ENGLISH HINDI Wednesday, June 19, 2019
Follow us on
हरियाणा

आचार संहिता दौरान प्राकृतिक आपदा जैसी घटना पर वीडियो कॉन्फ्रसिंग की जा सकती

March 23, 2019 09:25 AM

चण्डीगढ़, फेस2न्यूज:
भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार लोकसभा आम चुनाव, 2019 के लिए लागू आदर्श आचार संहिता के दौरान केन्द्र व राज्य सरकारों के मुख्यमंत्रियों/मंत्रियों व राजनीतिक कार्यक्रत्ताओं के बीच आधिकारिक तौर पर वीडियो कॉन्फ्रेसिंग करने पर प्रतिबन्ध रहेगा।
हरियाणा के संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. इन्द्र जीत ने इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि केवल प्राकृतिक आपदा जैसी घटना होने के तुरन्त बाद वीडियो कॉन्फ्रसिंग की जा सकती है बशर्ते की सम्बन्धित विभाग मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय से अनुमति प्राप्त करेगा। उन्होंने बताया कि केवल कलेक्टर, जिला मजिस्ट्रेट तथा राहत कार्य में लगे वरिष्ठ अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में भाग लेंगे। वीडियो कॉन्फ्रसिंग के दौरान प्राकृतिक आपदा से सम्बन्धित राहत /बचाव कार्यों या इससे जुड़े अन्य पहलूओं को छोडक़र और किसी प्रकार की चर्चा नहीं की जा सकेगी।
उन्होंने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रसिंग से पहले या बाद में किसी प्रकार का प्रचार-प्रसार नहीं किया जा सकेगा और वीडियो कॉन्फ्रसिंग में मीडिया को भी नहीं बुलाया जाएगा। सम्बन्धित विभाग वीडियो कॉन्फ्रसिंग की पूरी प्रक्रिया की ऑडियो/वीडियो रिकॉर्डिंग करवाएगा तथा इसकी एक प्रति आयोग को भिजवाना सुनिश्चित करेगा। उन्होंने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रसिंग के दौरान मुख्य निर्वाचन अधिकारी के प्रतिनिधि की उपस्थित अनिवार्य होगी।
उन्होंने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रसिंग के माध्यम से किसी भी प्रकार की घोषणा या अनुदान देने का वायदा, नकद सहायता व राजनीतिक प्रकार की ब्यान-बाजी व घोषणाएं नहीं की जा सकेंगी जो मतदाताओं को लुभाने वाली हो।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें
प्रशिक्षण ले रहे 22 आईपीएस अधिकारियों ने की हरियाणा पुलिस महानिदेशक से मुलाकात गलत ताले की चाबी लिए घूम रहे हैं दुष्यंत: विज ट्रैफिक यूनिट को 25 नई मोटर साईकिलें दी होन्डा कम्पनी ने विमान दुर्घटना में शहीद हुए हरियाणा के लेफ्टिनेंट पायलट आशीष तंवर के परिजनों को मुख्यमंत्री ने बंधाया ढांढस सेना में भर्ती 20 से 30 अगस्त तक तेजली खेल परिसर यमुनानगर में नवजात शिशु की मेडीकल केयर देश में अभी भी चिंताजनक: डा. भकू दौलतपुरिया का त्याग पत्र स्वीकार, फतेहाबाद विधानसभा सीट हुई रिक्त जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के दो कर्मी को पदोन्नत पेयजल एवं बिजली प्रबन्ध करने तथा बाढ़ एवं सूखे की स्थिति से निपटने को तैयार रहने के निर्देश अपहरण व रेप के मामलें में अदालत ने सुनाई 10 साल की सजा