ENGLISH HINDI Wednesday, March 20, 2019
Follow us on
पंजाब

2 दिनों के लिए लोगों की समस्याएँ सुनने परनीत कौर ज़ीरकपुर में, 14 फरवरी को करेंगी फ्लाईओवर के नीचे सौन्दर्यीकरण का शिलान्यास

February 13, 2019 06:11 PM

ज़ीरकपुर , जेएस कलेर

पूर्व केंद्रीय मंत्री महारानी प्रनीत कौर आज वर्करों के साथ मीटिंग के लिए दो दिनों के दौरे पर लोहगढ़ सड़क पर स्थित पी.पी.सी.सी सचिव और मोहाली ज़िला कांग्रेस प्रधान दीपिन्दर सिंह ढिल्लों के दफ़्तर पहुँचे. जहाँ मीटिंग के पहले दिन उन्होंने कांग्रेसी वर्करों के साथ मीटिंग की।

मोती महल के अंदर दाखिला सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग की भी चर्चा 

लोगों में चर्चा था कि जीतने के बाद पटियाला स्थित मोती महल के अंदर दाख़िल होना भी नामुमकिन है और आज इतनी बड़ी संख्या में लोगों की समस्याएँ सुन रहे अधिकारियों को देख लोकसभा चुनाव में पटियाला से संभावित उम्मीदवार परनीत कौर की ओर से सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग की भी चर्चा सुनने को मिली।

 
 
 महारानी का ठहराव 2019 के लोकसभा चुनावों के साथ जोड़ कर देखा जा रहा 

महारानी प्रनीत कौर की ज़ीरकपुर में इतने लंबे समय का ठहराव आने वाले 2019 के लोकसभा चुनावों के साथ जोड़ कर देखा जा रहा है। मीटिंग के लिए जीरकपुर शहर के वर्कर्स को दो भागों में बांटा गया था। महारानी प्रनीत कौर ने पहले दिन पभात, ज़ीरकपुर, लोहगढ़, शताबगढ़, छत, झुगियां, दयालपुरा के कांग्रेसी वर्करों के साथ मीटिंग की। इस दौरान हर कालोनी से नुमायंदे बुलाऐ गए थे और बूथ स्तर की मीटिंग्स की गई। इस दौरान उनकी ओर से कांग्रेसी वर्करों की समस्याएँ को मौके पर हल करने के लिए हलका डेराबस्सी के उच्च पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद थे। पहुँचे लोगों ने शहर में पीने वाले पानी, अवैध निर्माणों, शहर में फैली गंदगी और सड़कों पर रेहड़ी फड़ी के कब्जों की शिकायतें की। वहीं पहुँचे फरियादियों और कांग्रेसी वर्करों नें अधिकारियों के ख़िलाफ़ गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि हलके में टकसाली कांग्रेसियों की सुनवाई नहीं की जा रही जिसपर उन्होंने सख़्त नोट लेते आधिकारियों को वर्करों की ओर ध्यान देने की हिदायत की।

सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट: इन्दौर शहर के मॉडल पर काम करने की हिदायत 

मीटिंग के दौरान शहर में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट न होने की समस्या उभर कर आने पर उन्होंने आधिकारियों को इन्दौर शहर के मॉडल पर काम करने की हिदायत दी। मीटिंग दौरान पूर्व फौजियों का एक वफद उनको मिला और परनीत कौर को वन रैंक वन पैंशन, कैंटीन, और टोल टैक्स पर पूर्व फौजियों को छूट देने बारे माँग पत्र सौंपा। मीटिंग दौरान परनीत कौर ने लोगों को कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार बनने समय से ही पंजाब को दोबारा तरक्की के रास्ते पर चढ़ाने की कोशिशें जारी हैं। उन्होंने अकाली -भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि पिछले 10 सालों में राज्य का दिवाला निकाल कर रख दिया है। ज़ीरकपुर के विकास के लिए ग्रांट के मुँह खोल दिए जाएंगे जिससे पिछले 10 सालों से अनदेखा किए गए शहर का संपूर्ण विकास हो सके। ज़ीरकपुर शहर को मॉडल शहर बनाने और बुनियादी ढांचे के विकास के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह निजी तौर पर रूचि ले रहे हैं। इसके अलावा महारानी प्रनीत कौर 14 फरवरी को बलटाना ढकौली पीरमुछल्ला और अन्य क्षेत्रों के कांग्रेसी वर्करों के साथ मीटिंग करेंगे। कल ज़ीरकपुर फ्लाईओवर नीचे सौन्दर्यीकरण के काम का भी उद्घाटन करेंगी जहाँ माहिर पेंटरों की ओर से पिलर्स पर ऐतिहासिक स्थानों और पंजाबी सभ्याचार को दिखाते मनमोहक पेंटिंग्स बना कर और पार्क विकसित कर सुंदर दिख प्रदान की जायेगी।

