ENGLISH HINDI Wednesday, May 22, 2019
Follow us on
हिमाचल प्रदेश

बिखरे विपक्ष में दुल्हा बनने के लिए घमासान : जयराम ठाकुर

April 18, 2019 08:32 PM

शिमला (विजयेन्दर शर्मा )

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता जयराम ठाकुर ने विपक्षी गठबंधन को चुनावी शादी में ऐसी बारात बताया है जिसमें दुल्हा बनने के लिए छोटी-छोटी पार्टियों में घमासान मचा है। दूसरी तरफ भाजपा के नेतृत्व में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) नरेन्द्र मोदी को दुबारा प्रधानमंत्री बनाएगा। उन्होंने कहा कि पिछली लोकसभा कि 44 सीटों से भी कम सीटें पा कर कांग्रेस राहुल गांधी को प्रधानमंत्री कैसे बनाएगी। इसीलिए हिमाचल प्रदेश की समझदार जनता नरेन्द्र मोदी के खाते में राज्य की चारों सीटें डाल रही है। 

 जयराम ठाकुर ने कहा कि लोकसभा के चुनाव देश की किस्मत का फैसला करते हैं। वर्ष 2014 तक 10 साल तक मनमोहन सिंह के नेतृत्व में देश ने विकास और राष्ट्रीय सुरक्षा के मोर्चें पर बहुत नुक्सान उठाया। एक तरफ किसान, मजदूर, छोटे व्यापारी, कर्मचारी, दलित और आदिवासी अपने हकों से वंचित रहे तो साथ ही युवा वर्ग को रोज़गार नहीं मिला। उद्योग और व्यापार के क्षेत्र में देश पिछड़ गया। भ्रष्टाचार के क्षेत्र में कांग्रेस सरकार और सोनिया गांधी परिवार ने विश्व रिकॉर्ड बनाए देश भर में आंतकवादी, ज़िहादी और माओवादी दिन-दहाड़े बम्ब धमाके करते थे। पाकिस्तान के हमलों का मनमोहन सरकार जवाब नहीं देती थी। सेना के हाथ बांध दिए गए थे। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर देश की छवि धूमिल हो चुकी थी। 

उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनते ही आम देशवासी का आत्मविश्वास बढ़ा समाज के सबसे कमजोर वर्गां के हालत भी सुधार हुआ। जम्मू-कश्मीर को छोड़कर शेष देश में आतंकवादी हमलों की एक भी घटना मोदी सरकार के कार्यकाल में नहीं हुई।  इसमें पठानकोट की घटना के अपवाद है। जम्मू-कश्मीर में मोदी सरकार ने आंतकवादियों को कुचलने के लिए सेना को खुली छूट दी। सेना ने पांच वर्ष के दौरान सैंकड़ो आतंकवादी मार गिराए। उधर पाकिस्तान के कब्ज़े वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक और पाकिस्तान में घुस कर हवाई हमले करके सेना ने आतंकवादियों को मारा। इससे राष्ट्रीय सुरक्षा को पैदा हुए खतरे को कम किया गया और पाकिस्तान को भी सबक मिला। 

कांग्रेस लोकसभा चुनाव में झूठें वायदे करके लोगों को मूर्ख नहीं बना सकती 1947 से लेकर 2014 तक के बीच मुख्य रूप से कांग्रेस की सरकारें रही। उस दौरान न तो गरीबी मिटी और न ही राष्ट्रीय सुरक्षा मजबूत हुई। भारत हमेशा दुश्मनों के सामने गिड़गिड़ाता दिखता था। मोदी के प्रधानमंत्री बनने से विकास, राष्ट्रीय सुरक्षा और भ्रष्टाचार के क्षेत्र में जनता को भारी फर्क महसूस हुआ। इसलिए 19 मई को होने वाले मतदान में भी हिमाचल प्रदेश  से भाजपा के चारों उम्मीदवार पिछले चुनाव की तरह भारी मतों से जीत कर लोकसभा में जाएंगे। उन्होंने कहा जनता नरेन्द्र मोदी को दुबारा प्रधानमंत्री बनाने के लिए संकल्प कर चुकी है। 

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें