ENGLISH HINDI Wednesday, March 20, 2019
Follow us on
पंजाब

जीरकपुर: बिल्डर पर नौ फुट की सड़क को 18 फुट की दिखाकर फ्लैट बेचने का आरोप

December 14, 2018 12:15 PM

जीरकपुर, जे एस कलेर:

गांव नाभा से पभात को जाने वाली सड़क पर स्थित हाउसिंग प्रोजेक्ट रेजीडेंट्स ने बिल्डर के खिलाफ नगर काउंसिल में शिकायत दर्ज करवाई हैं, जिसमें कहा गया है कि बिल्डर ने उन्हें नौ फुट चौड़े रास्ते को 18 फुट चौड़ी सड़क बताकर फ्लैट बेच दिए। दूसरी ओर, मामले में बिल्डर ने आरोपों को स्वीकारते हुए समस्या के हल का आश्वासन दिया है, साथ ही सोसाइटी रेजीडेंट्स का सहयोग मांगा है।     

जमीन मालिक द्वारा रास्ते पर कब्जा किए जाने के बाद आवाजाही में आ रही परेशानी


मिस्ट हाउसिंग सोसाइटी के रहने वाले रेजीडेंट्स सुमित दहिया, परेश कुमार, अजय गर्ग, सहज सिंह, अनीता शर्मा, सीमा, वंदना, सतवंत सिंह आदि ने बताया कि आज से करीब 3 साल पूर्व वह जीरकपुर आए थे, जिन्होंने उक्त हाउसिंग सोसाइटी में अपना घर खरीदकर रहना शुरू कर दिया। करीब अढ़ाई वर्ष बीत जाने के बाद उनको अब पता चला है कि उनकी सोसाइटी को बिल्डर द्वारा जो रास्ता दिया गया हैं, दरअसल सरकारी रिकार्ड में वह रास्ता मात्र नौ फुट है।

जेसीबी से सड़क खोदकर किया कब्जा :
रेजीडेंट्स ने बताया कि जिस रास्ते को बिल्डर ने 18 फुट दिखाकर उन्हें फ्लैट बेचें, उस रास्ते पर पिछले दिनों एक जमीदार ने कब्जा करने की नीयत से कार्रवाई शुरू कर दी। देखते ही देखते उक्त जमीदार ने सबसे पहले लोहे की तारों से बाउंड्री वॉल तैयार कर ली और वहीं बाद में जमीदार ने जेसीबी मशीन की मदद से सोसाइटी को जाने वाली सड़क को तुड़वाकर उक्त जमीन पर कब्जा जमाकर अपना अधिकार दिखा लिया। दूसरी ओर, रेजीडेंट्स ने मामले को लेकर बिल्डर से मुलाकात की, जिन्होंने समस्या के जल्द समाधान का आश्वासन दिया है।  

 
ये कहना है सोसाइटी के वासियों का :
बिल्डर ने फ्लैट बेचते समय 18 फुट की सड़क देने का वादा किया था, लेकिन कुछ समय बाद ही उक्त सड़क पर एक जमीदार ने कब्जा करके दीवार बना ली। आलम यह है कि जमीदार द्वारा सड़क पर कब्जा करने के बाद उनको आवाजाही में भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। जबकि सोसाइटी में कुल 48 घर हैं, जिनमें रहने वाले लोगों की आबादी 200 से अधिक हैं, परन्तु ऐसी स्थिति में उनको मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।
-सुमित दहिया, रेजीडेंट्स।
बिल्डर को मुंह मांगा दाम देकर उन्होंने यहां फ्लैट खरीदा, इसके बावजूद उनको बिल्डर की वजह मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। यदि बिल्डन ने उनकी समस्या का हल नहीं किया तो वह संघर्ष का रास्ता अख्तियार करेंगे।
-अनीता शर्मा, रेजीडेंट्स।

जल्द समाधान का दिया आश्वासन:
वर्ष 2014 में सड़क पर कब्जा करने वाले जमीदार ने 18 फुट सड़क बनाने में अपनी सहमति दी थी, इसलिए सीएलयू करवाकर लोगों को फ्लैट मुहैया करवाए। लेकिन अब जमीदार लोगों की बातों में आकर जानबूझकर ऐसा करके पैसे ऐंठने की कोशिश कर रहा है, जो सरासर गलत है। जल्द ही जमीदार से मिलकर समस्या का समाधान कर लिया जाएगा। सहयोग किया गया था, इसलिए कोई लिखित एग्रीमेंट नहीं हुआ।
-आशीष गोयल, बिल्डर, मिस्ट हाउसिंग सोसाइटी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
रईआ में नौजवानों की मौत के लिए प्रशासन और ठेकेदार जिम्मेदार: चीमा रिश्वत के मामले में दो हवलदारों के खि़लाफ़ पर्चा दर्ज, एक काबू हर लेंग्वेज की अपनी ब्यूटी होती है, मैं लेंग्वेज फ्रेंड हूं :हम्सिका अय्यर आचार संहित के बाद 2,21,480 लाइसेंसी हथियार जमा हुए केमिकल फैक्ट्री के प्रदूषण से गांव निवासी परेशान कुत्तों के आतंक से भयभीत जीरकपुर, निजात दिलाने के लिए चलाई सिग्नेचर मुहिम सड़क पर ही चढ़ा रहे बस में सवारियां, पुलिस ने किए चालान गतका और सिक्ख शस्त्र कला को निजी स्वामित्व के तौर पर रजिस्टर्ड करवाना सरासर गलत :ढींढसा पटियाला लोकसभा सीट: डेराबस्सी विधानसभा क्षेत्र रहेगा निर्णायक, मुख्यमंत्री ड्राइविंग सीट पर छह ग्राम नशीले पदार्थ सहित एक काबू