ENGLISH HINDI Saturday, April 20, 2019
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
पत्नी ने ही प्रेमी संग मिलकर पति की कर दी हत्या, ब्लाइंड मर्डर केस की सुलझी गुत्थी नए भारत की भूमिका को तय करेंग लोक सभा चुनावःमुख्यमंत्री आईसीआईसीआई बैंक ने शिमला में लांच किया ‘इंस्टाआटो लोन’और ‘इंस्टा टू-व्हीलर लोन’जीरकपुर में भाजपा और रखड़ा को बड़ा झटका, 26 कार्यकरिणी सदस्यों ने दिया इस्तीफामहिला मंडल द्वारा श्री हनुमान जन्मोत्सव बड़ी श्रृद्धा के साथ मनाया गयाजनता की अदालत में फैसला अभी बाकी हैसीपीआई (एमएल) ने विद्यार्थियों पर जबरन थोपे जा रहे हिंदी और इंग्लिश मीडियम का किया विरोध'एशियन यूथ नैटबॉल चैंपियनशिप'जापान में, खिलाडिय़ों के लिए कैंप व ट्रॉयल बठिंडा स्पोर्टस अकेडमी में
चंडीगढ़

मेडागास्कर में जरूरतमंदों को चिकित्सकीय सेवा प्रदान कर डॉक्टर्स रोटरी मेडिकल मिशन से लोटे

March 28, 2019 11:08 PM
चंडीगढ़ सुनीता शास्त्री।
मेडागास्कर में जरूरतमंदों को चिकित्सकीय सेवा प्रदानकर डॉक्टर्स रोटरी मेडिकल मिशन से भारत लौटे। हाल ही रोटेरियन स्वयंसेवकों के साथ आठ विशिष्टताओं वाले 19 डॉक्टरों की एक टीम हाल ही में मेडागास्कर से लौटी है, जिनकी ओपीडी में 3,500 मरीजों का इलाज किया। इनमें आठ डॉक्टर्स चंडीगढ़ के हैं।
जरूरतमंदों को मेडिकल केयर भारत में पिछले 21 वर्षों में रोटरी ने 43 देशों में 500 से अधिक डॉक्टरों को सेवाएं प्रदान करने के लिए भेजा है उनमें से चंडीगढ़ और आसपास के क्षेत्रों से थे। ये जानकारी आज यहां रोटरी इंटरनेशनल के पूर्व वर्ड प्रेसिडेंट राजेंद्र के.साबू ने दी। उन्होंने बताया कि अगला इंटरनेशनल मेडिकल मिशन 5 से 17 मई 2019 तक 17 डॉक्टरों की टीम मंगोलिया जाएगी ।
मेडागास्कर मेडिकल मिशन में स्पेशलिस्ट डाक्टर्स टीम 25 फरवरी से 10 मार्च तक स्पेशलिस्ट डाक्टर्स टीम रही। जिसमें आई सर्जन डॉ. निवेदिता सिंह, डर्मोटोलॉजिस्ट डॉ.वनिता गुप्ता,प्लास्टिक सर्जन, डॉ.वी.डी.सिंह, ईएनटी स्पेशलिस्ट डॉ. रमन अबरोल, जनरल सर्जन डॉ.एन.एस. संधू, गाइनोकोलॉजिस्ट डॉ.निरलेप कौर और ऑर्थोपेडिशियन डॉ. रविजीत सिंह थे आज वह पत्रकारो से रूबरू हुए । इस अवसर पर डॉ. रवजीत ने बताया कि उन्होंने बहॉ 40 ऑपरेशन एक सप्ताह में किये।उन्होने बताया वहॉ युवाओं में  फ्रैक्चर ,जोड़ो और हड्डी की समस्यायें ज्यादा हैं । चिकित्सकीय सेवाओं का अभाव होने से  पुराने तरीको से फ्रैक्चर बांधने से हड्डियां टेड़ी मेड़ी  जुड़ी थी । जिन्हें दोबारा जोड़ा। बेहद मुश्किल हालात में डॉक्टर्स ने काफी मेहनत की और 163 आंख, 73 सामान्य, 36 प्लास्टिक, 34 ईएनटी, 35 आर्थोपेडिक, 8 स्त्री रोग, और 576 दांतों की सर्जरी की गई। डर्मोटोलॉजी डिपार्टमेंट ने भी 1250 रोगियों की जांच की और उन्हें मुफ्त दवाइयां वितरित कीं। भारत से शामिल डॉक्टरों की टीम में नेत्र रोग विशेषज्ञ, आर्थोपेडिक सर्जन, डेंटिस्ट, मैक्सिलोफेशियल सर्जन, गाइनोकोलॉजिस्ट, जनरल सर्जन, ईएनटी सर्जन, प्लास्टिक सर्जन, पैथोलॉजिस्ट और एनेस्थिसियोलॉजिस्ट शामिल थे, जिन्होंने नए मेडिकल तकनीकों में युगांडा के डॉक्टरों को भी प्रशिक्षित किया। वालटियर्स में से डॉ.बी.सी. गुप्ता, आईएएस (रिटायर्ड), रोटरी डिस्ट्रिक्ट गवर्नर प्रवीण गोयल और उनकी पत्नी बसु, पूर्व डिस्ट्रिक्ट गर्वनर्स मनप्रीत सिंह और ध्यान चंद अपनी पत्नी मीन और ऊषा साबू उपस्थित थे।रा
जेंद्र के साबू और उनकी पत्नी ऊषा साबू अफ्रीका के विभिन्न देशों में लगातार इन मेडिकल मिशनों का नेतृत्व कर रहे हैं और ब संख्या में ऐसे रोगियों को विशेष मेडिकल केयर प्रदान की जो न तो अपने इलाज का खर्च उठा सकते हैं। साबू ने बताया कि प्रत्येकमेडिकलस्पेशलिस्ट न केवल सर्जरी आयोजित करता है, दवाओं का वितरण करता है, बल्कि  विभिन्न मेडिकल विषयों में नई तकनीकों और डेवलपमेंट्स में स्थानीय डॉक्टरों और पैरामेडिक्स को प्रशिक्षित करना है। 
 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
सीपीआई (एमएल) ने विद्यार्थियों पर जबरन थोपे जा रहे हिंदी और इंग्लिश मीडियम का किया विरोध विश्व वैष्णव राज सभा के अन्तर्राष्ट्रीय वैष्णव सम्मेलन में देशी विदेशी संतों ने लिया हिस्सा चंडीगढ़ के फूड लवर्स के लिए खुला वसाबी रैमन सर्कस के कलाकारों ने लोगों को मतदान के लिए किया जागरूक एलईडी के माध्यम से मोदी सरकार की उपलब्धियाँ प्रचार करेंगे भाजपा के 2 रथ चण्डीगढ़ कांग्रेस के स्पेशल इन्वाइटी राज नागपाल झूठे वादे करने पर किरण खेर पर बरसे भीमराव अंबेडकर की जयंती पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन स्टडी वीजा पर सेमिनार का आयोजन, सेमिनार आयोजित किया, इनोवेटिव 50 लाख के स्टार्टअप को फैमिली वीजा परीक्षा पे चर्चा के माध्यम से बच्चों से सीधा संवाद हवा बदलो अभियान के तहत कार्यशाला आयोजित