ENGLISH HINDI Tuesday, March 19, 2019
Follow us on
हिमाचल प्रदेश

नीरजा भनोट इंस्टीच्यूट ऑफ हॉस्पिटेलिटी की पालमपुर में शुरुआत

February 15, 2019 06:44 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा)

नीरजा भनोट इंस्टीच्यूट ऑफ होस्पिटेलिटी एंड फैशन की पालमपुर में बनूरी स्थित क्रिसेंट पब्लिक स्कूल में विधिवत घोषणा हुई जिसका उद्देश्य इच्छुक युवाओं को उड्डयन; ऐवियेशन, होस्पिटेलिटी, ट्रेवल और संबंधित क्षेत्रों में वोकेशनल ट्रेनिंग प्रदान करवाना है।यह इंस्टीच्यूट अशोक चक्र धारक 23 वर्षीया नीरजा भनोट को समर्पित किया गया है जिसने अपने आदम्य साहस और वचनबद्वता के चलते वर्ष1986 में कराची में हाईजैक हुये पैन एम हवाईजहाज में करीब 400 लोगों की जानें बचाई थी। फ्लाईट एटेंडेंट नीरजा उड्डयन उद्योग में विश्व भर में अपनी पहचान छोड़ गई। इस इंस्टीच्यूट से जुड़े नीरजा भनोट परिवार के नीरज भनोट और हरि भनोट ने सुनिश्चित करवाया कि दिवंगत नीरजा भनोट की सिद्धांतिक मूल्य और नैतिकता इंस्टीच्यूट कायम रखेगा। नीरजा भनोट को भारत सरकार द्वारा मरणोपरांत अशोक चक्र और अमेरिकी और पाकिस्तान की सरकारों से नवाजा गया था।
इस्ंटीच्यूट ने इस अवसर पर जमीनी स्तर से जुड़े होनहार विद्यार्थियों के लिये नीरजा भनोट स्कॉलरशिप की भी घोषणा की है। इस साल के लिए एडमिशन और स्कॉलरशिप के लिए टेस्ट 17 फरवरी को सुबह 11 बजे क्रीसेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल बनूरी पालमपुर जिला काँगड़ा में आयोजित किया जायेगा। इस स्कॉलरशिप की चयन प्रक्रिया हर साल इसी वर्ष से फरवरी में आयोजित होगी। होनहार उम्मीदवारों के नाम मार्च माह में घोषित किये जायेंगें।
आज एक प्रैस कांफ्रेस को संबोधित करते हुये इंस्टीच्यूट की प्रबंध निदेशिका रीना राणा चौहान ने बताया कि नीरजा भनोट इंस्टीच्यूट का उद्देश्य देश के युवाओं में विश्व स्तरीय प्रोफेशनल ट्रेनिंग का प्रसार करवाना है। चुनिंदा और अनुभवी ट्रेनर्स और स्टाफ द्वारा समर्थित यह इंस्टीच्यूट अपने विद्यार्थियों को रिजल्ट ओरियंटिड और ऊर्जा से परिपक्व दीक्षा प्रदान करवायेगा जिससे की वे जो जिस कंपनी को अपनी सेवायें दे वहां वे अपनेआप को सिद्ध कर सकें।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें