ENGLISH HINDI Tuesday, June 25, 2019
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
विजिलेंस जांच के चलते कई अफसर नदारद, चौथे दिन भी हुई पूछताछ, हाईप्रेाफाइल मामले पर एआईजी ने कहा, जांच जारी पंजाब में गतका खेल गतिविधियों में और तेज़ी लाई जायेगी: लिबड़ाडॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस भाजपा ने श्रद्धांजलि दी डडू माजरा में जानवर जलाने के प्लांट के प्रस्ताव के विरोध में रोष प्रदर्शन, मेयर का पुतला जलायासीवरेज ओवरफ्लो की बदबू से लोग बेहाल, कोई सुनवाई नहींअवैध निर्माणों से जीरकपुर लगातार बन रहा है अर्बन स्लमजीजा के साथ बलटाना का युवक बुलेट पर काजा घूमने निकला पहाड़ से बोल्डर गिरा, दोनों की मौके पर मौतहाई—वे किनारे मनमर्जी की पार्किंग, हादसों को न्यौंता
हरियाणा

पानीपत निवासी ने पूर्व पार्षद और पुलिस पर लगाए गुंडागर्दी व धक्केशाही के आरोप

March 26, 2019 08:13 PM

चंडीगढ़ (फेस2न्यूज) 

पानीपत निवासी एनजीओ नव दृष्टि वेलफेयर सोसायटी के प्रेसिडेंट गगन तनेजा ने पानीपत नगर कौंसिल के पूर्व पार्षद पर धक्केशाही व गुंडागर्दी को बढ़ावा देने के आरोप लगाए हैं। साथ ही पानीपत पुलिस पर भी उन्हें डरा धमका कर आरोपियों के साथ राजीनामा करने के आरोप लगाए।

मामला पहुंचा मुख्यमंत्री और आला अफसरों के दरबार

गगन तनेजा ने बताया कि अपने साथ हो रहे धक्के की शिकायत मुख्यमंत्री और पुलिस के आलाधिकारी को भी दे दी है और मांग की है कि उन्हें इंसाफ दिलाया जाए।

चंडीगढ़ प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में गगन तनेजा ने बताया कि 21 मार्च को होली वाले दिन वो असंध रोड पर अपने पारिवारिक सदस्यों सहित निर्माणाधीन प्लाट पर बैठे थे की तभी वहां से गुजर रही एक गाड़ी की उनकी गाड़ी से टक्कर हुई। जब उस गाड़ी के ड्राइवर से उन्होंने ऐतराज जताते कहा कि उन्हें देख कर गाड़ी चलानी चाहिए। तो ड्राइवर व गाड़ी में बैठे लोग उल्टा उनसे बहस करने लगे और अनाप शनाप बोलने लगे। जब उन्होंने उनके ऐसा गलत बोलने पर ऐतराज जताया। तो वो सब लड़ने पर आमादा हो गए। बड़ी मुश्किल से मामला शांत हुआ। पर वो अंदर ही अंदर शायद खुन्नस लेकर वहां से चले गए। थोड़ी देर बाद वो जब अपने प्लाट से निकल कर घर की तरफ जा रहे थे तो 3 गाड़ियों ने उनकी गाड़ी का पीछा किया और बीच बाजार में उनकी गाड़ी रोक उन पर हमला किया। लाठियों और रॉड से लैस उन लोगों ने उनकी गाड़ी को बुरी तरह की तोड़ फोड़ की। इस हमले में पूर्व पार्षद प्रवेश नैन के सगे भाई विवेक शामिल थे। उन्होंने इसकी शिकायत तुरंत ही नजदीक पुलिस चौकी में दी और पुलिस को साथ ले वारदात स्थल का मुआयना करवाया।

पुलिस ने उनकी शिकायत के आधार पर कंप्लेंट दर्ज कर ली। उन्हें आश्वासन दिया जाता रहा कि उनकी शिकायत पर जल्द कार्रवाई होगी और आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा। परन्तु 22 मार्च को जांच अधिकारी एसआई रणवीर सिंह ने उन्हें फ़ोन पर दबाव बनाया कि राजीनामा कर लो। मामला दर्ज करवाने का कोई फायदा नहीं, बल्कि आप भी उल्टा फंस जाओगे, क्योंकि आप कुछ प्रूव नहीं कर पाओगे।

गगन तनेजा ने बताया कि जांच अधिकारी की बात सुनने पर उन्हें धक्का सा लगा। तब उन्होंने मन बनाया की वो शहर में गुंडागर्दीऔर धक्काशाही नही चलने देंगे। गगन तनेजा ने कहा कि उन्होंने अपने साथ हो रहे धक्के की शिकायत मुख्यमंत्री और पुलिस के आलाधिकारी को भी दे दी है और मांग की है कि उन्हें इंसाफ दिलाया जाए।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें
भर्ती रैलियों के लिए सेना अधिकारियों को सहयोग देने के लिए उपायुक्तों को निर्देश हरियाणा मुक्त विद्यालय अंक सुधार परीक्षा के लिए 24 जून से आवेदन आनलाइन प्रशिक्षण ले रहे 22 आईपीएस अधिकारियों ने की हरियाणा पुलिस महानिदेशक से मुलाकात गलत ताले की चाबी लिए घूम रहे हैं दुष्यंत: विज ट्रैफिक यूनिट को 25 नई मोटर साईकिलें दी होन्डा कम्पनी ने विमान दुर्घटना में शहीद हुए हरियाणा के लेफ्टिनेंट पायलट आशीष तंवर के परिजनों को मुख्यमंत्री ने बंधाया ढांढस सेना में भर्ती 20 से 30 अगस्त तक तेजली खेल परिसर यमुनानगर में नवजात शिशु की मेडीकल केयर देश में अभी भी चिंताजनक: डा. भकू दौलतपुरिया का त्याग पत्र स्वीकार, फतेहाबाद विधानसभा सीट हुई रिक्त जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के दो कर्मी को पदोन्नत