ENGLISH HINDI Thursday, June 20, 2019
Follow us on
हिमाचल प्रदेश

डेंगू से बचाव के लिए मण्डी जिला प्रशासन ने कसी कमर

April 03, 2019 09:12 PM

मण्डी: मण्डी जिला प्रशासन ने डेंगू और अन्य जीवाणु तथा वायरस जनित रोगों से लोगों के बचाव को लेकर व्यापक पैमाने पर अपनी पूर्व तैयारी शुरू कर दी है। उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने स्वास्थ्य विभाग सहित सभी संबंधित विभागों को अपनी अग्रिम तैयारी रखने और लोगों को इन रोगों से बचाव को लेकर शिक्षित एवं जागरूक करने पर जोर देने को कहा है। वे बुधवार को उपायुक्त कार्यालय के सभागार में डेंगू तथा अन्य वेक्टर व जलजनित रोगों के नियंत्रण को लेकर संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान बोल रहे थे।

विभाग आपसी समन्वय से करें काम

ऋग्वेद ठाकुर ने वेक्टर व जलजनित रोगों की रोकथाम के लिए सभी विभागों से आपसी समन्वय से कार्य करने को कहा। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को डेंगू और अन्य जीवाणु तथा वायरस जनित रोगों से जुड़े मामलों पर नजर रखने को कहा। सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को सभी पेयजल योजनाओं तथा जल स्त्रोतों की सफाई व क्लोरीनेशन की प्रक्रिया को और तेज करने के निर्देश दिए, ताकि गर्मियों और बरसात के मौसम में मच्छर पनपने की सम्भावनाओं को कम करके रोगों से बचा जा सके। उन्होंने पाईपों के रिसाव से जलभराव की समस्या को दुरूस्त करने के निर्देश दिए।

उन्होंने सभी खंड विकास अधिकारियों को संबंधित क्षेत्रों में पंचायत प्रतिनिधियों के सहयोग से गांवों में लोगों को रोगों से बचाव के ऐहतियाती कदमों बारे शिक्षित करने एवं स्वच्छता बारे जागरूकता संदेश घर-घर तक पहुंचाने के लिए विशेष प्रयास करने को कहा है। उन्होंने नगर निकायों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि मच्छर पनपने की सम्भावनाओं को समाप्त करने के लिए समय समय पर फॉगिंग और स्प्रे करवाते रहें। नगरों में सफाई व्यवस्था पर खास ध्यान दें और गलियों-नालियों में गंदगी न होने दें। उन्होंने गत वर्ष की परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए डैहर क्षेत्र में विशेष जागरूकता कैंप लगाने को कहा।

लोगों से सहयोग का आग्रह

ऋग्वेद ठाकुर ने जिलावासियों से जल स्त्रोतों को साफ-सुथरा रखने में सहयोग करने तथा अपने आस-पास के परिवेश में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने का आग्रह किया। उन्होंने लोगों से अपने घरों में पानी की टंकियों, कूलरों, गमलों की समय-समय पर सफाई करने का भी आग्रह किया। डेंगू एक मच्छर से होने वाली बीमारी का नाम है अतः सभी को अपना बचाव मच्छरों से करना है। डेंगू का घर एक जगह जमा साफ पानी है इसीलिए घर या आस-पास पानी 2-3 दिन से ज्यादा जमा न होने दें। कूलरों, घड़ों तथा बाल्टियों में पानी को बदलते रहें। पानी के बर्तनों को ढक कर रखें। बच्चों को पूरी बाजू के कपड़े पहनाएं। कूड़े के डिब्बों में कूड़ा जमा न होने दें। 

उन्होंने लोगों से अपने घरों में पानी की टंकियों की समय-समय पर सफाई करने और दूषित पेयजल एवं खाद्य् पदार्थों के सेवन से बचने का भी आग्रह किया।
इस दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. जीवानंद चौहान ने डेंगू और अन्य जीवाणु तथा वायरस जनित रोगों से लोगों के बचाव को लेकर स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों से अवगत करवाया। 
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं पंचायती राज संस्थाओं एवं शहरी निकायों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
कुल्लू जिला जनमंच में आई 83 शिकायतें, 61 का मौके पर निपटारा धीमान सम्भालेंगे नौणी विश्वविद्यालय के कुलपति का पदभार हिमाचल में 11 एचएएस अफसर इधर से उधर, विशाल शर्मा को आरटीओ कांगड़ा लगाया कुल्लू की नई डीसी डा. ऋचा वर्मा ने संभाला कार्यभार सामान्य कामगार भी हर माह ले सकते हैं 3000 रुपये पैंशन शिक्षा, स्वास्थ्य व संस्कार ही बनाते हैं व्यक्ति को संपूर्ण: राज्यपाल 13 जून से होगी नगर निगम शिमला की कार्य की जांच 31 जुलाई तक मछली पकड़ने पर पूर्ण प्रतिबंध: मत्स्य पालन मंत्री हिमाचल प्रदेश हाई कोर्ट में दो नए न्यायाधीशों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई मुख्यमंत्री ने पावर ग्रिड कारपोरेशन के साथ ट्रांसमिशन सेक्टर के मुद्दों पर चर्चा की