ENGLISH HINDI Monday, December 17, 2018
Follow us on
पंजाब

डिस्को क्लब के गेट को बाहर से ताला ठोक अंदर चल रही थी ग्रैंड पार्टी

November 15, 2018 07:50 PM

ज़ीरकपुर, जीएस कलेर
ज़ीरकपुर स्थित नाइट क्लब चलाने वाले डिप्टी कमिशनर मोहाली के आदेशों को नहीं मानते और अभी भी सुबह होने तक बख़ौफ़ इन क्लबों में शराब के दौर चलते हैं।

 
 ज़िक्रयोग्य है कि ज़ीरकपुर थाना क्षेत्र में 5 डिस्को क्लब हैं और एक ढकोली थाना क्षेत्र में पड़ता है। चंडीगढ़ -अंबाला राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित ग्लोबल माल में तीन क्लब हैं जिन में से हूप हाईवे प्रबंधक क्लब बंद कर चुके हैं, दूसरा क्लब जंक लयार्ड है जिसका आबकारी विभाग ने शिकायत बाद में 15 दिनों के लिए लाइसैंस सस्पैंड किया होने के कारण बीती रात बंद था और तीसरा क्लब है अलमास जो दरवाज़े पर ताला ठोक रात 12:30 तक चला।  बीती रात पुलिस की गश्त दौरान डिप्टी कमिशनर मोहाली के आदेशों के उल्लंघन का नया मामला अलमास नाइट क्लब में सामने आया है।

 अलमास क्लब में चल रही बुद्धवार नाइट पार्टी में ज़ीरकपुर पुलिस की तरफ से 12 बजे जब छापा मारा गया तो उन्होंने देखा कि डिस्को क्लब के बाहर ताला लगा हुआ था, जबकि डिस्को क्लब अंदर पार्टी चलने की आवाज़ आ रही थी। पुलिस की तरफ से डिस्को क्लब का दरवाज़ा खुलवाने के लिए प्रबंधकों को फ़ोन किया परन्तु इसके बावजूद पुलिस पार्टी करीब आधा घंटा डिस्को क्लब के बाहर खड़े रही और आखिरकार आधे घंटे बाद प्रबंधकों ने क्लब का दरवाज़ा खोला गया और पुलिस चैकिंग के लिए अंदर गई। पुलिस जब अंदर गई तो देखा कि वहां 20 -25 के करीब नौजवान लड़के -लड़कियाँ और स्टाफ मौजूद था. वहां बीयर और व्हिसकी के आधे-अधूरे जाम मेजों पर पड़े थे। पुलिस ने 20 - 25 नवयुवक लड़के -लड़कियाँ समेत स्टाफ को क्लब से बाहर भेज दिया।

अलमास क्लब में चल रही बुद्धवार नाइट पार्टी में ज़ीरकपुर पुलिस की तरफ से 12 बजे जब छापा मारा गया तो उन्होंने देखा कि डिस्को क्लब के बाहर ताला लगा हुआ था, जबकि डिस्को क्लब अंदर पार्टी चलने की आवाज़ आ रही थी। पुलिस की तरफ से डिस्को क्लब का दरवाज़ा खुलवाने के लिए प्रबंधकों को फ़ोन किया परन्तु इसके बावजूद पुलिस पार्टी करीब आधा घंटा डिस्को क्लब के बाहर खड़े रही और आखिरकार आधे घंटे बाद प्रबंधकों ने क्लब का दरवाज़ा खोला गया और पुलिस चैकिंग के लिए अंदर गई। पुलिस जब अंदर गई तो देखा कि वहां 20 -25 के करीब नौजवान लड़के -लड़कियाँ और स्टाफ मौजूद था. वहां बीयर और व्हिसकी के आधे-अधूरे जाम मेजों पर पड़े थे। पुलिस ने 20 - 25 नवयुवक लड़के -लड़कियाँ समेत स्टाफ को क्लब से बाहर भेज दिया।

बताना बनता है कि इस क्लब में ज़ीरकपुर पुलिस के कर्मचारी उक्त क्लब में गए थे, परंतु बाहर से ताला लगा देख वह वापस आ गए थे परन्तु बिल्कुल मौके पर ही क्लब के बाहर खड़े दो युवकों ने पुलिस को शिकायत कि की क्लब प्रबंधकों ने उनकी एक साथी लड़की समेत अन्य कईयों को अंदर बंद कर रखा है और प्रबंधक पुलिस के जाने के बाद में फिर पार्टी चलाने की जुगाड़ में हैं । जब पुलिस पार्टी की तरफ से उक्त क्लब में फिर 12:30 पर प्रबंधकों से ताला खुलवाया गया तो क्लब अंदर से 20 -25 नौजवान लड़के लड़कियां व स्टाफ मीडिया कर्मियों के कैमरों से बचने के लिए एक दूसरे के पीछे छिपते हुए बाहर निकल कर भागने लगे। 

थानामुखी ज़ीरकपुर सुखविन्दर सिंह ने कहा कि वह रात के ड्यूटी अफ़सर से मामलें की जानकारी हासिल कर प्रबंधकों ख़िलाफ़ बनती कार्रवाई करेंगे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
सज्जन को उम्रकैद से 84 कत्लेआम पीडि़तों को मिला इंसाफ चुनाव में कौंसिल कर्मचारियों की ड्यूटी, लोग कार्यों के लिए हो रहे परेशान बिजली बोर्ड की लापरवाही से ट्रांसफार्मर गिरा डेराबस्सी में पागल कुत्ते का आतंक: एक दर्जन को काटा,एक बच्ची पीजीआई रैफर गलत रास्ता दिखा कर फ़लैट बेचने वाले बिल्डर ख़िलाफ़ सोसायटी निवासियों ने किया प्रदर्शन जीरकपुर : अपने ही पार्टनर की करोड़ों की जमीन बेचकर काटी पभात में कालोनी, पुलिस ने किया तीन के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज नगला रोड़ पर स्थित फैक्ट्री के प्रदूषण के खिलाफ लोगों ने किया प्रदर्शन स्पोर्टस एंड वेलफेयर सोसायटी का गठन केंद्र से दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रैस-वे प्रोजैक्ट को मंजूरी देने की मांग 'आप' विधायक ने किया सत्र का भत्ता न लेने का फैसला