृम मोहिन्द्रा ने की नवजोत सिदधू के महकमे की खिंचाई

November 05, 2018 06:41 PM

चंडीगढ़, जेएस कलेर
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा ने राज्य में डेंगू के बढ़ रहे मामलों और इसको काबू करने के लिए जि़म्मेदार विभागों की तरफ से सुचारू कारगुज़ारी न करने के लिए फटकार लगाई कि स्वास्थ्य विभाग के सचेत करने के बावजूद भी सम्बन्धित विभागों द्वारा समय पर मच्छरों को काबू करने के लिए कोई कार्यवाही नहीं की गई जिस कारण हर साल राज्य में डेंगू के मामलों में विस्तार हो रहा है। स्वास्थ्य मंत्री ने स्थानीय निकाय और ग्रामीण विकास विभाग की तरफ से स्वास्थ्य विभाग की हिदायतों का पालन न करने के लिए आलोचना भी की।  स्थानीय निकाय मंत्री विभाग नवजोत  सिंह सिदधू के पास है

हरी इलाकों में फोगिंग करने की पूरी जि़म्मेदारी स्थानीय निकाय विभाग की है और इसी तरह ग्रामीण इलाकों में फोगिंग करने की जि़म्मेदारी ग्रामीण विकास विभाग की है।  हर साल संबंधित विभागों को अर्ध -सरकारी पत्र भेजने के बावजूद भी सम्बन्धित विभागों की तरफ से कोई भी रिपोर्ट उनके साथ साझा नहीं की गई। 

स्वास्थ्य मंत्री की तरफ से सीधे तौर पर कहा गया कि डेंगू के मामलों को काबू करने के लिए निर्धारित की गई जि़म्मेदारी को ज़्यादातर विभागों की तरफ से नहीं निभाया जा रहा है। उन्होंने स्टेट टास्क फोर्स की मीटिंग में हिस्सेदार विभागों के अफसरों द्वारा किये गए प्रबंधों का जायज़ा भी लिया।

मोहिंद्रा ने कहा कि हर साल मीडिया और आम लोगों द्वारा डेंगू के मामले सामने आने पर स्वास्थ्य विभाग को निशाना बनाया जाता है जबकि ना ही मीडिया और ना ही लोग इस तथ्य से अवगत हैं कि स्वास्थ्य विभाग की जि़म्मेदारी डेंगू से पीडि़त मरीज़ के अस्पताल दाखि़ल होने से शुरू होती है जिसमें मरीज़ को स्वास्थ्य सेवाएं और इलाज उपलब्ध करवाया जाता है। उन्होंने कहा कि हम सभी को पता होना चाहिए कि डेंगू के मामलों और पीने वाले पानी से होने वाली बीमारियों के मामलों को रोकने और काबू करने के लिए स्थानीय निकायों और ग्रामीण विकास विभाग की अहम भूमिका होती है।

उन्होंने कहा कि शहरी इलाकों में फोगिंग करने की पूरी जि़म्मेदारी स्थानीय निकाय विभाग की है और इसी तरह ग्रामीण इलाकों में फोगिंग करने की जि़म्मेदारी ग्रामीण विकास विभाग की है। उन्होंने कहा कि उनकी तरफ से हर साल संबंधित विभागों को अर्ध -सरकारी पत्र भेजने के बावजूद भी सम्बन्धित विभागों की तरफ से कोई भी रिपोर्ट उनके साथ साझा नहीं की गई। इस सम्बन्ध में उनकी तरफ से स्थानीय निकाय और ग्रामीण विकास विभाग का नाम विशेष तौर पर लिया गया।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि डेंगू और पानी से होने वाली बीमारियों को रोकने और काबू करने के लिए स्टेट स्तर की टास्क फोर्स गठित की गई जिसके अधीन स्थानीय निकाय, ग्रामीण विकास एवं पंचायतों, वाटर स्पलाई और सेनिटेशन, ट्रांसपोर्ट, पशु पालन, मैडीकल शिक्षा और खोज, शिक्षा, श्रम और इंडियन मैडीकल एजुकेशन की जि़म्मेदारी है कि वह डेंगू और पानी से होने वाली बीमारियों की सुचारू ढंग से जांच करें जिससे समय पर ही होने वाले नुक्सान को रोका जा सके।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
जीरकपुर में पॉवरकॉम और ट्रैफिक पुलिस में ठनी, चालान-चालान का खेल : पावरकॉम ने ट्रैफिक लाइट कनेक्शन काटा 26 पेटियां अवैध शराब सहित दो काबू, मामला दर्ज ग्लोबल विज्डम स्कूल में धूम धाम से मनाया गया बाल दिवस पुलिस से चोर ज्यादा होशियार निकला, चोरी के मोबाइल से पेटीएम का इस्तेमाल डिस्को क्लब के गेट को बाहर से ताला ठोक अंदर चल रही थी ग्रैंड पार्टी अध्यापकों की बदली के खिलाफ स्कूल गेट पर नारेबाजी चंडीगढ़-अंबाला राष्ट्रीय राजमार्ग पर पाँच वाहन टकराने कारण लगा लंबा जाम पानी से बिजली देने वाले भाखड़ा कार्यालय पाऩी पानी, कौन है जिम्मेदवार अफसर! अनूठे ढंग से मनाया गया बाल दिवस, बच्चों ने वृद्ध आश्रम जाकर लिया आशीर्वाद स्वास्थ्य मंत्री ने डॉक्टर विजय जैन को किया स्टेट अवार्ड से सम्मानित