ENGLISH HINDI Saturday, September 21, 2019
Follow us on
 
हरियाणा

व्हाट्सएप टविटर पर झूठे व तोड़-मरोड़ कर भेजे जाने वाले वीडियो व संदेश निगरानी

May 07, 2019 11:18 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजीव रंजन ने सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों को सोशल मीडिया जैसे कि व्हाट्सएप टविटर पर झूठे एवं तोड़-मरोड़ कर पेश किए जाने वाले तथा अन्य माध्यमों से मिलने वाले वीडियो, संदेश या किसी भी प्रकार की शिकायत पर, विशेषकर 12 मई को मतदान वाले दिन, निगरानी रखने के लिए समर्पित टीमों का गठन करने के निर्देश दिए हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी इन वीडियो, संदेश या किसी भी प्रकार की शिकायत की जांच-पड़ताल करने के बाद इसकी रिपोर्ट दो घंटे के भीतर भेजना सुनिश्चित करेंगे।
श्री रंजन ने यह निर्देश आज यहां राज्य के सभी जिलों के निर्वाचन अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान दिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि ऐसे वीडियो, संदेश या किसी भी प्रकार की शिकायत की स्वयं जांच-पड़ताल करेंगे। उन्होंने कहा कि अधिकतर लोग टविटर और व्हाट्सएप पर वीडियो अपलोड करते हैं। उन्होंने कहा कि छठे चरण में पश्चिम बंगाल के सिवाय मतदान सभी हिन्दी भाषा का प्रयोग करने वाले राज्यों में होगा। इसलिए वीडियो के स्थान का पता लगाना मुश्किल होगा। उन्होंने सभी जिलों के निर्वाचन अधिकारियों को इन वीडियो के सही या गलत होने की जांच करने के लिए अलग-अलग टीमें गठित करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि अधिकारी चुनाव आयोग के टोल फ्री नम्बर 1950 पर 24 घंटे आने वाली समस्या एवं शिकायत का निपटान करने के लिए पर्याप्त स्टाफ का प्रबन्ध करें। इसके अलावा मॉडल पोलिंग स्टेशन, अन्तर्राष्ट्रीय आगंतुकों, महिला पोलिंग स्टेशन, असहाय लोगों की सहायता तथा दुल्हा-दुल्हनों की वोटिंग सहित सभी प्रकार की उत्कृष्ट फोटो तथा किसी मतदान केन्द्र के बदलाव की जानकारी चुनाव आयोग को उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। इसके अलावा मतदान केन्द्रों पर बिजली, पानी, दवाइयों सहित अन्य सभी प्रकार की आकस्मिक जरूरतों को भी पूरा करने के निर्देश दिए।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि चंडीगढ़ व आसपास के क्षेत्रों में चुनाव ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों को चाहिए कि वे अपने पोस्टल बैलेट के लिए ऑनलाईन आवेदन करें ताकि उनके बैलेट को समय पर उनके लोकसभा क्षेत्र तक पहुंचाया जा सके। उन्होंने कहा कि इनके अतिरिक्त किसी स्थान विशेष पर चुनाव प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे ऐसे कर्मचारी उसी स्थान पर अपना बैलेट जमा करवा सकते हैं जहां उनको प्रशिक्षण दिया जा रहा है, वह भी उनके लोकसभा क्षेत्र में भेज दिया जाएगा। इसके अलावा ओबर्जवर के चालक, स्टॉफ, पुलिस व अन्य कर्मचारियों को भी तुरन्त पोस्टल बैलेट पेपर उपलब्ध करवाना चाहिए ताकि अधिक से अधिक वोटिंग प्रतिशत हो सके।
श्री रंजन ने कहा कि आयोग ने एक नया सॉफ्टवेयर ‘नई सुविधा’ तैयार किया है, जिस पर पोलिंग डे पर प्रत्येक 2 घंटे बाद वोटर टर्न ऑऊट को अपडेट करना होगा। इसके अलावा सभी सहायक रिटर्निंग अधिकारियों को सांय सात बजे तक महिला, पुरूष तथा ट्रांसजेंडर की कुल वोटिंग की रिपोर्ट भेजनी होगी। इसके साथ ही 9 व 10 मई को निर्धारित पोलिंग स्टेशन पर ‘ड्राई ट्रायल रन’ किया जाएगा तथा सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों को सीजर रिपोर्ट, ईवीएम की रिपोर्ट तथा 29 तथा 70 बिंदुओं की रिपोर्ट भेजनी होगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें