ENGLISH HINDI Thursday, June 27, 2019
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
हिमाचल प्रदेश

पपरोला में ट्रेन दुर्घटना को लेकर मॉक ड्रिल 9 अप्रैल को

April 05, 2019 08:05 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा)

9 अप्रैल सुबह 6 बजे टेªन दुर्घटना बारे अलर्ट करने के लिए रेलवे स्टेशन पपरोला में सायरन बजने शुरू हों तो घबराएं नहीं। ध्यान रखें, यह सचमुच की रेल दुर्घटना नहीं एक मॉक ड्रिल है। प्रशासन द्वारा रेल दुर्घटना को लेकर मॉक ड्रिल को बहुत गंभीरता से करने की तैयारी है। मॉक ड्रिल के जरिये प्रशासन लोगों को तो शिक्षित करेगा ही रेल दुर्घटना होने की स्थिति में अपनी तैयारियों का जायजा भी लेगा और कमियों का आकलन करेगा।
उपायुक्त संदीप कुमार ने आज अधिकारियों के साथ बैठक कर मॉक ड्रिल के विभिन्न पहलुओं की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने जिला आपदा प्रबंधन योजना और इसके सभी पहलुओं पर भी विस्तार से चर्चा की।
उन्होंने कहा कि विभिन्न प्रकार की प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए नियमित तैयारी आवश्यक है। उन्होंने कहा कि नागरिकों को आपदा बचाव के विषय में जागरूक बनाकर एवं आपदा के समय बरती जाने वाली सावधानियों को बताकर जान-माल की कमी को कम किया जा सकता है।
उन्होंने कहा कि मॉक ड्रिल के माध्यम से जिला में आपदा प्रबंधन की तैयारियों व क्षमताओं का गहन आकलन एवं विश्लेषण किया जाएगा। इस दिन पपरोला रेलवे स्टेशन में रेल दुर्घटना के प्रतीकात्मक नुकसान मानकर मॉक ड्रिल की जाएगी, जिसमें सेना, अर्धसैन्य बल, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल जैसी केन्द्रीय एजेंसियों के अलावा जिला के आपदा प्रबंधन से जुड़े सभी विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी हिस्सा लेंगे।
उपायुक्त ने कहा कि मॉक ड्रिल के दौरान सभी अधिकारी-कर्मचारी आपसी समन्वय और टीम वर्क की भावना से कार्य करें और अपनी तय जिम्मेदारी का निर्वहन करें। इस तरह की आपात परिस्थिति में संबंधित विभागों की दक्षता और आपसी समन्वय का आकलन किया जाएगा।
इस दौरान एनडीआरएफ के डिप्टी कमान्डेंट रवि शंकर ने दुर्घटनाओं को लेकर उनकी टीम द्वारा किये जाने वाले कार्यों बारे विस्तार से बताया। समन्वयक भानु शर्मा ने मॉक ड्रिल बारे विस्तार से जानकारी दी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें