ENGLISH HINDI Saturday, April 20, 2019
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
पत्नी ने ही प्रेमी संग मिलकर पति की कर दी हत्या, ब्लाइंड मर्डर केस की सुलझी गुत्थी नए भारत की भूमिका को तय करेंग लोक सभा चुनावःमुख्यमंत्री आईसीआईसीआई बैंक ने शिमला में लांच किया ‘इंस्टाआटो लोन’और ‘इंस्टा टू-व्हीलर लोन’जीरकपुर में भाजपा और रखड़ा को बड़ा झटका, 26 कार्यकरिणी सदस्यों ने दिया इस्तीफामहिला मंडल द्वारा श्री हनुमान जन्मोत्सव बड़ी श्रृद्धा के साथ मनाया गयाजनता की अदालत में फैसला अभी बाकी हैसीपीआई (एमएल) ने विद्यार्थियों पर जबरन थोपे जा रहे हिंदी और इंग्लिश मीडियम का किया विरोध'एशियन यूथ नैटबॉल चैंपियनशिप'जापान में, खिलाडिय़ों के लिए कैंप व ट्रॉयल बठिंडा स्पोर्टस अकेडमी में
चंडीगढ़

विश्व ऑटिज्म जागरूकता दिवस पर नुक्कड़ नाटक, स्लोगल राइटिंग प्रतियोगिता आयोजित

April 01, 2019 10:19 PM
चंडीगढ़, सुनीता शास्त्री।
विश्व ऑटिज्म जागरूकता दिवस के अवसर पर, ग्रिड ने कई कार्यक्रमों का आयोजन किया, जिसमें आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए कार्यशाला, स्लोगन राइटिंग प्रतियोगिता और ऑटिज्म के प्रति लोगों में जागरूकता के विषय पर सुखना लेक पर एक नाटक का आयोजन शामिल था।ऑटिज्म के प्रति जागरूकता पैदा करने संबंधी स्लोगन राइटिंग प्रतियोगिता ग्रिड (जीआरआईआईडी) में आयोजित की गई। प्रतियोगिता तीन अलग-अलग भाषाओं यानी हिंदी, अंग्रेजी और पंजाबी में पहले, दूसरे और तीसरे स्थान पर आयोजित की गई थी।
पहले, दूसरे और तीसरे स्थान पर आने वाले विजेताओं को पुरस्कार राशि क्रमश: 1000/-, 750/- और 500/- रुपए थी। सभी स्लोगन शाम 5:30 बजे सुखना लेक में प्रदर्शित किए गए।  जिनका उदेश्य लोगों को ऑटिज्म  के बारें में जागरूक करना था।
विजेताओं को प्रमाण पत्र और पुरस्कार वितरित किए गए।इस प्रतियोगिता में ग्रिड के डी.एड., बी.एड., और एम.एड के सभी 92 स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया। उनके साथ ही एम.फिल (पीएसडब्ल्यू एंड सीपी) और एमडी के स्टूडेंट्स ने भी इस प्रतियोगिता में भाग लिया।
यह प्रतियोगिता तीन अलग-अलग भाषाओं में आयोजित की गई थी जिसको जज और मूल्यांकन एक टीम ने किया, जिसमें डॉ.गुरविंदर सिंह, डॉ. शिवांगी मेहता, सुश्री नाजली और डॉ. वसीम अहमद द्वारा शामिल थे और इस टीम का नेतृत्व प्रो.प्रीति अरुण ने किया था।हिंदी में पहला, दूसरा और तीसरा पुरस्कार सुश्री ज्योति (एम.एड.), (सुश्री आरती (बी.एड.), और श्री कमलजीत (डी.एड.) ने जीता। वहीं अंग्रेजी और पंजाबी में ये प्रतियोगिता क्रमश: सुश्री हर्षदीप (डी.एड.), सुश्री अबाबील (बी.एड.), सुश्री रिनी मैथ्यू, और सुश्री हिमांशी (एम.एड.), सुश्री दिवनीत (बी.एड.), सुश्री तमन्ना (डी.एड.) ने जीती। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए एक कार्यशाला भी आयोजित की गई थी।
इस कार्यशाला में 100 आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। कार्यशाला के दौरान प्रतिभागियों को संबोधित करने वालों में बी.एस.चवन, डायरेक्टर प्रिंसिपल, जीएमसीएच, डॉ. प्रीति अरुण, ज्वाइंट डायरेक्टर, ग्रिड, डॉ.शिवांगी मेहता, डॉ. वसीम अहमद, अस्सिटेंट प्रोफेसर ग्रिड, डॉ.अर्चना, साइक्रेट्री डिपार्टमेंट, जीएमसीएच और डॉ.दीप्ति रैना (चाइल्ड स्पेशलिस्ट-ग्रिड) शामिल थे। इस कार्यशाला के दौरान इन आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को ऑटिज्म की मुख्य विशेषताओं जिनमें सामाजिक व्यवहार, संचार और प्रतिबंधित दोहराव व्यवहार के बारे में प्रशिक्षित किया गया।
उनको बताया गया कि कैसे ऐसे बच्चों की स्क्रीनिंग की जाती है, इस पर उन्हें जागरूक किया गया। वहीं चंडीगढ़ ऑटिज्म स्क्रीनिंग इंस्ट्रमेंट (सीएएसआई) का उपयोग करके कम उम्र में ऑटिज़्म से पीडि़त बच्चों की पहचान की गई। यह टूल डॉ.प्रीति अरुण और प्रो. चवन द्वारा हेल्थ वर्कर्स द्वारा कम उम्र में ऑटिज्म से पीडि़त बच्चों की पहचान करने और उनकी स्क्रीनिंग के लिए विकसित किया गया जनता में जागरूकता पैदा करने के लिए ग्रिड कॉलेज के स्टूडेंट्स द्वारा लिखे गए विभिन्न स्लोगन के साथ एक जागरूकता रैली सुखना लेक पर प्रदर्शित की गई।
ऑटिज्म से पीडि़त बच्चों की चुनौतियों, सीमाओं और उनकी ताकत को समझने के लिए उनके साथ एक नुक्कड़ नाटक भी आयोजित किया गया। 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
सीपीआई (एमएल) ने विद्यार्थियों पर जबरन थोपे जा रहे हिंदी और इंग्लिश मीडियम का किया विरोध विश्व वैष्णव राज सभा के अन्तर्राष्ट्रीय वैष्णव सम्मेलन में देशी विदेशी संतों ने लिया हिस्सा चंडीगढ़ के फूड लवर्स के लिए खुला वसाबी रैमन सर्कस के कलाकारों ने लोगों को मतदान के लिए किया जागरूक एलईडी के माध्यम से मोदी सरकार की उपलब्धियाँ प्रचार करेंगे भाजपा के 2 रथ चण्डीगढ़ कांग्रेस के स्पेशल इन्वाइटी राज नागपाल झूठे वादे करने पर किरण खेर पर बरसे भीमराव अंबेडकर की जयंती पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन स्टडी वीजा पर सेमिनार का आयोजन, सेमिनार आयोजित किया, इनोवेटिव 50 लाख के स्टार्टअप को फैमिली वीजा परीक्षा पे चर्चा के माध्यम से बच्चों से सीधा संवाद हवा बदलो अभियान के तहत कार्यशाला आयोजित