ENGLISH HINDI Thursday, June 20, 2019
Follow us on
राष्ट्रीय

साल 2017-18 के लिए वार्षिक जीएसटी रिटर्न की तारीख बढ़कर हुई 31 मार्च

December 09, 2018 01:22 PM

चंडीगढ, फेस2न्यूज:
व्यापारियों की मांग पर भारत सरकार ने साल 2017-18 के लिए वार्षिक जीएसटी रिटर्न भरने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर से बढ़ाकर बढ़ाकर 31 मार्च कर दी है। इस फैसले से करीब 1.15 करोड़ कारोबारियों को राहत मिलेगी। सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्सेस एंड कस्टम्स (सीबीआईसी) के मुताबिक जीएसटीआर-9, जीएसटीआर-9 ए और जीएसटीआर-9सी अब 31 मार्च 2019 तक भरे जा सकेंगे, इसके लिए जीएसटी पोर्टल पर जल्द ही ये फॉर्म उपलब्ध होंगे।
कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (सीएआईटी) ने गुरुवार को वित्त मंत्री से मांग की थी कि सालाना जीएसटी रिटर्न दाखिल करने की डेडलाइन बढ़ाई जाए। उसका कहना था कि सालाना रिटर्न का फॉर्मेट कहीं भी उपलब्ध नहीं है। ऐसे में व्यापारियों के लिए 31 दिसंबर तक रिटर्न दाखिल करना संभव नहीं होगा।
ज्ञात हो कि देशभर में जीएसटी 1 जुलाई 2017 को लागू हुआ था और इस बार सभी ब्यापारी अपनी पहली वार्षिक जीएसटी रिटर्न फाइल करेंगे। ट्रेडर्स एसोसिएशन का कहना था कि नया सिस्टम होने की वजह से कारोबारियों को दिक्कत आ सकती है, इसलिए तारीख बढ़ाई जाए।
जीएसटी कानून के मुताबिक वार्षिक जीएसटी रिटर्न दाखिल करने में देरी होने पर प्रतिदिन 200 रुपए का जुर्माना लगता है। जुर्माने की राशि कारोबार के सालाना टर्नओवर का अधिकतम 0.25% तक हो सकती है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और राष्ट्रीय ख़बरें
विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए भारतीय तीरंदाज सम्मानित बांग्लादेश और दक्षिण कोरिया के चैनल दूरदर्शन फ्री डिश पर चैनलों को रियलटी शो और कार्यक्रम दिखाए जाते समय बच्‍चों की भागीदारी में संयम और संवेदनशीलता बरतने की सलाह भारतीय तटरक्षक करेगा दिल्ली में 12वीं आरईसीएएपी आईएससी क्षमता निर्माण कार्यशाला की सह-मेजबानी ट्रांसपोर्ट वाहन चालकों के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता हटाने का निर्णय बेहतर चिकित्सा सुविधाओं के बिना अच्छे समाज का निर्माण कठिन: प्रो. रविकांत 17वीं लोकसभा की शुरुआत से पहले प्रधानमंत्री के वक्तव्य राजनीति से परे कुछ सवाल उठाती डॉक्टरों की हड़ताल डॉ. हर्षवर्धन ने डॉक्टरों संग मारपीट करने वाले के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने हेतु मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखा वायुसेना प्रमुख ने वायु सेना अकादमी में संयुक्त स्नातक परेड की समीक्षा की