पत्रकारों को कवरेज की इजाज़त नहीं और महारानी परनीत कौर ने ख़ुद भी दूरी बनाई 

मीटिंग दौरान पत्रकारों को कवरेज की इजाज़त नहीं दी गई और महारानी परनीत कौर ने ख़ुद भी दूरी बनाई रखी। वहीं बाहर खड़े लोगों में परनीत कौर के पटियाला लोकसभा हलके से पहले तीन बार बतौर एम.पी रहते प्राप्तियाँ और हलका डेराबस्सी के लिए उनकी ओर से उस समय पर क्या विशेष दिया गया की काना-फुसी भी होती रही, लोगों उनकी विजिट को महज वोट हासिल करने का राजनैतिक स्टंट बता रहे थे।

मोती महल के अंदर दाखिला सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग की भी चर्चा 

लोगों में चर्चा था कि जीतने के बाद पटियाला स्थित मोती महल के अंदर दाख़िल होना भी नामुमकिन है और आज इतनी बड़ी संख्या में लोगों की समस्याएँ सुन रहे अधिकारियों को देख लोकसभा चुनाव में पटियाला से संभावित उम्मीदवार परनीत कौर की ओर से सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग की भी चर्चा सुनने को मिली। इस मौके एस.डी.एम डेराबस्सी पूजा सियाल, नायब तहसीलदार परमजीत सिंह, ए.एस.पी डेराबस्सी हरमन हांस, ई.ओ ज़ीरकपुर गिरिश वर्मा, ई.ओ मनवीर गिल, एक्सईएन पावरकॉम एन.एस.रंगी, एस.एच.ओ ज़ीरकपुर इंस्पेक्टर गुरजीत सिंह, बलटाना चौकी इंचार्ज भिंदर सिंह, ट्रैफ़िक इंचार्ज भुपिन्दर सिंह, सीनियर कांग्रेसी नेता एस.एम.एस संधू, ज़िला मोहाली कांग्रेस सचिव भुपिन्दर सिंह मांटु, हरजीत सिंह मिंटा, मैंबर विजीलैंस सेल मोहाली नवजोत सिंह और भिंदा रानीमाजरा मौजूद थे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
रईआ में नौजवानों की मौत के लिए प्रशासन और ठेकेदार जिम्मेदार: चीमा रिश्वत के मामले में दो हवलदारों के खि़लाफ़ पर्चा दर्ज, एक काबू हर लेंग्वेज की अपनी ब्यूटी होती है, मैं लेंग्वेज फ्रेंड हूं :हम्सिका अय्यर आचार संहित के बाद 2,21,480 लाइसेंसी हथियार जमा हुए केमिकल फैक्ट्री के प्रदूषण से गांव निवासी परेशान कुत्तों के आतंक से भयभीत जीरकपुर, निजात दिलाने के लिए चलाई सिग्नेचर मुहिम सड़क पर ही चढ़ा रहे बस में सवारियां, पुलिस ने किए चालान गतका और सिक्ख शस्त्र कला को निजी स्वामित्व के तौर पर रजिस्टर्ड करवाना सरासर गलत :ढींढसा पटियाला लोकसभा सीट: डेराबस्सी विधानसभा क्षेत्र रहेगा निर्णायक, मुख्यमंत्री ड्राइविंग सीट पर छह ग्राम नशीले पदार्थ सहित एक काबू