ENGLISH HINDI Friday, February 22, 2019
Follow us on
पंजाब

फाजि़ल्का—अबोहर के सेमग्रस्त गाँवों में पानी का खारापन दूर करने के लिए लगेगा प्रोजैक्ट

January 20, 2019 08:48 AM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
दक्षिणी पंजाब के गाँवों के निवासियों को पीने वाला साफ़ पानी उपलब्ध करवाने हेतु भूजल का खारापन दूर करने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने 25 करोड़ रुपए की लागत वाले पायलट प्रोजैक्ट का ऐलान किया जिसका सामथ्र्य प्रति दिन 5 मिलियन लीटर होगा।
दक्षिणी पंजाब के फाजिल्का और अबोहर के सेम से प्रभावित 100 गाँवों में पानी का खारापन दूर किया जायेगा।
यह ऐलान मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने बजट से पहले विधायकों के साथ मीटिंगों के आखिरी दिन मालवा-2 के विधायकों के साथ विचार- विमर्श के दौरान किया।
कैप्टन ने कहा कि इस प्रोजैक्ट का सामथ्र्य प्रति दिन 5 मिलियन लीटर पानी के खारेपन को दूर करने की होगी जिससे इन इलाकों के निवासियों को पीने वाला साफ़ पानी उपलब्ध करवाया जा सके क्योंकि इन इलाकों में पानी में बहुत ज़्यादा खारापन होने के कारण भूजल बुरी तरह प्रभावित है। इस समय इस क्षेत्र के लोगों को पीने के लिए नहरी पानी सप्लाई किया जा रहा है जिससे पानी की खपत ख़ास कर पीने वाले पानी की बढ़ रही माँग की पूर्ति नहीं होती।
उन्होंने कहा कि जि़ला फाजिल्का में खारापन दूर करने के प्रोजैक्ट की तत्काल ज़रूरत है क्योंकि 100 गाँवों में पानी की गुणवत्ता का स्तर काफ़ी नीचे है जिससे गंभीर बीमारियाँ पेश आ रहीं हैं। उन्होंने कहा कि खारापन दूर करने के बाद सुधारा हुआ पानी ही पीने के लिए सुरक्षित हो सकता है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि मालवा क्षेत्र में शुरू किये इस पायलट प्रोजैक्ट की प्रगति का जायज़ा लेने के बाद ऐसे प्लांट राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में भी लगाए जाएंगे जिससे साफ़ और सुरक्षित पानी की उपलब्धता को यकीनी बनाया जा सके। उन्होंने जल सप्लाई और सेनिटेशन विभाग के प्रमुख सचिव को इस प्रोजैक्ट को समयबद्ध और सुचारू रूप से कार्यशील बनाने सम्बन्धी रूप रेखा तैयार करने के लिए भी कहा जिससे दक्षिणी पंजाब के लोगों को अति आवश्यक सुरक्षित पानी मुहैया करवाया जा सके।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें