ENGLISH HINDI Friday, February 22, 2019
Follow us on
पंजाब

मैरिज पेलेस में खुदकुशी: ऐसी भी क्या थी मजबूरी कि काम कर रहा लड़का, पोस्टमार्टम हुआ तो निकली लड़की

January 19, 2019 07:59 PM
जीरकपुर,जेएसकलेर                                                                                                              चंडीगढ़ - जीरकपुर सड़क पर स्थित एक मैरिज पैलेस में करीब 22 वर्षीय लड़के के भेष में चपड़ासी के तौर पर काम कर रहे लड़के ने पैलेस के स्टोर में पंखे से लटक कर खुदकुशी कर ली। आज जब पुलिस की ओर से उसका पोस्टमार्टम करवाया गया तो मृतक लड़की निकली।                                                                                                            पुलिस को मौके से मृतक के जो आइडेंटिटी कार्ड मिले हैं उसमें भी उसके लड़का होने की पुष्टि होती है।                          हैरानी की बात है कि पुलिस की ओर से मृतक लड़की की बड़ी बहन के बयानों के आधार पर कार्रवाई की गई है जिसकी ओर से उसके लड़का होने का ही दावा किया गया है।   

                         मृतक की बहन निर्मला राय अनुसार वह लड़का ही था और आम लोगों के साथ लड़कों की तरह ही व्यवहार करता था परन्तु बीते लम्बे समय से वह घर से बाहर रहता था जिस कारण हो सकता है कि उसने अपना लिंग परितर्वन करवाया हो  पुलिस अनुसार डाक्टरों की ओर से मृतक का विसरा जांच के लिए भेज दिया गया है जिसकी रिपोर्ट आने के बाद ही मामला स्पष्ट हो सकेगा। 

फ़िलहाल पुलिस ने मृतक का पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों हवाले कर दिया है। जांच अफ़सर एएसआई नाथी राम ने बताया कि कबीर राय (22) पुत्र जै बहादुर राय निवासी मकान नंबर 1690 विकास नगर मौली जगरा चंडीगढ़ -जीरकपुर सड़क पर स्थित ओएसिस मैरिज पैलस में बीते करीब दो साल से चपड़ासी का काम करता था। बीती रात कबीर राय ने पैलेस के स्टोर में पंखे की हुक से फाँसी लगा कर खुदकुशी कर ली।                                                                                                                               मौके से पुलिस को मिले सुसाइड नोट में  कबीर ने लिखा कि उसकी एक लड़की दोस्त दिल्ली में रहती थी जिसने करीब 20 दिन पहले किसी कारण खुदकुशी कर ली । उसने लिखा है कि दोस्त की ओर से खुदकुशी करने कारण वह डिप्रेशन में था जिस कारण उसकी ओर से भी अपनी जीवन लीला समाप्त की जा रही है।                                                            जांच अफ़सर ने बताया कि मौके पर मृतक के जो भी दस्तावेज़ प्राप्त हुए हैं उसमें उस की पहचान कबीर राय पुत्र जै बहादुर के तौर पर ही हुई थी परन्तु आज जब डाक्टरों की टीम की ओर से उसका पोस्टमार्टम आरंभ किया तो डाक्टरों ने उसके लड़की होने की पुष्टि की। पुलिस अनुसार पोस्टमार्टम करवाने से पहले उनकी तरफ से मृतक की बड़ी बहन से उसकी शिनाख़्त करवाने के बाद उसके बयानों के आधार पर ही धारा 174 के अंतर्गत कार्रवाई की गई है।   
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें