ENGLISH HINDI Thursday, April 02, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
मरकज की तब्लीगी जमात से लौटे छह नागरिकों की पहचान: डीसी सोशल डिस्टेंसिंग से ही बचा जा सकता है कोरोना सेनेतागिरी चमका रहे राजसी नेताओं पर नहीं कसा जा रहा शिकंजाकोविड-19 से लड़ने में युद्ध स्तर पर जुटे सीएसआईआर के वैज्ञानिकराष्ट्रपति करेंगे राज्यपालों, लेफ्टिनेंट गवर्नरों एवं राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेश प्रशासकों के साथ कोविड-19 पर चर्चादेश के 410 जिलों में कराया गया राष्‍ट्रीय कोरोना सर्वेक्षण जारीलक्ष्य ज्योतिष संस्थान ने जरूरतमन्द लोगों में भोजन बांटालॉक डाउन: डोर टू डोर गार्बेज कलेक्टर यूनियन ने प्रधानमंत्री को समस्याओं और मांगों से ट्वीट कर करवाया अवगत
हिमाचल प्रदेश

बंजार विधानसभा क्षेत्र में सुनाई दी मैगा नाटी की गूंज

May 06, 2019 06:56 PM

कुल्लू, विजयेन्दर शर्मा:
कुल्लू जिले में इस बार के लोकसभा चुनाव में अधिक से अधिक मतदान हो, इसके लिए जिला निर्वाचन अधिकारी यूनुस कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहते। इसका जीवंत उदाहरण आज बजांर विधानसभा क्षेत्र के सैंज मेले के दौरान देखने को मिला, जहां बंजार क्षेत्र की लगभग 2200 महिलाओं ने रंग-बिरंगी स्थानीय पोशाक में सुसज्जित होकर मैगा नाटी का प्रदर्शन किया। लोकसभा चुनाव के दृष्टिगत जिला और उपमण्डल स्तर पर गठित स्वीप टीम के सहयोग से मैगा नाटी का आयोजन किया गया। ढोल की थाप पर नाटी की गूंज मानो समूचे बंजार क्षेत्र में सुनाई दी। महिलाओं ने अपने हाथों में मतदाता फोटो पहचान पत्र लिए थे।
उपायुक्त यूनुस ने की मेले की अध्यक्षता
लक्ष्मी नारायण देवता के सम्मान में आयोजित किए जाने वाले बंजार घाटी के प्रसिद्व जिला स्तरीय सैंज मेले की अध्यक्षता उपायुक्त यूनुस ने की। उन्होंने इस अवसर पर बड़ी तादाद में हर आयुवर्ग की महिलाओं को मतदान का महत्व बताया और आगामी लोकसभा चुनाव में अपने-अपने घर-परिवार से सौ फीसदी मतदाता सदस्यों का वोट सुनिश्चित करवाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए आवश्यक है कि चुनाव जैसे महापर्व में प्रत्येक नागरिक अपने मतदान के रूप में आहूति डाले। यह हमारा दायित्व भी है और समाज के प्रति योगदान भी। उन्होंने कहा कि लोगों की देवी-देवताओं पर अपार श्रद्धा है और हमारी इतनी ही आस्था अपने लोकतंत्र में भी होनी चाहिए।
महिलाओं के इस शो का उद्देश्य जिला विशेषकर बंजार विधानसभा क्षेत्र में घर-घर तक मतदान के महत्व तथा 19 मई को आवश्यक रूप से मतदान करने का संदेश पहंुचाना था। संदेश का असर बखूबी दिखा भी, जब आधी आबादी ने एक सुनियोजित और सुव्यवस्थित तरीके से जिले के प्रसिद्ध वाद्य यंत्रों की धुन और मतदान पर स्थानीय बोली में तैयार किए गए गीत पर एक साथ नाटी गायन पर गुनगुनाते मधुर स्वरों में झूम-झूम कर नृत्य किया। मन में मतदान करने की सोच तथा दूसरों को भी प्रेरित करने की ठान कर आई ये महिलाएं मानो देश के लोकतंत्र की मजबूती के लिए कुछ भी कर गुजरने को तत्पर हैं।
