ENGLISH HINDI Monday, April 22, 2019
Follow us on
चंडीगढ़

पैरामेडिकल, हेमोडायलिसिस टेक्नीशियनों के लिए ट्रेनिंग वर्कशॉप आयोजित

April 04, 2019 12:08 PM

चंडीगढ़,सुनीता शास्त्री

ओजस हॉस्पिटल में पेरामैडिकल स्टॉफ के लिए एक विशेष ट्रेनिंग वर्कशॉप का आयोजन किया गया। इस वर्कशॉप में हेमोडायलिसिस टेक्नीशियनों और नर्सों को ट्रेनिंग दी गई जो कि हेमोडायलिसिस से गुजरने वाले किडनी फेलियर रोगियों की देखभाल करते हैं। वर्कशॉप में टेक्नीशियनों और नर्सों  ट्राइसिटी के पैरामेडिकल स्टाफ ने भी हिस्सा लिया वर्कशॉप के दौरान प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए डॉ.अजय गोयल, हैड, डिपार्टमेंट ऑफ नैफ्रोलॉजी एंड रेनल ट्रांसप्लांट, ओजस हॉस्पिटल ने कहा कि इस प्रकार का प्रशिक्षण कार्यक्रम किडनी फेलियर के मरीजों को दी जा रही देखभाल की गुणवत्ता को सुधारने और बेहतर बनाने में अत्यधिक उपयोगी है।

उन्होंने कहा कि डायबटीज और हाई ब्लड प्रेशर से पीडि़त रोगियों की संख्या तेजी से बढऩे के कारण किडनी के फेल होने के रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इंटरनेशनल सोसायटी ऑफ नैफ्रोलॉजी द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार, किडनी की बीमारी के कारण हर साल 24 लाख से अधिक लोगों की मौत हो जाती है।

इस अवसर पर, डॉ.हरीश गुप्ता, डायरेक्टर, ओजस हॉस्पिटल ने ओजस में रेनल ट्रांसप्लांट प्रोग्राम के बारे में भी बताया जो कि हरियाणा में ये सुविधा प्रदान करने वाले पहले अस्पतालों में से एक है। उन्होंने कहा कि ओजस सस्ती कीमत पर आम आदमी को स्वास्थ्य सेवा देने में सुधार के अपने लक्ष्य के लिए प्रतिबद्ध और समर्पित है। 

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
मानवता की सेवा जीवन जीने की खुशी देता है: संजय टंडन धूम धाम से मनाया गया ईस्टर सीपीआई (एमएल) ने विद्यार्थियों पर जबरन थोपे जा रहे हिंदी और इंग्लिश मीडियम का किया विरोध विश्व वैष्णव राज सभा के अन्तर्राष्ट्रीय वैष्णव सम्मेलन में देशी विदेशी संतों ने लिया हिस्सा चंडीगढ़ के फूड लवर्स के लिए खुला वसाबी रैमन सर्कस के कलाकारों ने लोगों को मतदान के लिए किया जागरूक एलईडी के माध्यम से मोदी सरकार की उपलब्धियाँ प्रचार करेंगे भाजपा के 2 रथ चण्डीगढ़ कांग्रेस के स्पेशल इन्वाइटी राज नागपाल झूठे वादे करने पर किरण खेर पर बरसे भीमराव अंबेडकर की जयंती पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन स्टडी वीजा पर सेमिनार का आयोजन, सेमिनार आयोजित किया, इनोवेटिव 50 लाख के स्टार्टअप को फैमिली वीजा