ENGLISH HINDI Tuesday, June 18, 2019
Follow us on
पंजाब

डेराबस्सी में शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव संपन्न, करीब 70 फीसदी मतदाताओं ने की वोटिंग

May 19, 2019 09:42 PM

जीरकपुर, डेराबस्सी, जेएस कलेर, पिंकी सैनी

लोकसभा हलका पटियाला के अधीन पड़ते हलका डेराबस्सी के 2 लाख 58 हजार 622 वोटर्स में से 70 प्रतिशत मतदाओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। डेराबस्सी में राज्यभर में सबसे ज्यादा 16 हजार नए वोटर्स ने पहली बार वोट किया।

 
 
 
 
 सब डिवीजन डेराबस्सी क्षेत्र से मतदान शांतिपूर्ण तरीके से संपन्‍न हुआ। कुल 70 फीसदी के करीब मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया जो कि 2014 की तुलना में 2 प्रतिशत के करीब कम है। जीरकपुर के लोगों ने भी इस चुनाव में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया और शहर के कई बूथों पर सुबह 6 बजे से ही लोगों ने लाइनों में लग्न शुरू कर दिया था। जीरकपुर के 84 मतदान केंद्रों में से ज्यादातर पर ठीक 7 बजे मतदान चुरू कर दिया गया था। इस दौरान चुनाव आयोग ने सभी बूथों पर पहले की अपेक्षा बढ़िया इंतजाम किए गए थे जिसकी लोगों ने खूब सराहना की। पहली बार वोटिंग करने आए 18 साल के वोटर्स को प्रशासन ने वशेष सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया। पोलिंग बूथ्स पर पाइन के पानी, छाया के लिए तंबू व दिव्यांगों के लिए वीलचेयर की व्यवस्था की गई थी।
ईवीएम से प्रभावित हुआ मतदान
जीरकपुर के छत गांव के बूथ नंबर 111, 112 में सुबह अचानक मशीन की गड़बड़ी के कारण करीब एक घँटा मतदान प्रभावित इलेक्शन कमीशन से अधिकारियों के आने पर मशीन को सही करके मतदान शुरू किया गया, वहीं ढकोली के बूथ संख्या 37 में सुबह से ही ईवीएम खराब रही। 8 बजे के करीब बनी तब मतदान शुरू हो सका।
वयोवृद्धों से लेकर नए वोटर्स में दिख जोश
जीरकपुर में सबसे वृद्ध महिला 105 साल की सत्य देवी ने बलटाना में अपनी मत के अधिकार का प्रयोग किया वहीं गांव पभात में 103 साल की करतार कौर ने अपनी वोट पभात पोलिंग बूथ नंबर 74 में डाली। इस दौरान दिव्यांगों ने भी वोट के महाकुंभ में अपना पूरा सहयोग दिया वहीं कतारों में खड़े लोगों ने भी दिव्यांगों और वृधो को वोट डालने के लिए जगह दी। विधायक एनके शर्मा व मोहाली जिले के कांग्रेस प्रधान दीपिन्दर ढिल्लों ने सपरिवार अपनी वोट लोहगढ़ गांव के पोलिंग बूथ पर दी।
प्राइवेट और सरकारी स्कूलों में चुनाव के दौरान विद्यार्थियों ने लोगों की खूब मदद की और चुनाव की महत्वता को समझा। बच्चों ने वोट डालने आए लोगों को पानी पिलाने से लेकर हर चीज के लिए गाइड किया। वहीं बच्चे बुजुर्गों और विकलांगों को व्हीलचेयर पर बैठाकर लेजाते और छोड़ते दिखाई दिए तो वहीं कुछ छात्र बुजुर्गों के लिए छाता तान कर छाया करते दिखे ।

एमडीएम कम चुनाव अधिकारी पूजा सियाल ने कहा कि पूरी सब डिवीजन में चुनाव के दौरान शांति बनी रही। कहीं भी कोई अप्रिय घटना देखने को नही मिली। देर शाम तक 70 प्रतिशत वोटिंग हो गई थी । प्रबंधों की कमी बारे  कहा कि काफी बूथ व खुद दौरा कर आए थे जहां प्रबंध तसल्लीबख्श थे। यदि किसी जगह कमी रह गई थी उसकी जांच की जाएगी।  

वोटर पर्ची में मई की जगह जनवरी महीना छापा  
लोक सभा चुनाव के दौरान चुनाव अमले की ओर से वोटर पर्चियों में भारी लापरवाही बरती गई। वोटर पर्ची में वोट डालने वाले दिन में 19 तारीख व मई महीने की जगह जनवरी महीना डाला गया। इसके अलावा वोट को ठीक करने वाले डेट में भी मई की जगह जनवरी का महीना छापा गया।
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
बस स्टैंड के अंदर बसे न जाने से लोग परेशान सड़क के बीच बना गढ्ढा राहगीरों के लिए परेशानी अवैध निर्माण ने बिगाड़ी जीरकपुर शहर की सूरत जीरकपुर.पटियाला सड़क पर हादसे में एक ही परिवार के छह सदस्य घायल हाईवे पर ट्रक डिवाईडर पर चढ़ा तो लगा दो घंटे जाम ओएलएक्स पर लगातार हो रहीं है ठगी की वारदातें, फ्रिज की खरीद के नाम पर बैंक खाते से निकाले 48 हजार 4000 किलो प्लास्टिक के लिफ़ाफ़े किये ज़ब्त खाना-जंगी में बे-वजह 'झटके' झेल रहे हैं लोग: चीमा स्कूलों परिसर में वर्दियां और किताबों की बिक्री पर रोक कला व साहित्य प्रेमियों को श्री गुरु नानक देव जी के 550वें गुरूपर्व समारोहों में शामिल होने का न्यौता