ENGLISH HINDI Thursday, June 20, 2019
Follow us on
हिमाचल प्रदेश

पहाड़ी लोकगायक गिरधारी लाल वर्मा नहीं रहे , हृदयघात के कारण बुधवार सुबह ली अंतिम साँस

April 03, 2019 07:25 PM

150 पहाड़ी गीत लिखे और गाया। गिरधारी लाल वर्मा की सन 2000 में आई एलबम मणि महेशा जो जाना ,2002 में सुन लो किरण मैया दी कहानी और चलो यात्रा नू चलिए मैया दे , ,2004 में कथा बाबा बालक रूपी जी ,2006 में पच्चियाँ दी गिनती , धूडु नचिया जटा ओ खलारी हो जैसी एलबम व गाए गये भजन आज भी जागरण समारोह में कलाकारों द्वारा गाए जाते हैं।

हमीरपुर(विजयेन्दर शर्मा)।

 हिमाचली पहाड़ी गीतों के रचयिता और गायक गिरधारी लाल वर्मा का बुधवार को निधन हो गया। 62 वर्षीय गिरधारी लाल वर्मा का जन्म 15 नवंबर, 1955 को हुआ था । 

वह मूल रूप से हमीरपुर ज़िला के गलोड क्षेत्र के रहने वाले थे लेकिन व्यवसाय के चलते अब वह परिवार सहित हमीरपुर नगर में ही अपने मकान में रह रहे थे ।

बुधवार सुबह पाँच बजे के क़रीब जैसे ही उन्हें हार्ट अटेक हुआ, परिवार के सदस्य उन्हें मेडिकल कालेज अस्पताल हमीरपुर ले आए । उनकी गम्भीर हालत को देखते हुए डाक्टरों ने टाँडा रेफ़र कर दिया । परिवार के सदस्य उन्हें गम्भीर हालत में पीजीआई चंडीगढ़ लेकर चले लेकिन ऊना के पास पहुँचते ही क़रीब दस बजे गिरधारी लाल वर्मा ने अंतिम साँस ले ली।

गिरधारी लाल वर्मा अपने पीछे दो बेटे व एक बेटी को रोता बिलखता छोड़ गये ।दिवंगत गिरधारी लाल वर्मा को संगीत की प्रेरणा श्री राम नाटक क्लब द्वारा की जाने वाली रामलीलाओं से मिली । बाद में उनके गाए लोकगीत आकाशवाणी शिमला और एफ एम हमीरपुर पर भी गूंजना शुरू हो गये ।

उन्होंने लगभग  लोकगायक गिरधारी लाल वर्मा के निधन की सूचना मिलते ही संगीत के चाहवानों को धक्का लगा है और कलाप्रेमियों में मायूसी छा गयी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
कुल्लू जिला जनमंच में आई 83 शिकायतें, 61 का मौके पर निपटारा धीमान सम्भालेंगे नौणी विश्वविद्यालय के कुलपति का पदभार हिमाचल में 11 एचएएस अफसर इधर से उधर, विशाल शर्मा को आरटीओ कांगड़ा लगाया कुल्लू की नई डीसी डा. ऋचा वर्मा ने संभाला कार्यभार सामान्य कामगार भी हर माह ले सकते हैं 3000 रुपये पैंशन शिक्षा, स्वास्थ्य व संस्कार ही बनाते हैं व्यक्ति को संपूर्ण: राज्यपाल 13 जून से होगी नगर निगम शिमला की कार्य की जांच 31 जुलाई तक मछली पकड़ने पर पूर्ण प्रतिबंध: मत्स्य पालन मंत्री हिमाचल प्रदेश हाई कोर्ट में दो नए न्यायाधीशों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई मुख्यमंत्री ने पावर ग्रिड कारपोरेशन के साथ ट्रांसमिशन सेक्टर के मुद्दों पर चर्चा की