ENGLISH HINDI Wednesday, April 24, 2019
Follow us on
चंडीगढ़

नशे पर आधरित पुस्तक ये जिंदगी है अनमोल का विमोचन

January 20, 2019 09:40 AM

चंडीगढ़,सुनीता शास्त्री

गांधी स्मारक निधि व संवाद साहित्य मंच की ओर से गांधी स्मारक भवन के सभागार में प्रसिद्ध शायर अशोक नादिर की नशे पर आधारित हिन्दी व पंजाबी में कविताओं की पुस्तक ‘ये जिंदगी है अनमोल का भव्य समारोह में विमोचन हुआ। मुख्य अतिथि डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस चंडीगढ़, संजय बेनीवाल जी ने युवाओ को नषे से दूर रहने का अग्रह किया। उन्होंने कहा कि यदि घर में बच्चा नशा करके आये तो उसको सख्ती से पेश आना चाहिए। बच्चो को नशे से दूर रखने के लिए माताओं-पिताओं को भी ध्यान देना होगा।

विषिष्ट अतिथि प्रेम जनमेजय वरिष्ठ व्यंगकार व संपादक ‘व्यंग यात्रा’ डा. चन्दर त्रिखा उपाध्यक्ष हरियाणा उर्दू अकादमी और अध्यक्षता के.के.शारदा अध्यक्ष गांधी स्मारक निधि ने की। कार्यक्रम का संचालन प्रसिद्ध संचालिका शैली तनेजा ने किया।कार्यक्रम के आरम्भ में पुस्तक के लेखक अषोक नादिर ने बताया कि नशा विष्वव्यापी समस्या है। हम अदीबों ने फैसला किया कि कविताओं, नज्मों व गजलों के माध्यम से युवा वर्ग को इस जाल से बचने का आग्रह करें तथा उनमें उत्साह और जोष की भावना पैदा करें।

के.के.शारदा ने कहा कि भारत में सबसे पहले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने नशाा के विरूध आवाज उठायी। उन्होंने नादिर को मुबारक देते हुए कहा कि यह पुस्तक घर-घर तक विषेष कर पंजाब के गांवो में पढाई जाए।इस अवसर पर प्रेम विज ,सिरी राम अर्ष, केदार नाथ केदार, प्रज्ञा शारदा, गुरदीप गुल,गुरमिंदर सविता गर्ग ने अपनी कविताओं का पाठ किया। हिन्दी व पंजाबी के अनेक कवि व साहित्यकार उपस्थित डॉ. सुभाष गोयल और डॉ.एम.पी.डोगरा ने नषे के उपचार पर अपने विचार रखे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
पंजाबी शहर की पहली होगी भाषा :कामरेड लश्कर सिंह एमएक्स प्लेयर ने अपने प्लेटफॉर्म पर चुनाव संबंधित प्रस्तावों को दिखाने के लिये नुक्कड़ नाटक पेश किया देव समाज कालेज में मनाया वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह विदेशी मरीजों के इलाज को ट्राईसिटी बने मेडिकल टूरिज्म हब: डा. महेश्वरी मानवता की सेवा जीवन जीने की खुशी देता है: संजय टंडन धूम धाम से मनाया गया ईस्टर सीपीआई (एमएल) ने विद्यार्थियों पर जबरन थोपे जा रहे हिंदी और इंग्लिश मीडियम का किया विरोध विश्व वैष्णव राज सभा के अन्तर्राष्ट्रीय वैष्णव सम्मेलन में देशी विदेशी संतों ने लिया हिस्सा चंडीगढ़ के फूड लवर्स के लिए खुला वसाबी रैमन सर्कस के कलाकारों ने लोगों को मतदान के लिए किया जागरूक