ENGLISH HINDI Sunday, March 24, 2019
Follow us on
पंजाब

अज्ञात व्यक्ति का सायबर केफे प्रयोग करने पर पाबंदी के आदेश

December 14, 2018 06:54 PM

मोहाली, जे एस कलेर:
श्रीमती गुरप्रीत कौर सपरा जिला मैजिस्ट्रेट मोहाली ने फ़ौजदारी विवरण संहिता 1973 (एक्ट नंबर 2) की धारा 144 अधीन प्राप्त हुई शक्तियों का प्रयोग करते मोहाली जिले के सायबर केफे मालिकों को आदेश जारी किये हैं कि किसी भी अज्ञात व्यक्ति को जिसकी पहचान केफे मालिक की तरफ से नहीं की गई, सायबर केफे का प्रयोग न करने देने और यह भी आदेश किये कि प्रयोग करने वाले व्यक्ति की पहचान के रिकार्ड के लिए रजिस्टर लगाया जाये। केफे प्रयोग करने वाला अपने हाथ के साथ अपना नाम, घर का पता, टैलिफ़ोन नंबर और पहचान संबंधित सबूत का दर्ज करेगा और इस उद्देश्य के लिए रखे गए रजिस्टर में हस्ताक्षर भी करेगा। उन्होंने आदेश दिए कि प्रयोग करने वाले व्यक्ति की पहचान उसके पहचान पत्र, वोटर कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लायसेंस और फोटो के साथ की जाये। इसके इलावा ऐक्टिविटी सेवर लॉग मुख्य सर्वर में सुरक्षित होगा और इसका रिकार्ड मुख्य सर्वर में कम-से-कम छह महीने के लिए सुरक्षित रखा जाये। यदि साइबर केफे में आने वाले किसी भी व्यक्ति की गतिविधि साइबर केफे के मालिक को शकी लगती है तो वह संबंधित पुलिस स्टेशन को सूचित करेगा और किसी भी व्यक्ति की तरफ से प्रयोग किए गए विशेष कंप्यूटर वाले रिकार्ड को संभाल कर रखेगा। सायबर केफे के इंचार्ज /मालिक ज़रूरत अनुसार पूर्ण सूचना नज़दीकी पुलिस स्टेशन को उपलब्ध करवाएंगे। यह आदेश 09 फरवरी 2019 तक लागू रहेंगे। जानकारी प्राप्त हुई है कि कुछ असमाजिक तत्व, अपराधी और आतंकवादी साईबर केफे की सुविधाओं का दुरुपयोग करके सुरक्षा /जांच एजेंसियों को गुमराह, पब्लिक में दहशत और सरकारी संस्थायों की सुरक्षा को ख़तरा पैदा कर सकते हैं जिस के साथ राज्य की सुरक्षा सीधे तौर पर प्रभावित हो सकती है, को रोकने के लिए यह आदेश जारी किये गए हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें