ENGLISH HINDI Sunday, January 19, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
प्रधानमंत्री जनकल्याणकारी योजना प्रचार प्रसार अभियान चंडीगढ़ संगठन ने अरुण सूद से मुलाकात कर दी बधाई छुप छुप कर किए थियेटर से हासिल किया मुकाम : मनु सिंहपरीक्षा पे चर्चा: पीएम मोदी से 60 से ज्यादा बच्चे पूछेंगे सवालएडवाकेट गुरदयाल शर्मा के सुपुत्र विनय शर्मा की रस्म पगड़ी 24 जनवरी कोद लास्ट बेंचर्स ने गरीब बच्चों के साथ धूमधाम से मनाया लोहड़ी का त्यौहार: बच्चों को बांटे गर्म वस्त्र, कम्बल और गिफ्ट्सविश्व हिंदू परिषद पंजाब की तरफ से पंजाब के माननीय राज्यपाल को दिया ज्ञापन1652 होमगार्ड जवानों की होगी भर्ती26 को राज्यपाल अंबाला में, मुख्यमंत्री जींद में फहराऐंगे राष्ट्रीय ध्वज
राष्ट्रीय

फगवाड़ा के वायरल वीडियो सम्बन्धी सी.ई.ओ. द्वारा स्थिति

May 21, 2019 09:49 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
मुख्य चुनाव अधिकारी पंजाब डा. एस. करुणा राजू ने फगवाड़ा के वायरल वीडियो सम्बन्धी स्थिति स्पष्ट करने के लिए एक प्रेस बयान जारी करते हुए कहा कि उक्त मामले में कुछ भी गलत या नियमों से उलट नहीं हुआ है।
उन्होंने बताया कि वायरल वीडियो के द्वारा प्रचार किया जा रहा था कि एक व्यक्ति वोट वाले दिन ई.वी.एम. मशीनें लेकर फगवाड़ा के सीनियर सेकेंडरी स्कूल भाणोके के नज़दीक घूम रहा है। इस सम्बन्धी जांच करवाने पर पाया गया कि उक्त व्यक्ति बी.डी.पी.ओ. कार्यालय फगवाड़ा से बलविन्दर कुमार ए.ई. है जो कि रिटर्निंग अफ़सर होशियारपुर द्वारा सैक्टर-4 का इंचार्ज लगाया गया है और उसके अधीन 9 पोलिंग स्टेशन थे।
डा. राजू ने बताया कि बलविन्दर कुमार को जी.पी.एस. (लोकेशन जानने वाला यंत्र) लगी गाड़ी के द्वारा इस सैक्टर अधीन आते 9 बूथों में यदि कोई ई.वी.एम. मशीन खऱाब होती है तो उनको बदलने के लिए 2 कम्पलीट सैट ई.वी.एम. मशीनों के दिए गए थे और जिस गाड़ी में यह मशीनें रखी गई थीं उसमें वीडियोग्राफर मनीष कुमार भी बैठा हुआ था।
उन्होंने कहा कि मौके पर उपस्थित लोगों की तसल्ली करवाने के लिए कुछ प्रमुख व्यक्तियों को डिसपैच सैंटर गुरू नानक कॉलेज सुखचैनआणा साहिब में ले जाकर और मीडिया की हाजिऱी में दिखाया गया कि इस मशीन पर रिज़र्व लिखा हुआ भी स्पष्ट दिखता है और मशीन को ऑन करके दिखाया गया है कि उसे किसी भी तरह नहीं इस्तेमाल किया गया है।
डा. राजू ने बताया कि इसी तरह एक वीडियो जालंधर का भी वायरल हुआ है जिसमें कहा गया है कि कुछ व्यक्ति लैपटॉप लेकर काऊंटिंग सैंटर के अंदर गए हैं।
उन्होंने बताया कि उक्त मामले की जांच में सामने आया कि उक्त व्यक्ति काऊंटिंग स्टाफ के मैंबर थे जो कि काऊंटिंग स्टाफ को दिए जा रहे प्रशिक्षण में भाग लेने आए थे। डा. राजू ने लोगों से अपील की कि सोशल मीडिया के द्वारा गलत सूचनाएँ न फैलाएं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
क्या मुस्लिम महिलाएँ और बच्चे अब विपक्ष का नया हथियार हैं? बीएमटीसी की प्रबंध निदेशक ने चलाई वाल्वो बस, कहीं प्रशंसा तो कहीं आलोचना जांच के दायरे में करीब 20 हजार लोग, दिल्ली पुलिस कर रही है पड़ताल भारत लहराएगा दुनिया में 5जी इंटरनेट का परचम, इसरो ने ताकतवर संचार उपग्रह किया लॉन्च जनगणना कार्य के लिए प्रारंभिक तैयारियां आरम्भः मुख्य सचिव जल होगा तो सब होगा: स्वामी चिदानन्द सरस्वती चिकित्सक को चिकित्सा ज्ञान के साथ व्यवहार कुशल होना भी जरुरी: प्रो. कांत फरवरी से अयोध्या में दुनिया का सर्वश्रेष्ठ 100008 कुंडीय श्री सीताराम महायज्ञ नागरिकता संशोधन विधेयक किसी के भी विरोध में नहीं: स्वामी चिदानन्द सरस्वती गंगा नदी पर अवैध प्लेटफ़ार्म बनाने के विरोध में नगर आयुक्त को ज्ञापन