महिला सशक्तिकरण को भी उजागर करती दिखी मैगा नाटी
बंजार विधानसभा क्षेत्र के कोने-कोने से महिलाओं ने पूरे उल्लास और खुले मन के साथ मैगा शो में भाग लिया। यूनुस ने कहा कि महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना भी नाटी का उद्देश्य था। महिलाओं का विभिन्न भागों से एकत्र होना और परस्पर मेल-जोल उनमें सौहार्द और सद्भाव को मजबूत करता है, वहीं मनोबल को भी बढ़ाता है। सशक्त नारी लोकतंत्र की मजबूती की स्तम्भ बनती हैं। उन्होंने कहा कि नारी का घर-परिवार में बेहद प्रभावशाली वर्चस्व है और ऐसे में उनका संदेश भी सर्वमान्य हाना स्वाभाविक है।
मेले की बहुआयामी गतिविधियां आकर्षित करती हैं जन-मानस को
यूनुस ने कहा कि सैंज मेला क्षेत्र का काफी लोकप्रिय मेला है और इसका अंदाजा यहां उमड़े हुजूम को देखकर हो जाता है। उन्होंने मेले में आए सभी लोगों को मतदान का महत्व बताया और वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि स्थानीय मेला समिति ने मेले को आकर्षक बनाने के लिए अनेक गतिविधियों को इसमें जोड़ा है जो लोगों को सहसा ही काफी पसंद आ रही हैं। सांस्कृतिक संध्याएं मेले की आत्मा हैं और यह देखकर खुशी होती है कि इनमें स्थानीय व उभरते कलाकारों को एक मंच मिल रहा है। क्षेत्र के लगभग सभी कलाकारों को अपनी प्रस्तुतियां देने का मौका दिया गया है। इसके लिए स्थानीय प्रशासन एवं मेला समिति की उन्होंने भरपूर प्रसंशा भी की।
जिला निर्वाचन अधिकारी यूनुस ने बताया कि ‘आसारा वोट, आसारा अधिकार’ के प्रभावी संदेश के लिए कुल्लू के ढालपुर में आगामी 8 मई को जिलाभर से लगभग 5200 महिलाएं अपनी लोकतंत्र की मजबूती के लिए भागीदारी करेंगी। मैगा डांस की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। उन्होंने कहा कि जिला के प्रत्येक घर तक मतदान का संदेश जाए, इसके लिए जिला के चारों विधानसभा क्षेत्रों में इसी प्रकार के मैगा शो आयोजित किये जा रहे हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
मरकज की तब्लीगी जमात से लौटे छह नागरिकों की पहचान: डीसी सोशल डिस्टेंसिंग से ही बचा जा सकता है कोरोना से सामाजिक दूरी को बनाए रखने में ई-पास मेकेनिज्म होगा सहायकः मुख्यमंत्री गैर पंजीकृत प्रवासी मजदूरों को पंजीकृत कर प्रदान किए जाएं पहचान पत्रः राज्यपाल औद्योगिक घरानों को संचालन शुरू करने के लिए सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी: मुख्यमंत्री हिमाचल भवन में वर्ग विशेष को ठहराने का समाचार तथ्यहीन और भ्रामक 14 अप्रैल तक बंद रहेंगे सरकारी कार्यालय और शैक्षणिक संस्थान: मुख्यमंत्री मरकज की तबलीगी जमात से लौटे नागरिकों की तुरंत दे सूचना: डीसी कोविड-19 सोलीडेरिटी रिस्पांस फंड हेतु मुख्यमंत्री को चैक भेंट किए महामारी के कठिन समय में सरकार के साथ खड़े हों, दलगत राजनीति से उठकर कार्य करें