ENGLISH HINDI Wednesday, April 24, 2019
Follow us on
हिमाचल प्रदेश

उपमण्डल स्तर पर खोले जाएंगे कैरियर परामर्श सैल: ठाकुर

January 16, 2019 05:56 PM

मण्डी (विजयेन्दर शर्मा)
उपायुक्त मण्डी ऋग्वेद ठाकुर की अध्यक्षता में आज विद्यालयों व महाविद्यालयों के छात्र-छात्राओं को रोजगार एवं स्वरोजगार के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से एक बैठक का आयोजन किया गया।
बैठक में जानकारी देते हुए उपायुक्त ने बताया कि मुख्यमन्त्री श्री जयराम ठाकुर द्वारा की गई घोषणा को मूर्त रूप प्रदान करते पहनाते हुए जिला की सभी 421 राजकीय उच्च व जमा दो पाठशालाओं तथा 19 महाविद्यालयों के छात्र-छात्राओं के लिए रोजगार के अवसर प्रदान करने तथा स्वरोजगार अपनाने के लिए विकल्प खोजने के उद्देश्य से महत्वपूर्ण जानकारियां युवाओं तक पहुंचाने के लिए जिला स्तर पर उपमण्डलाधिकारी (ना0) की अध्यक्षता में कैरियर परामर्श समिति का गठन किया गया है, जिसमें जिला रोजगार अधिकारी को सदस्य सचिव नियुक्त किया गया है जबकि 16 अन्य विभागों को परामर्श टीम में शामिल किया गया है ताकि समस्त अधिकारी अपने अपने विभाग से सम्बन्धित महत्वपूर्ण जानकारियां व कौशल विकास से सम्बन्धित जानकारियां युवाओं को उपलब्ध करवा सके । उन्होंने कहा कि परामर्श टीम द्वारा हर महीने दो स्कूलों तथा एक महाविद्यालयों में छात्र-छात्राओं को रोजगार, स्वरोजगार तथा कौशल विकास से सम्बन्धित महत्वपूर्ण जानकारियों दी जा जाएगी ।
उन्होंने कहा कि जिला के समस्त उपमण्डलों में भी परामर्श टीमों का गठन किया जाएगा जिसके लिए उन्होंने समस्त उपमण्डलाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे अपने अपने क्षेत्रों में सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों के साथ शीघ्र बैठक करें और कार्यालय में कैरियर परामर्श सैल खोलकर उपमण्डल स्तर पर हर महीने दो स्कूलों तथा एक महाविद्यालय को कवर करते हुए छात्र-छात्राओं को रोजगार व स्वरोजगार अपनाने के लिए महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करें ।
उपायुक्त ने कहा कि जिला के बेरोजगार युवाओं को रोजगार, स्वरोजगार तथा कौशल विकास से सम्बन्धित विभिन्न विभागों की महत्वपूर्ण जानकारियां उपलब्ध करवाने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग भी किया गया है, जिसके लिए उन्होंने क्षेत्रीय रोजगार अधिकारी को आॅफिशीयल फेसबुक पेज खोलने के निर्देश भी दिए ।
उन्होंने कहा कि जिला व उपमण्डल स्तर के कार्यो की निगरानी के लिए निगरानी समिति भी गठित की जाएगी जिसकी अध्यक्षा वे स्वंय करेंगे जबकि जिला रोजगार अधिकारी सदस्य सचिव तथा सदस्यों के रूप में परियोजना अधिकारी डीआरडीए, महाप्रबन्धक उद्योग, उपनिदेशक उद्यान, कृृषि, उच्च शिक्षा, प्राथमिक शिक्षा तथा जिला पर्यटन अधिकारी शामिल है ।
युवाओं को अधिक से अधिक रोजगार के अवसर प्राप्त हो तथा स्वरोजगार के लिए विकल्प तलाशने व कौशल विकास से सम्बन्धित जानकारी देने के लिए उन्होंने समिति के सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने अपने विभाग से सम्बन्धित समेकित ;कन्सोलिडेटद्ध डाटा तैयार करें और विद्यालयों व महाविद्यालयों में दिखाई जाने वाली पावर पाॅइंट प्रेजेंटेशन की एक-एक काॅपी क्षेत्रीय रोजगार कार्यालय तथा उपमण्डलाधिकारी कार्यालयों को भी उपलब्ध करवाएं ताकि इन्हें क्षेत्रीय रोजगार कार्यालय के आॅफिशियल फेसबुक पेज पर भी डिस्पले किया जा सके ।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें